Home /News /delhi-ncr /

दिसंबर में शुरू होगा बच्‍चों का कोविड वैक्‍सीनेशन, 4-6 करोड़ बीमार बच्‍चों को प्राथमिकता

दिसंबर में शुरू होगा बच्‍चों का कोविड वैक्‍सीनेशन, 4-6 करोड़ बीमार बच्‍चों को प्राथमिकता

दिसंबर में बच्‍चों को कोरोना की वैक्‍सीन लगना शुरू हो सकती है.

दिसंबर में बच्‍चों को कोरोना की वैक्‍सीन लगना शुरू हो सकती है.

डॉ. अरोड़ा कहते हैं कि देश में कुल 44 करोड़ बच्‍चे हैं. जिनमें 12 साल से कम उम्र के बच्‍चों की संख्‍या सबसे ज्‍यादा 32 करोड़ है. वहीं 12 से 17 साल के कुल 12 करोड़ बच्‍चे हैं. सभी बच्‍चों को एकसाथ वैक्‍सीन नहीं दी जाएगी. सबसे पहले गंभीर बीमारियों से जूझ रहे बच्‍चों को कोविड की वैक्‍सीन मिलेगी.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. भारत में व्‍यस्‍कों को कोरोना का टीका देने के साथ ही अब बच्‍चों को भी वैक्‍सीनेटेड करने की तैयारी अपने अंतिम चरण में पहुंच चुकी है. लिहाजा दिसंबर के आखिरी हफ्ते में बच्‍चों के लिए कोविड वैक्‍सीनेशन (Covid 19 Vaccination) शुरू किए जाने की पूरी संभावना है. स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों का कहना है कि इस दौरान 4 से 6 करोड़ बच्‍चों को प्राथमिकता में रखा गया है. ये वे बच्‍चे हैं जो किसी न किसी गंभीर बीमारी से पीड़‍ित हैं.

    इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के कोविड-19 टास्क फोर्स के चेयरमैन डॉ. नरेंद्र कुमार अरोड़ा का कहना है कि देश में टीकाकरण शुरू होने के बाद से सबसे पहले बुजुर्गों, बीमारों और फिर व्‍यस्‍कों पर फोकस किया गया था. इसके बाद से लगातार बच्‍चों के लिए वैक्‍सीन का परीक्षण किया जा रहा था ताकि छोटे बच्‍चों और किशोरों को भी वैक्‍सीनेटेड करके सुरक्षित किया जा सके. भारत में भारत बायोटेक की वैक्‍सीन के अलावा भी कुछ वैक्‍सीन को बच्‍चों के लिए इस्‍तेमाल करने की अनुमति दी जा चुकी है. ऐसे में दिसंबर के आखिरी हफ्ते में भारत में बच्‍चों को कोरोना की वैक्‍सीन लगना शुरू होने की उम्‍मीद है.

    डॉ. अरोड़ा कहते हैं कि देश में कुल 44 करोड़ बच्‍चे हैं. जिनमें 12 साल से कम उम्र के बच्‍चों की संख्‍या सबसे ज्‍यादा 32 करोड़ है. वहीं 12 से 17 साल के कुल 12 करोड़ बच्‍चे हैं. भारत में जायडस कैडिला की जायकोव डी (ZyCoV-D) को इसी आयुवर्ग के बच्‍चों के टीकाकरण के लिए मंजूरी मिली है. वहीं भारत बायोटेक की वैक्‍सीन को 2 से 18 साल के बच्‍चों के लिए इमरजेंसी इस्‍तेमाल की अनुमति मिली है. हालांकि वैक्‍सीनेशन के लिए व्‍यस्‍कों की तरह ही प्राथमिकता सूची तैयार की गई है.

    वे कहते हैं कि भारत में सभी बच्‍चों को एकसाथ वैक्‍सीन नहीं दी जाएगी. सबसे पहले गंभीर बीमारियों से जूझ रहे बच्‍चों को कोविड की वैक्‍सीन मिलेगी. इसके बाद साल 2022 के पहली तिमाही में संभावना जताई जा रही है कि 12 से 17 आयुवर्ग के सभी स्‍वस्‍थ बच्‍चों को भी कोरोना की वैक्‍सीन दी जा सकेगी. इसके बाद छोटे बच्‍चों का नंबर बाद में आएगा. हालांकि 12 करोड़ की इस आबादी को टीका लगने में ज्‍यादा समय नहीं लगेगा.

    Tags: Children, Children Vaccine, Corona vaccine, COVID 19

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर