लाइव टीवी

दिल्ली: Air Pollution को कम करने के लिए ऑफिस टाइम बदलने का विचार कर रही केजरीवाल सरकार
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: September 30, 2019, 10:28 PM IST
दिल्ली: Air Pollution को कम करने के लिए ऑफिस टाइम बदलने का विचार कर रही केजरीवाल सरकार
दिल्ली में ट्रैफिक की वजह से गाड़ियों से होने वाले प्रदूषण को कम करने के लिए केजरीवाल सरकार दफ्तरों में कामकाज के घंटों को बदलने के विचार कर रही है.

दिल्ली में ट्रैफिक की वजह से गाड़ियों से होने वाले प्रदूषण को कम करने के लिए केजरीवाल सरकार दफ्तरों में कामकाज के घंटों को बदलने के विचार कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 30, 2019, 10:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने सोमवार को वर्ल्ड रिसोर्स इंस्टीट्यूट (WRI) के सीईओ ओपी अग्रवाल से मुलाकात की और यातायात सुगम करने तथा वायु प्रदूषण कम करने के लिहाज से यहां दफ्तरों में कामकाज के समय को अलग अलग पालियों में बदलने के विषय पर उनसे चर्चा की.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार आने वाले सर्दियों के मौसम के हिसाब से हर संभव कदम उठा रही है जब पराली जलाने के मामले सामने आएंगे और प्रदूषण बढ़ेगा. अग्रवाल, परिवहन और शहरी नीति के मुद्दों पर जाने माने विशेषज्ञ हैं.

दफ्तरों में कामकाज के घंटों को बदलने का विचार
रिपोर्ट्स के अनुसार डब्ल्यूआरआई कई मार्गों पर अनेक तरह के उपाय के लिए दिल्ली सरकार के साथ जुड़ा रहा है. इनमें गाड़ियां चलाने की सम-विषम (ODD-EVEN) योजना के दौरान दफ्तरों के घंटों को बांटने या बदलने का विचार भी शामिल है.



मुख्यमंत्री के हवाले से बयान में कहा गया कि हम यातायात अधिक होने की वजह गाड़ियों से होने वाले प्रदूषण को कम करने के लिए दफ्तरों में कामकाज के घंटों को बदलने के विचार पर काम कर रहे हैं. यह विचार पूरी दुनिया में परखा जा चुका है. सरकार के बयान के अनुसार केजरीवाल ने अग्रवाल को दिल्ली में कामकाज के घंटों को बांटने के तरीकों पर विचार करने के लिए आमंत्रित किया था.



उद्योग संगठनों को भी इस काम में शामिल करने की इच्छा
मुख्यमंत्री ने अग्रवाल से पूछा कि राज्य सरकार, दिल्ली में यातायात सघनता और वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए कामकाज के समय को प्रभावी तरीके से कैसे बांट सकती है? उन्होंने उद्योग संगठनों को भी इस काम में शामिल करने की इच्छा जताई क्योंकि कई औद्योगिक क्षेत्रों में भी इस योजना को लागू किया जा सकता है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में कई जगह ऐसी हैं जहां बुरी तरह जाम लगता है. ये बिंदु ऐसे दफ्तरों पर जाने वाले रास्तों पर हैं जहां हर रोज बड़ी संख्या में लोग आते-जाते हैं. उन्होंने कहा कि हम ऐसे बिंदुओं और मार्गों की पहचान करेंगे और इनका इस्तेमाल करने वालों के लिए कामकाज के समय को अलग अलग बांटने की संभावना पर विचार करेंगे.

चिन्मयानंद के मामले से भटकाने के लिए केजरीवाल को निशाना बना रही BJP: संजय सिंह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 30, 2019, 10:28 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading