बड़ी खबर! दिल्‍ली के तीनों बस अड्डों से सेवा शुरू, यात्रा से पहले जान लें जरूरी बातें

तीनों बस अड्डाेे पर आज से बस सेवा शुरु कर दी गई है.
तीनों बस अड्डाेे पर आज से बस सेवा शुरु कर दी गई है.

रोडवेज (Roadways) के अधिकारियों का कहना है कि हालात सामान्य होने पर ही बसें 100 फीसदी चलाई जाएंगी. एंट्री के लिए भी शर्तें निर्धारित की गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2020, 11:26 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली में मंगलवार से इंटरस्टेट बस सर्विस (Bus Service) शुरू हो गई है. आनंद विहार (Anand Vihar), सराय काले खां और कश्मीरी गेट से दूसरे राज्यों के लिए बसें चलने लगी हैं. कोरोना महामारी और लॉकडाउन (Lockdown) के चलते बस सेवा को रोक दिया गया था, लेकिन अब त्योहारी सीजन और यात्रियों की सुविधा को देखते हुए फिर से इसे शुरू कर दिया गया है. हालांकि, रोडवेज (Roadways) के अधिकारियों का कहना है कि अभी पूरी क्षमता के साथ बसों को नहीं चलाया जाएगा.

आईएसबीटी (आनंद विहार) में उत्तराखंड डिपो मैनेजर भूपिंदर सिंह कोहली ने बताया कि यहां से यूपी और उत्तराखंड के लिए बसें चलती हैं. अभी सिर्फ 50 फीसदी बस चलाने की ही अनुमति मिली है, लेकिन बसों में एंट्री देने से पहले यात्रियों को मास्क पहनना होगा. बस अड्डों पर मौजूद थर्मल स्क्रीनिंग करानी होगी. दो लोगों के बीच डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. अगर कोई ऐसा नहीं करता है, तो उसे बस में एंट्री नहीं दी जाएगी.

यह भी पढ़ें- अलीबाबा को पीछे छोड़ 2021 में Bharat e commerce बन सकता है दुनिया का सबसे बड़ा e commerce पोर्टल



दूसरे राज्यों से 3.5 हज़ार बसें आती हैं दिल्ली
करीब 7 महीने बाद 3 नवंबर से दिल्ली में इंटरस्टेट बस सेवा शुरू हो रही है. आनंद विहार बस अड्डे से यूपी और उत्तराखण्ड जाने वाली बसों को सैनिटाइज किया जा रहा है. इसके साथ ही बस अड्डे को भी सैनिटाइज किया जा रहा है. अन्य राज्यों से 3467 बसें दिल्ली के तीनों आईएसबीटी पर आती हैं. इसमें से कश्मीरी गेट पर 1636, आनंद विहार पर 1210 और सराय काले खां पर 621 बसे आती हैं. इसमें करीब 1500 बसें उत्तर प्रदेश, 750 बसें हरियाणा और करीब 300 बसें उत्तराखंड सरकार द्वारा चलाई जाती हैं.



बस अड्डे में एंट्री के लिए ऐसे बनाए जा रहे हैं पाइंट
दिल्ली में शुरू हो रही अंतरराज्यीय बस सेवा के लिए सराय काले ख़ाँ बस अड्डे पर भी पूरी तैयारियां की गई हैं. यात्रियों की एंट्री का एक पॉइंट बनाया गया है, यहां से थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही लोग अंदर जा सकते हैं. यहां यह भी चेक किया जा रहा है कि यात्रियों ने मास्क पहना है या नहीं. बसों को एक राउंड के बाद पूरी तरह सैनेटाइज किया जा रहा है. ख़ास तौर पर बसों के उस हिस्से को जहां यात्रियों के हाथ सबसे ज़्यादा लगते हैं सैनेटाइज किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज