अलपन बंद्योपाध्याय के बहाने केजरीवाल का केंद्र पर हमला, बोले- यह राज्य सरकारों से लड़ने का समय नहीं

अरविंद केजरीवाल ने केंद्र को राज्‍य सरकारों से न लड़ने की नसीहत दी है.

अरविंद केजरीवाल ने केंद्र को राज्‍य सरकारों से न लड़ने की नसीहत दी है.

Alapan Bandyopadhyay News:दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ( CM Arvind Kejriwal) ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव अलपन बंद्योपाध्याय के बहाने केंद्र सरकार पर हमला किया है. उन्‍होंने कहा कि यह समय राज्य सरकारों से लड़ने का नहीं है बल्कि सबके साथ मिलकर कोरोना वायरस से लड़ने का है.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ( CM Arvind Kejriwal) ने कहा कि यह समय राज्य सरकारों से लड़ने का नहीं बल्कि कोरोना वायरस से मिलकर निपटने का है. उन्‍होंने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव अलपन बंद्योपाध्याय (Alapan Bandyopadhyay ) का केन्द्र द्वारा अचानक तबादला करने की खबरों मद्देनजर यह बयान दिया है.

दिल्‍ली के सीएम केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘यह समय राज्य सरकारों से लड़ने का नहीं है, सबके साथ मिलकर कोरोना वायरस से लड़ने का है. यह समय राज्य सरकारों की मदद करने का है, उन्हें टीके उपलब्ध कराने का है. यह सभी राज्य सरकारों को साथ लेकर टीम इंडिया बनकर काम करने का समय है. लड़ाई-झगड़े और राजनीति करने के लिए पूरी ज़िंदगी पड़ी है.'

इस ट्वीट के साथ ही केजरीवाल ने एक खबर भी साझा की, जिसमें लिखा था कि चक्रवात और कोविड-19 के कारण बंद्योपाध्याय बतौर मुख्य सचिव अपनी सेवाएं जारी रख सकते हैं. बता दें कि पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव अलपन बंदोपाध्याय को सेवा विस्तार दिये जाने के मात्र चार दिन बाद केन्द्र ने शुक्रवार रात उनकी सेवाएं मांगी और राज्य सरकार से कहा कि वह अधिकारी को तुरंत कार्यमुक्त करे. पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस ने इस कदम को ‘जबरन प्रतिनियुक्ति’ करार दिया है.

31 मई को सेवानिवृत्त होने वाले थे बंदोपाध्याय, लेकिन...
पश्चिम बंगाल कैडर के 1987 बैच के आईएएस अधिकारी बंदोपाध्याय 60 वर्ष की आयु पूरी करने के बाद 31 मई को सेवानिवृत्त होने वाले थे. हालांकि केन्द्र से मंजूरी के बाद उन्हें तीन महीने का सेवा विस्तार दिया गया था. केन्द्र ने बंद्योपाध्याय को दिल्ली बुलाने का आदेश चक्रवाती तूफान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की बैठक को मुख्यमंत्री द्वारा महज 15 मिनट में निपटाने से उत्पन्न विवाद के कुछ घंटों के बाद दिया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज