Home /News /delhi-ncr /

बच्चा चोरी मामले में एक दंपति समेत 9 गिरफ्तार, दिल्ली से चुराकर 3-4 लाख में बेचते थे राजस्थान

बच्चा चोरी मामले में एक दंपति समेत 9 गिरफ्तार, दिल्ली से चुराकर 3-4 लाख में बेचते थे राजस्थान

गुरुग्राम पुलिस ने बच्चा चोर 
मामले में अब तक 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जिसमें एक दंपत्ति भी शामिल हैं.

गुरुग्राम पुलिस ने बच्चा चोर मामले में अब तक 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जिसमें एक दंपत्ति भी शामिल हैं.

Gurugram Baccha Chori Case: गुरुग्राम पुलिस ने नवजात बच्चों की चोरी मामले में 9 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने नवजात बच्चों की चोरी मामले में एक दंपति को भी गिरफ्तार किया है. आरोपी दंपति 50 हजार रुपए में अपने जिगर के टुकड़े को बेच दिया था. गुरुग्राम पुलिस ने इससे पहले आरोपियों के कब्ज़े से 2 नवजात बच्चियों को सकुशल बरामद किया था. आरोपी दिल्ली से नवजात बच्चों की चोरी कर राजस्थान में 3 से 4 लाख रुपये में बेच देते थे.

अधिक पढ़ें ...

गुरुग्राम. गुरुग्राम पुलिस ने नवजात बच्चों की चोरी से जुड़े तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद इस मामले में एक दंपति सहित कुल 9 लोगों को गिरफ्तार कर इस सनसनीखेज मामले में पूछताछ शुरू कर दी है. वहीं गुरुग्राम पुलिस की जांच अब राजस्थान तक जा पहुंच गई है. जहां इन बच्चों की खरीद-फरोख्त का काम किया जा रहा था.

पुलिस ने दिल्ली की रहने वाली दो महिलाओं सुरेंदर कौर, नेहा और राजस्थान के रहने वाले हरजिंदर नाम के शख्स को गिरफ्तार कर इनके कब्ज़ा से दो नवजात बच्चियों को सकुशल बरामद किया था. अब पुलिस राजस्थान में यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि इन बच्चियों को किस कार्य मे इस्तेमाल किया जाता था. इस मामले में एसीपी क्राइम की माने तो पुलिस को शक है कि नवजात बच्चों की चोरी और खरीद फरोख्त से जुड़ा यह गैंग 2014 सक्रिय है और दर्जनों नवजात बच्चों की चोरी कर राजस्थान एवम अन्य राज्यों में बेचने के घृणित कार्य करता आ रहा था.

ऐसे हुआ गैंग का खुलासा 

बच्चोंं की चोरी मामले में जांच के दौरान गुरुग्राम पुलिस ने एक ऐसे पति-पत्नी को भी गिरफ्तार किया है, जिहोंने मात्र 50 हजार रुपए के लिए अपने जिगर के टुकड़े को इस गिरोह के सदस्यों को बेच दिया था. पुलिस इस मामले में अब तक कुल 9 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. दरअसल मामले का खुलासा उस समय हुआ था, जब गुरुग्राम के नाथूपुर का रहने वाला उमेश दिल्ली के धौलाकुआं में सवारियों के इंतज़ार में खड़ा था. तभी दो महिलाएं दो नवजात बच्चियों को गोद मे उठाये उसके पास आई थीं. राजस्थान के अलवर जाने के लिए कैब बुक की थी.

बच्चा चोरी गैंग को पुलिस ने ऐसे पकड़ा

पुलिस की माने तो महिलाएं कैब में ही बच्चों की खरीद फेहरोख्त की डील करने में लगी थी, जिसके चलते ड्राइवर को शक हुआ और उसने मौका मिलते ही ड्राइवर ने इसकी सूचना डीएलएफ फेज़ 3 के थाना प्रभारी को दे दी. बस इसके बाद जैसे-जैसे पुलिस टैक्सी ड्राइवर उमेश को गाइड करती गयी वैसे वैसे उमेश करता चला गया था और तीनों बच्चा चोर गिरोह को डीएलएफ फेज़ 3 पुलिस स्टेशन में ले आया जहां गुरुग्राम पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया था.

वहीं पुलिस को शक इस बात का भी है कि दिल्ली के कई अस्पतालों से इन बच्चा चोर गिरोह के तार जुड़े हो सकते है लिहाजा इस मामले की तफ़्तीश अब क्राइम ब्रांच ने अपने हाथों में ले दिल्ली, राजस्थान और अन्य राज्यों में छापेमारी शुरू कर दी है.

Tags: Gurugram crime news, Gurugram Police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर