• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • चेन स्नेचर गिरोह के 3 सदस्य काबू, 100 से ज्यादा वारदातों को दे चुके हैं अंजाम 

चेन स्नेचर गिरोह के 3 सदस्य काबू, 100 से ज्यादा वारदातों को दे चुके हैं अंजाम 

पुलिस गिरफ्त में आए 3 स्नेचर्स

पुलिस गिरफ्त में आए 3 स्नेचर्स

गुरुग्राम में रैकी करने के बाद इस गिरोह के सभी सदस्य अपने शिकार के लिए दिल्ली से गुरुग्राम आते थे. उसके बाद जिस इलाके को चुना गया था उस इलाके में मोटर साइकिल पर सवार होकर महिलाओं से चेन छिनकर या फिर कोई व्यक्ति अकेले में मिल गया तो उसके साथ बंदूक के बल पर छीनाछपटी करते थे.

  • Share this:
गुरुग्राम पुलिस के लिए चेन स्नेचर्स का एक गैंग कई सालों सिरदर्द बना हुआ था. फिलहाल पुलिस ने चेन स्नेचिंग की वारदातों को अंजाम देने वाले इस गिरोह के मास्टर माइंड समेत दो अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया है कि ये नशे के आदि है और अपने नशे की लत को पूरा करने और अपने शौक पूरे करने के लिए स्नेचिंग की वारदातों को अंजाम देते थे. वारदात के समय ये स्नेचर्स पिस्तौल अपने साथ ही रखते थे. अगर कोई व्यक्ति विरोध करता तो उस पर पिस्तौल तान कर मारने की धमकी देकर झपटमारी करके वहां से भाग जाते थे.

हेरोइन का नशा करते पकड़ा गया युवक, लोगों ने की धुनाई

गुरुग्राम में रैकी करने के बाद इस गिरोह के सभी सदस्य अपने शिकार के लिए दिल्ली से गुरुग्राम आते थे. उसके बाद जिस इलाके को चुना गया था उस इलाके में मोटर साइकिल पर सवार होकर महिलाओं से चेन छिनकर या फिर कोई व्यक्ति अकेले में मिल गया तो उसके साथ बंदूक के बल पर छीनाछपटी करते थे.

नाबालिग लड़की के साथ कार में गैंगरेप, एक आरोपी गिरफ्तार

स्नेचिंग की वारदात को अन्जाम देने के लिए पहले साल 2017 में दिल्ली से एक मोटर साइकिल को चोरी किया था. ये दोनो इसी मोटर साइकिल पर सवार होकर वारदात को अन्जाम देने के लिये गुरुग्राम आते थे और वारदात को अन्जाम देने के बाद मोटर साइकिल को छिपाकर खड़ा कर दिया करते थे.

संजय इस गिरोह का मास्टमाइंड था. संजय 1994 से  अपराध कि दुनिया में सक्रीय है. वहीं इस गिरोह के मास्टमाइंड और दूसरे सदस्य करीब 12 बार जेल भी जा चुके हैं, जिसमें कई मामलों में संजय बेल झम्पर भी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज