Home /News /delhi-ncr /

Delhi Crime: सिविल डिफेंस का स्टाफ बना रहा था मर्डर का प्लान, जुगाड़ से जुटाया था हथियार

Delhi Crime: सिविल डिफेंस का स्टाफ बना रहा था मर्डर का प्लान, जुगाड़ से जुटाया था हथियार

Delhi Crime News: दिल्ली में मर्डर की योजना बनाते दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया.

Delhi Crime News: दिल्ली में मर्डर की योजना बनाते दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया.

Delhi Crime News: दिल्ली सिविल डिफेंस के दो कर्मचारियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जिनके पास से देसी कट्टा, पिस्टल और गोलियां बरामद हुई हैं. दोनों आरोपियों में से एक भरत सिविल डिफेंस कर्मचारी है, जो अपने साथी के साथ मिलकर किसी शख्स को ठिकाने लगाने की योजना बना रहा था, लेकिन उसके पहले ही दिल्ली पुलिस ने उसे दबोच लिया. पूछताछ में पता चला कि भरत को पुलिस के जवान जैसा दिखने की चाहत थी, इसके लिए उसने अवैध हथियार का जुगाड़ कर लिया था.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट – अनिल अत्री

    नई दिल्ली. राजधानी में आम लोगों की सुरक्षा के लिए तैनात सिविल डिफेंस का स्टाफ बदमाश निकलेगा, यह कल्पना करना भी मुश्किल है. लेकिन दिल्ली पुलिस ने ऐसे दो अपराधियों का गिरफ्तार किया है, जिनमें से एक सिविल डिफेंस का स्टाफ है. ये दोनों आरोपी किसी शख्स की हत्या करने की योजना बना रहे थे, लेकिन उसके पहले ही दबोच लिए गए. दिल्ली के बाहरी उत्तरी जिला पुलिस के स्पेशल स्टाफ ने जिन दोनों अपराधियों को गिरफ्तार किया है, उनका नाम भरत और राजकुमार बताया गया है. भरत दिल्ली सिविल डिफेंस कर्मचारी है. उसने कोरोनाकाल में दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर स्पेशल ड्यूटी भी की है. वहीं राजकुमार पेशे से ड्राइवर है.

    दिल्ली पुलिस के मुताबिक दोनों ही बदमाश होलंबी कलां के रहने वाले हैं. पुलिस ने इन दोनों के पास से एक देसी कट्टा ,1 जिंदा कारतूस, 1 पिस्टल और 3 जिंदा कारतूस व एक चोरी की बाइक बरामद की है. पूछताछ के दौरान पता चला कि राजकुमार के दोस्त अली का सीताराम नाम के किसी शख्स के साथ पिछले महीने झगड़ा हो गया था. अली ने राजकुमार से मदद मांगी, तो उसने भरत के साथ मिलकर सीताराम की हत्या करने का प्लान बनाया. इस आपराधिक योजना को दोनों जब तक अंजाम दे पाते, उससे पहले ही पुलिस ने उन्हें दबोच लिया.

    भरत ने जुगाड़ से जुटाया हथियार

    गिरफ्तारी के बाद दोनों से पूछताछ में हैरान करने वाली जानकारी सामने आई. भरत ने बताया कि उसकी चाहत थी कि वह पुलिस में जाए, पुलिसवाले की तरह दिखे. इसलिए वह सिविल डिफेंस में काम कर रहा था. दिल्ली सरकार सिविल डिफेंस में काम करने वालों को वर्दी तो देती है, लेकिन हथियार मुहैया नहीं कराती. इसलिए भरत ने निजी स्तर से अवैध हथियार का इंतजाम कर लिया. पुलिस ने उसके पास से इन हथियारों को जब्त कर लिया है.

    पुलिस की सतर्कता

    राजकुमार के दोस्त अली के साथ सीताराम नाम के किसी शख्स का विवाद होने की बात भरत को पता चली. इसके बाद राजकुमार के साथ मिलकर भरत ने भी सीताराम को ठिकाने लगाने की योजना पर काम शुरू कर दिया. दोनों आरोपी अपने मंसूबे को अंजाम तक पहुंचा पाते, लेकिन उससे पहले ही दिल्ली पुलिस की सतर्कता से उनकी हरकत का भांडा फूट गया. पुलिस ने दोनों को मुंगेशपुर के कटेवड़ा मोड़ के पास से धर दबोचा. तलाशी के दौरान दोनों के पास से एक देसी कट्टा, 4 जिंदा कारतूस, 1 पिस्टल और चोरी की बाइक मिली. पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है.

    Tags: Delhi crime story, Delhi police

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर