घरेलू और इंटरनेशनल फ्लाइट पकड़ने से पहले जरूर करें ये काम, वरना आपकी यात्रा पर लग सकता है ग्रहण
Delhi-Ncr News in Hindi

घरेलू और इंटरनेशनल फ्लाइट पकड़ने से पहले जरूर करें ये काम, वरना आपकी यात्रा पर लग सकता है ग्रहण
एयरपोर्ट पर कुछ मामले गैर जमानती धाराओं को तहत दर्ज किए जाते हैं.

दिल्‍ली के इंटरनेशनल एयरपोर्ट (International Airport) के डीसीपी राजीव रंजन ने घरेलू और विदेशी उड़ान के लिए आने वाले यात्रियों से अनुरोध किया है कि एक सुखद यात्रा और शुभ यात्रा करने से पहले वह अपने सामानों की सही तरीके से जांच जरूर कर लें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 9, 2020, 5:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. दिल्ली स्थित इंटरनेशनल एयरपोर्ट (International Airport) पर इस साल के दौरान ही 51 ऐसे मामले दर्ज हो चुके हैं, जिसमें यात्रा करने के लिए जब वो लोग एयरपोर्ट के अंदर प्रवेश करते हैं, तब सामान की चेकिंग के दौरान बैग से जिंदा कारतूस (Cartridges) या हथियार बरामद हुए हैं. हालांकि ऐसे कई मामलों में देखा गया है कि वो लाइसेंस वाले पिस्टल के लिए खरीदे गए कारतूस होते हैं, लेकिन आपकी थोड़ी सी लापरवाही और जल्दबाजी एयरपोर्ट पर परेशानी का सबब बन जाती है, जिसके चलते उस यात्री के खिलाफ मामला भी दर्ज हो जाता है और यात्रा भी कई बार रद्द करनी पड़ जाती है. कुछ मामलो में ऐसा भी देखने को मिला है की गिरफ्तारी भी हो गई, क्योंकि इस तरह के मामले गैर जमानती धाराओं को तहत दर्ज किए जाते हैं.

बहरहाल, आठ सितंबर को गुजरात के सूरत में रहने वाले कलाथिया राजेशभाई के बैग से सीआईएसएफ के जवानों ने जांच के दौरान कुछ कारतूस बरामद किए ,उसके बाद उसको हिरासत में लेने के बाद इस मामले की जानकारी औपचारिक तौर पर दिल्ली पुलिस को दी गई और फिर दिल्ली पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर किया था. हालांकि इस मामले की तफ्तीश और पूछताछ के दौरान इस बात की जानकारी मिली, उसने कारतूस अपने लाइसेंसी पिस्टल के लिए खरीदा था, जो गलती से बैग में रह गया, लेकिन इस मामले की छानबीन के बाद उसे गुजरात जाने दिया गया. इस मामले में आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी और तमाम कानूनी कार्रवाई कल देर रात तक चलती रही. ऐसे मामलों में दिल्ली पुलिस के द्वारा आरोपी शख्स के खिलाफ आरोप पत्र भी दायर किया जाएगा. देश के अंदर एयरपोर्ट की सुरक्षा वयवस्था का जिम्मा सीआईएसएफ के हाथों होता है, जो कि यात्रियों की सुरक्षा व्यवस्था को काफी मजबूती से पालन करती है.

विदेश जाने वाले को करना होता है ये काम
एक बात और महत्वपूर्ण है कि अगर घरेलू उड़ान की यात्रा करने वाला यात्री को जब ऐसे हालत में पकड़ा जाता है तो कागजी तौर पर उसकी गिरफ्तारी और उससे संबंधित तमाम कानूनी प्रावधान के बाद ही उसे जाने दिया जाता है, लेकिन अगर कोई विदेश की यात्रा करने जा रहा हो और उसके बैग या सामान के अंदर कोई लाइसेंसी पिस्टल या कारतूस बरामद होता है तो उसकी गिरफ्तारी होने के बाद कोर्ट से आज्ञा लेने के बाद ही वो यात्री विदेश की यात्रा कर सकता है. जब तक कोर्ट की आदेश उस शख्स के पास नहीं होगा, उसे विदेश नहीं जाने दिया जाएगा. लिहाजा कहा जा सकता है कि देश के बाहर यात्रा करना हो या घरेलू विमान की यात्रा हो, लोग अपना सामान पैक करने से पहले जांच-पड़ताल जरूर कर लें, वरना आपकी यात्रा पर ग्रहण लग सकता है.
एयरपोर्ट के डीसीपी ने कही ये बात


दिल्ली स्थित अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के डीसीपी राजीव रंजन ने भी आम लोगों और यात्रियों से अनुरोध किया है कि एक सुखद यात्रा और शुभ यात्रा करने से पहले अपने सामानों की सही तरीके जांच पड़ताल कर लें, नहीं तो आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. हालांकि इस तरह के कई सतर्कता भरी हिदायतें अक्सर एयरपोर्ट पर एनाउंस ही जाती हैं, जिससे लोगों के अंदर सावधानी बनी रहे. आखिर सावधानी हटी , दुर्घटना बढ़ी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज