Unlock : चुनौतियां अब भी हैं पर कोविड 19 से उबर कर पटरी पर लौटने लगा है होटल कारोबार
Delhi-Ncr News in Hindi

Unlock : चुनौतियां अब भी हैं पर कोविड 19 से उबर कर पटरी पर लौटने लगा है होटल कारोबार
अनलॉक के बाद होटल व्यवसाय अब पटरी पर लौटने लगा है.

जुलाई महीने में दिल्ली के होटल व्यवसायियों को उपलब्ध प्रति कमरे के हिसाब से राजस्व में 44.3 फीसदी की कमी दर्ज की गई है. हालांकि देश के अन्य शहरों की तुलना में राजस्व का कम नुकसान हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 28, 2020, 6:36 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) ने न सिर्फ कल-कारखाने (Factory) और आम जनजीवन को प्रभावित किया, बल्कि इससे पर्यटन (Tourism) क्षेत्र, हॉस्पिटैलिटी (Hospitality) और होटल इंडस्ट्री (Hotel Industry) को भी भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है. एक निजी होटल कंपनी का दावा है कि जुलाई महीने में दिल्ली के होटल व्यवसायियों को उपलब्ध प्रति कमरे के हिसाब से राजस्व (Revenue) में 44.3 फीसदी की कमी दर्ज की गई है. हालांकि कंपनी का यह भी दावा है कि देश के अन्य शहरों की तुलना में राजस्व में कम नुकसान हुआ है.

पटरी पर लौटने लगा है रेवेन्यू ग्रोथ

अनलॉक जैसे-जैसे आगे बढ़ रहा है, होटल व्यवसायियों का बिजनेस भी बढ़ने लगा है. केंद्र और राज्य सरकारें सख्त नियमों में ढील देने लगी हैं. अंतरराष्ट्रीय और घरेलू विमान सेवा शुरू होने से भी होटल इंडस्ट्री का रेवेन्यू ग्रोथ फिर से पटरी पर लौटने लगा है. अप्रैल, मई और जून माह के लॉकडाउन में दिल्ली के कई होटलों को मेडिकल स्टाफ के लिए हाउसिंग सुविधा दी गई तो कई होटलों को क्वारंटाइन प्लेस के तौर पर इस्तेमाल किया गया. इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा के पास एयरोसिटी के कई होटलों को वंदे भारत मिशन के तहत विदेशों से लौटे नागरिकों के लिए क्वारंटाइन करने में इस्तेमाल किया गया. हाल ही में दिल्ली सरकार ने कंटेनमेंट जोन को छोड़कर दूसरे स्थानों पर मौजूद होटलों को नियम और शर्तों के साथ खोलने की इजाजत दे दी है.



त्योहारी और शादी सीजन से होटल व्यवसायियों को उम्मीद
होटल इंडस्ट्री का कहना है कि अब हालात सुधरने लगे हैं. शादियों या सामाजिक कार्यक्रमों के लिए होटल बुकिंग की कॉल ग्राहक करने लगे हैं. गृह मंत्रालय ने अपने दिशानिर्देश में कहा है कि शादी या अन्य फंग्शन में 50 से अधिक की भीड़ नहीं होनी चाहिए. कई होटल मालिकों ने कहा कि नवंबर से शुरू हो रहे शादी लग्न के मद्देनजर होटलों की प्री-बुकिंग शुरू हो गई है. होटिलियर भी बदलते हालात को भांपते हुए खान-पान की शैली में बदलाव कर रहे हैं. बुफे सिस्टम के बदले प्री प्लेट मील, डू इट योर सेल्फ मील जैसे सुविधाओं की पेशकश कर रहे हैं. कोविड 19 संकट के हालात में अपने बिजनेस मॉडल में बदलाव किया है. कई होटलों ने अपने मीटिंग कमरों को शॉर्ट टर्म कॉन्ट्रेक्ट के लिए कॉरपोरेट को-वर्किंग स्पेस या लिजिंग बिजनेस सेंटर के लिए पेशकश कर रहे हैं.

दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का है ये हाल

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है, लेकिन अच्छी बात ये है कि मरीजों के ठीक होने का प्रतिशत भी बढ़ रहा है. अबतक 1,67,604 इस वैश्विक महामारी की चपेट में आए हैं, जिसमें से 1,50,027 लोग ठीक हो चुके हैं. एक दिन में ही 1130 लोग ठीक हो चुके हैं. आंकड़ों पर गौर करें तो 13,208 ही सक्रिय मामले हैं, जिनमें से 6596 मरीज होम आइसोलेशन में हैं. हालांकि एक दिन में मरीजों की संख्या 1840 बढ़ने और 22 लोगों की मौत चिंता का सबब बनी हुई है. अब तक दिल्ली में 4369 लोगों ने अपनी जान गंवाई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज