लाइव टीवी

दिल्ली में पानी पर सियासत तेज, केजरीवाल ने सैंपल को लेकर रामविलास पासवान पर साधा निशाना

भाषा
Updated: November 21, 2019, 2:25 AM IST
दिल्ली में पानी पर सियासत तेज, केजरीवाल ने सैंपल को लेकर रामविलास पासवान पर साधा निशाना
भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) की रिपोर्ट सामने आने के बाद दिल्ली में पानी पर सियासत तेज हो गई है.

दिल्ली (Delhi) में पानी (Water) की गुणवत्ता की बीआईएस (BIS) रिपोर्ट जारी होने के बाद सियासत तेज हो गई है.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली में दूषित पानी पर सियासत जारी है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने बुधवार को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) पर झूठ फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह दिल्ली (Delhi) में पानी (Water) की गुणवत्ता को लेकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं.

गौरतलब है कि भारतीय मानक ब्यूरो (Bureau of Indian Standards) ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि दिल्ली से लिए गए पानी के सभी 11 नमूने जल की गुणवत्ता मापने वाले 19 मापदंडों पर खरे नहीं उतर पाए और दिल्ली का पानी 21 राज्यों की राजधानियों में से सबसे असुरक्षित है.

केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच आरोप-प्रत्यारोप 
मामले ने धीरे-धीरे इतना तूल पकड़ लिया कि केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच वाकयुद्ध शुरू हो गया. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने तो यह तक कह दिया कि केजरीवाल धृतराष्ट्र की तरह आंख पर पट्टी बांध कर बैठ गए हैं और उन्हें लोगों का दर्द नहीं दिख रहा. वहीं, दिल्ली बीजेपी के प्रमुख मनोज तिवारी ने केजरीवाल को पत्र लिख दावा किया कि लोग शहर में आपूर्ति किए जा रहे जहरीले पानी को पीने से डर रहे हैं और भयभीत हैं.

दूसरी ओर, केजरीवाल ने टीवी चैनलों की कुछ क्लिप साझा की जिसमें एक व्यक्ति मीडिया को बता रहा है कि पेयजल की गुणवत्ता को लेकर उनके यहां कोई दिक्कत नहीं है. यह व्यक्ति उसी इलाके में रहता है, जहां से बीआईएस ने पानी के नमूने इकट्ठे किए थे.

पासवान पर निशाना साधते हुए उन्होंने लिखा, 'सर, आपका कहना है कि आपने इनके यहां से पानी के नमूने लिए और वे नमूने फेल हो गए जबकि इनका कहना है कि आपने इनके यहां से कोई नमूने नहीं लिए. इनका यह भी कहना है कि वह पानी से संतुष्ट हैं. आपने इतना बड़ा झूठ बोला? केंद्रीय मंत्री होकर लोगों के साथ इतना बड़ा धोखा?'

केजरीवाल ने लगाया आरोप, पासवान ने अपनी पार्टी के सदस्य के घर का सैंपल भेजा
Loading...

केजरीवाल ने एक अन्य वीडियो साझा करते हुए लिखा, 'पानी पर झूठ क्यों पासवान जी? जहां से नमूने लेने की बात कही, वहां से नमूने ही नहीं लिए. ये दीपक कुमार है, आपने अपनी लिस्ट में कहा कि इनके यहां से नमूने लिये जबकि इनके यहां से नमूने नहीं लिए गए. अरविंद केजरीवाल को बदनाम करने के लिए इतना झूठ? पानी नहीं, आपकी राजनीति गंदी है.'

वहीं बुराड़ी से आप विधायक संजीव झा ने बीआईएस पर पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी के उपाध्यक्ष की पत्नी के घर से पानी के नमूने लेने का आरोप लगाया. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए केजरीवाल ने लिखा, ‘‘ सत्ता का ऐसा दुरुपयोग देख कर बहुत दुख होता है. अपने ही पार्टी के पदाधिकारी के घर से पानी के नमूने लेते हैं। आपने पूरी दिल्ली की जनता में डर फैला कर बहुत गलत किया है पासवान जी. इस तरह की हरकत एक संवैधानिक पद पर बैठे मंत्री को शोभा नहीं देती.'

पासवान ने दिल्ली और केंद्र की संयुक्त टीम में दिनेश मोहनिया का नाम किया खारिज
इस बीच, रामविलास पासवान ने केजरीवाल को पानी की जांच के वास्ते दिल्ली और केंद्र की संयुक्त टीम के लिए नाम देने के लिए कहा था, जिसके बाद केजरीवाल ने बुधवार को पासवान को पत्र लिखकर दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष दिनेश मोहनिया और सदस्य शलभ कुमार को नामित किया. इसके बाद पासवान ने केजरीवाल को पत्र लिख मोहनिया का नाम खारिज करने की जानकारी दी. उन्होंने कहा, क्योंकि मोहनिया एक ‘‘राजनीतिक शख्स’’ हैं, इसलिए वह एक ऐसे शख्स को नामित करें जिसका राजनीति से कोई नाता ना हो.

ये भी पढ़ें-

दिल्ली की एयर क्वालिटी बेहद खराब हुई, शुक्रवार तक जा सकता है गंभीर श्रेणी में

दिल्ली में महिलाओं से छेड़छाड़ सहित अन्य अपराध घटे: सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 21, 2019, 2:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...