Home /News /delhi-ncr /

breaking delhi government will buy 1950 new buses arvind kejriwal cabinet approved nodsp

दिल्ली सरकार खरीदेगी 1950 नई बसें, मुफ्त राशन योजना को 30 सितंबर तक बढ़ाया, पढ़ें कैबिनेट के फैसले

दिल्ली सरकार राजधानी के ट्रांसपोर्ट सेक्टर में करेगी आमूलचूल सुधार.

दिल्ली सरकार राजधानी के ट्रांसपोर्ट सेक्टर में करेगी आमूलचूल सुधार.

Arvind Kejriwal Cabinet Meeting: दिल्ली के ट्रांसपोर्ट सेक्टर को इंटरनेशनल स्टैंडर्ड और आरामदायक बनाने के संकल्प को दिल्ली सरकार पूरा करने का लगातार प्रयास कर रही है. इसी के तहत जल्द ही दिल्ली के लिए 1950 नई बसें खरीदी जाएंगी, जिसे कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. दिल्ली के ट्रांसपोर्ट सेक्टर को इंटरनेशनल स्टैंडर्ड और आरामदायक बनाने के संकल्प को दिल्ली सरकार पूरा करेगी. इसी के तहत जल्द ही दिल्ली के लिए 1950 नई बसें राजधानी की सड़कों पर दौड़ेंगी. इसकी मंजूरी कैबिनेट दे दी हैं. सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके ये जानकारी दी. इसके साथ ही दिल्ली सरकार ने मुफ्त राशन योजना को 30 सितंबर तक बढ़ा दिया है. कैबिनेट ने इसकी भी मंजूरी दे दी है.

अरविंद केजरीवाल ने कहा, ”सबसे बड़ी दिक्कत दिल्ली में बसों की होती थी. अब दिल्ली में इलेक्ट्रिक और एसी बसें खरीदी जा रही हैं. इसी क्रम में दिल्ली कैबिनेट ने 1950 बसों को खरीदने की मंजूरी दी हैं. ये बसें अगस्त सितंबर से आनी शुरू होंगी और अगले सितंबर तक ये सभी बसें आ जाएंगी.”

दिल्ली के ट्रांसपोर्ट को बनाएंगे इंटरनेशनल स्टैंडर्ड का

उन्होंने आगे कहा, ”फिलहाल हमारे पास 7200 बसें हैं, दिल्ली के इतिहास में 7200 बसें कभी नहीं थीं. और 1950 बसें और आ जाएंगी, इसके साथ ही 4800 बसों के लिए फ्रेश टेंडर दिए जा रहे हैं. साथ में दो-तीन साल में कई बसें पुरानी हों जाएंगी और हमें उन्हें रिप्लेस करना पड़ेगा. ये सभी घटा-बढ़ाकर हमारे पास दिसंबर 2024 तक दिल्ली की सड़कों पर 11910 बसें होंगी, दिल्ली को इतनी बसों की जरूरत भी है.

इसके साथ ही अब दिल्ली के ट्रांसपोर्ट सेक्टर को इंटरनेशनल स्टैंडर्ड का बनाया जाए. अलग-अलग साधनों मेट्रो, बसें, ऑटो को एक साथ ही इंटीग्रेट किया जाए, सारे सेक्टर को मॉडर्नाइज किया जाए, जिससे ट्रांसपोर्ट को और आरामदायक बनाया जा सके.

अर्बन फॉर्मिंग को दिया जाएगा बढ़ावा

सीएम केजरीवाल ने कहा, ”हमने बजट में एनाउंस किया था कि अर्बन फॉर्मिंग करेंगे, इसका मतलब, जिन लोगों (अपर, मिडिल और लोवर मिडिल क्लास) के घरों में जगह है, बॉलकनी, छत पर और वह सब्जियां उगाना चाहते हैं तो हम उन्हें ये करना सीखाएंगे. इसे दो सेक्टर में बांटेंगे. एक वह लोग जो अपने घर की जरूरत के लिए उगाएंगे, दूसरे वह लोग जो अपने बिजनेस करने के लिए उगाएंगे. इससे रोजगार भी मिलेगा और सेहतमंद सब्जियां भी मिलेंगी, साथ ही लोगों की बचत भी होगी.”

”इसके लिए हम बड़े लेवल पर एक्सपर्ट हायर कर रहे हैं और इंडियन इंस्टीटयूट एंड एग्रीकल्चर रिसर्च (आईसीएआर) से टाइअप किया गया है, जो सेक्टर वाइज वर्क’ॉप करेंगे. इसे लेकर 400 लोगों को घर पर सब्जी उगाने के लिए और 600 बिजनेस वालों को सिखाने के लिए। इस तरह से हम 1000 करेंगे, जिससे 25000 परिवारों को इसका फायदा होगा.”

विधानसभावार गांवों का होगा विकास

केजरीवाल ने बताया, ”कैबिनेट की बैठक में इस बात पर भी निर्णय लिया गया कि दिल्ली सरकार कोरोना को लेकर फ्री रा’न दे रही थी, इसे अब 30 सितंबर तक बढ़ा दिया गया है. दिल्ली के लोगों को बिलकुल मुफ“त मिलेगा. दिल्ली के गांवों के विकास के लिए एक स्कीम निकाली थी कि हर गांव में दो करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. गांव के लोग बताएंगे, सड़क बना दो, नल लगवा दो, सड़क बना दो. एक विधानसभा के अंदर के गांवों में टोटल बजट को खर्च किया जाएगा, इसमें देखा जाएगा कि किस गांव में जरूरत है. उसके हिसाब से खर्च किया जाएगा.”

Tags: Arvind kejriwal, Delhi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर