Home /News /delhi-ncr /

कोरोना संक्रमण बढ़ने से व्‍यापार हुआ आधा, शादियों के लिए बुकिंग को लेकर परिजन असमंजस में

कोरोना संक्रमण बढ़ने से व्‍यापार हुआ आधा, शादियों के लिए बुकिंग को लेकर परिजन असमंजस में

ग्राहकों से हमेशा भरा रहने वाला इंदिरापुरम में सिंघला स्‍वीट्स का नजारा.

ग्राहकों से हमेशा भरा रहने वाला इंदिरापुरम में सिंघला स्‍वीट्स का नजारा.

Third Wave of Corona: कोरोना की तीसरी लहर की वजह से होटल रेस्‍त्रां से लेकर सर्राफा, बैंक्‍वेट हाल में असर दिखने लगा है. शादियों के लिए की गई बुकिंग को लेकर दूल्‍हा दुल्‍हन के परिजन भी असमंजस में हैं. होटल मालिकों के अनुसार अगर चुनाव में रैलियां होंगी तो शादी समारोह भी होंगे. वहीं सर्राफा कारोबारियों का कहना है कि केवल बुकिंग वाले ग्राहक ही आ रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

गाजियाबाद. कोरोना (corona) संक्रमण बढ़ने से व्‍यापार (business) आधा हो गया है. होटल, रेस्‍त्रां से लेकर सर्राफा, बैंक्‍वेट हाल में असर दिखने लगा है. शादियों के लिए की गई बुकिंग को लेकर दूल्‍हा-दुल्‍हन  के परिजन भी संशय में हैं. होटल मालिकों के अनुसार अगर चुनाव में रैलियां होंगी तो शादी समारोह भी होंगे. वहीं, सर्राफा कारोबारियों का कहना है कि केवल बुकिंग वाले ग्राहक  ही आ रहे हैं. लॉकडाउन (lockdown) की संभावना की वजह से शादियों के वाले घरों के लोग भी अभी खरीदारी नहीं कर रहे हैं.

दिल्‍ली एनसीआर में रेस्‍त्रां चेन सिंघला स्‍वीट्स के मालिक हरीश सिंघला बताते हैं कि कोरोना की दूसरी लहर देख चुके लोग इस बार डर गए हैं. रेस्‍त्रां में 50 फीसदी ही ग्राहक आ रहे हैं. इतना ही नहीं लोग घरों में डिलेवरी भी कम ही मंगा रहे हैं. इस वजह से व्‍यापार पर बहुत फर्क पड़ा है. दिल्‍ली में वीकेंड कर्फ्यू की वजह से फर्क पड़ा है. सामान्‍यत: लोग वीकेंड में परिवार के साथ रेस्‍त्रां में आते थे, वो भी नहीं आ रहे हैंं.

corona news, covid 19 news

रेस्‍त्रां में कोरोना की तीसरी लहर के चलते ग्राहकों की संख्‍या आधी हो गई है.

वहीं, संत ज्‍वैलर्स के मालिक मोहित सोनी बताते हैं कि पहले के मुकाबले 20 से 25 फीसदी ही व्‍यापार रह गया है. जिन घरों में शादियां हैं, उन घरों के लोग इस वजह से खरीदारी नहीं कर रहे हैं कि कहीं लॉकडाउन न लग जाए, और शादी टालनी पड़ जाए. जिन लोगों ने पहले बुकिंग कर रखी है, केवल वहीं डिलेवरी लेने आ रहे हैं. नया ग्राहक कोई भी नहीं आ रहा है.

कपड़ा व्‍यापारी एसोसिएशन के महामंत्री रजनीश बंसल का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर के बाद व्‍यापार में 60 फीसदी तक गिरावट आई है. लोगों में कोरोना का डर है, इस वजह से खरीदारी करने वही लोग ही आ रहे हैं जिनके घरों में शादियां हैं या फिर बहुत जरूरी है, अन्‍यथा लोग बाजार आने में डर रहे हैं.

बैंक्‍वेट हॉल और होटल मालिकों का कहना है कि कोरोना बढ़ने के बाद बुकिंग करा चुके लोगों में डर है कि अगर लॉकडाउन लग गया है तो समारोह कैसे होगा. हालांकि अभी 50 फीसदी क्षमता के समारोह की अनुमति है. होटल मालिक बताते हैं कि अगर जनवरी या फरवरी में शादियां नहीं हो पाएंगी तो लोगों को नवंबर तक इंतजार करना पड़ेगा. क्‍योंकि गर्मियों में शादियां करना लोग कम पसंद करते हैं. इस वजह से संभावना बनी है कि चुनाव में अगर रैलियां होंगी तो शादियां भी होंगी.

Tags: Corona, Hotel, Marriage news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर