लोगों से लूटपाट करते थे सिविल डिफेंस वालंटियर, दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

दो सिविल डिफेंस कर्मियों को लूट की घटना को अंजाम देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

दो सिविल डिफेंस कर्मियों को लूट की घटना को अंजाम देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

Delhi Crime News: आउटर नॉर्थ जिले के नरेला इंडस्ट्रियल एरिया थाना पुलिस ने दो सिविल डिफेंस कर्मियों को लूट की घटना को अंजाम देने के आरोप में गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपियों की पहचान आयुष और गौरव के रूप में की गई है. आरोपियों के कब्जे से मोबाइल फोन और वारदात में इस्तेमाल बाइक जब्त की है. पुलिस उनके नेटवर्क का पता लगाने की कोशिश भी कर रही है.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जिलों में भर्ती किए गए सिविल डिफेंस वालंटियर (Civil Defence volunteer) आजकल मारपीट, लूटपाट और जबरन वसूली करने जैसे आरोपों में लगातार सुर्खियों में आ रहे हैं.

ताजा मामला आउटर नॉर्थ जिले (Outer North District) के नरेला इंडस्ट्रियल एरिया (Narela Industrial Area) थाना पुलिस का सामने आया है. जहां दो सिविल डिफेंस कर्मियों को लूट की घटना को अंजाम देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार आरोपियों की पहचान आयुष और गौरव के रूप में की गई है.

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से मोबाइल फोन और वारदात में इस्तेमाल बाइक जब्त की है. आरोपियों से पूछताछ कर उनके नेटवर्क का पता लगाने की कोशिश भी की जा रही है.

डीसीपी राजीव रंजन ने मंगलवार को जानकारी देते हुए बताया कि नरेला इंडस्ट्रियल एरिया थाने में तैनात हेड कांस्टेबल प्रदीप और कांस्टेबल राजेश एमएसपी मॉल के पास बाइक से गश्त कर रहे थे. तभी उनको किसी के चिल्लाने की आवाज सुनाई दी.
पुलिसकर्मी तुरंत घटना स्थल पर पहुंचे, जहां राम कॉलोनी लामपुर में रहने वाले विकास कुमार ने बताया कि वह अपने चाचा हिमांशु के साथ काम से घर लौट रहे थे. तभी बाइक पर दो आरोपी आये. दोनों को रोका, जिसमें से एक ने उसे थप्पड़ मारकर मोबाइल फोन जबरन लूट लिया. जबकि हिमांशु से भी उसका फोन लूटने की कोशिश की. दोनों वारदात के बाद फरार हो गए. पुलिस ने पीड़ितों की आपबीती सुनकर आरोपियों का काफी दूर तक पीछाकर दबोच लिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज