दिल्ली में सांस लेना हुआ मुश्किल! बेहद खराब श्रेणी में पहुंची एयर क्वालिटी, राजपथ पर हल्की धुंध

दिल्ली सरकार की तरफ से एक ग्रीन वॉररूम तैयार किया गया है, ताकि प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए कदम उठाए जा सकें. (फाइल फोटो)
दिल्ली सरकार की तरफ से एक ग्रीन वॉररूम तैयार किया गया है, ताकि प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए कदम उठाए जा सकें. (फाइल फोटो)

सफर (Safar) के मुताबिक , अगले कुछ दिनों में दिल्ली में प्रदूषण और बढ़ सकता है. ऐसे में कोरोना महामारी के बीच उन लोगों के लिये ज़्यादा दिक्कत है जो पहले से ही सांस लेने जैसे परेशानी से जूझ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 11, 2020, 10:35 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) में प्रदूषण (Pollution) का स्तर एक बार फिर से धीरे-धीरे खराब होता हुआ नजर आ रहा है. प्रदूषण पर नजर रखने वाली ऐप सफर के मुताबिक, रविवार को सुबह के वक्त ही दिल्ली में पीएम 2.5 का लेवल 215 पर पहुंच गया, जो कि खराब श्रेणी में आता है. इसकी वजह से दिल्ली में इंडिया गेट (India Gate) के पास और राजपथ पर हल्की धुंध भी नजर आ रही है. सफर (Safar) के मुताबिक, अगले कुछ दिनों में दिल्ली में प्रदूषण और बढ़ सकता है. ऐसे में कोरोना महामारी के बीच उन लोगों के लिए ज्यादा दिक्कत है जो पहले से ही सांस लेने जैसे परेशानी से जूझ रहे हैं. हालांकि, दिल्ली सरकार की तरफ से एक ग्रीन वॉररूम तैयार किया गया है, ताकि प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए कदम उठाए जा सकें.

वहीं, इससे पहले 5 अक्टूबर को खबर सामने आई थी कि देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सोमवार सुबह वायु गुणवत्ता (Air quality) ‘मध्यम’ श्रेणी में दर्ज की गई. तब अगले दो दिन तक इसके इसी श्रेणी में बने रहने की संभावना जताई गई थी. तब पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान प्रणाली (सफर) ने कहा था कि वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) मंगलवार और बुधवार को भी ‘‘मध्यम’’ श्रेणी में बना रहेगा. उसने कहा कि तेज रफ्तार हवाएं प्रदूषक तत्वों को जमा नहीं होने दे रहीं.

सोमवार सुबह दस बजे एक्यूआई 169 दर्ज किया गया था
शहर में सोमवार सुबह दस बजे एक्यूआई 169 दर्ज किया गया था जो ‘‘मध्यम’’ श्रेणी में आता है. रविवार को 24 घंटे का औसत एक्यूआई 184 दर्ज किया गया था. उल्लेखनीय है कि 0 से 50 के बीच एक्यूआई को 'अच्छा', 51 से 100 के बीच 'संतोषजनक', 101 से 200 के बीच 'मध्यम', 201 से 300 के बीच 'खराब', 301 से 400 के बीच 'बहुत खराब' और 401 से 500 के बीच 'गंभीर' माना जाता है. इससे पहले सफर ने कहा था कि हवा की गुणवत्ता के सोमवार को खराब होने की आशंका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज