Home /News /delhi-ncr /

ऑपरेशन मासूम: चाइल्ड पोर्नोग्राफी को लेकर दिल्ली में 160 केस दर्ज, 97 गिरफ्तार

ऑपरेशन मासूम: चाइल्ड पोर्नोग्राफी को लेकर दिल्ली में 160 केस दर्ज, 97 गिरफ्तार

ऑपरेशन मासूम: चाइल्ड पोनोग्राफी को लेकर दिल्ली में 160 केस दर्ज, 97 गिरफ्तार.

ऑपरेशन मासूम: चाइल्ड पोनोग्राफी को लेकर दिल्ली में 160 केस दर्ज, 97 गिरफ्तार.

Child Pornography cases in Delhi: साइबर क्राइम यूनिट (IFSO), स्पेशल सेल, दिल्ली में नोडल एजेंसी है. आईएफएसओ इकाई में एनसीआरबी से प्राप्त ब्यौरों का विश्लेषण किसी संगठित गठजोड़ की पहचान के उद्देश्य से किया जाता है. वहीं, ऑपरेशन मासूम (Operation Masoom) को दिल्‍ली पुलिस की स्पेशल सेल की साइबर क्राइम यूनिट और सभी जिला पुलिस के सहयोग चलाया जा रहा है. इस ऑपरेशन के दौरान अब तक 97 लोगों की गिरफ्तारियां हो चुकी हैं.

अधिक पढ़ें ...

    दिल्ली. दिल्ली पुलिस ने चाइल्ड पोर्नोग्राफी (Child Pornography) के खिलाफ पैन दिल्ली ऑपरेशन शुरू किया. ऑपरेशन मासूम (Operation Masoom) को स्पेशल सेल की साइबर क्राइम यूनिट और सभी जिला पुलिस के सहयोग चलाया जा रहा है. बाल अश्लील सामग्री से संबंधित उल्लंघनों की जानकारी साइबर क्राइम यूनिट को राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के माध्यम से मिलती है, जिसका राष्ट्रीय गुमशुदा और शोषित बच्चों के केंद्र (एनसीएमईसी) के साथ समझौता है. पैन दिल्ली के आधार पर विभिन्न थानों में 100 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं और अपराधियों के खिलाफ आवश्यक कानूनी कार्रवाई की गई है. इस ऑपरेशन के दौरान अब तक 97 लोगों की गिरफ्तारियां हो चुकी हैं.

    गुम और शोषित बच्चों के लिए राष्ट्रीय केंद्र (NCMEC) एक निजी और गैर-लाभकारी संगठन है. इस संगठन की स्थापना वर्ष 1984 में संयुक्त राष्ट्र कांग्रेस द्वारा की गई थी. संगठन यूएसए में स्थित है. संगठन ने फेसबुक, इंस्टाग्राम और अन्य जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के साथ करार किया है. उन्हें सोशल मीडिया पर जब भी बच्चों के संबंध में कोई अश्लील सामग्री मिलती है तो वो रेड फ्लैग कर देते हैं. वे उस उपयोगकर्ता का आईपी पता विवरण प्राप्त करते हैं जिसने अश्लील सामग्री अपलोड की थी.
    एनसीआरबी (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो) और नेशनल सेंटर फॉर मिसिंग एंड एक्सप्लॉइटेड चिल्ड्रेन (एनसीएमईसी) के बीच एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए. इस समझौता ज्ञापन के तहत, एनसीएमईसी बच्चों के खिलाफ यौन आपत्तिजनक सामग्री के बारे में साइबर टिपलाइन शिकायतें/सूचना एनसीआरबी को प्रदान कर रहा है, जिसे फेसबुक, इंस्टाग्राम आदि जैसे विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर साझा या अपलोड किया जा रहा है.

    इसके लिए एनसीएमईसी इन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के साथ-साथ बड़े पैमाने पर जनता के साथ घनिष्ठ समन्वय में काम करता है. इन शिकायतों को, ऐसी यौन आपत्तिजनक सामग्री को साझा करने/अपलोड करने वाले व्यक्ति के विवरण के साथ, एनसीएमईसी द्वारा एनसीआरबी को भेजा जाता है, जो बाद में इसे राज्य नोडल एजेंसियों के साथ साझा करता है.

    साइबर क्राइम यूनिट (IFSO), स्पेशल सेल, दिल्ली में नोडल एजेंसी है. आईएफएसओ इकाई में, एनसीआरबी से प्राप्त ब्यौरों का विश्लेषण किसी संगठित गठजोड़ की पहचान के उद्देश्य से किया जाता है. आईएफएसओ इकाई ने सभी इनपुट का विश्लेषण किया और संदिग्धों की पहचान की.

    Tags: Crime News, Delhi, Delhi news, Delhi police, Pornography Case

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर