दिल्ली में Corona के मामलों पर बोले CM केजरीवाल- बेड की कमी नहीं, दूसरे राज्यों से भी इलाज कराने आ रहे मरीज
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली में Corona के मामलों पर बोले CM केजरीवाल- बेड की कमी नहीं, दूसरे राज्यों से भी इलाज कराने आ रहे मरीज
घर से मास्क पहनकर ही बाहर निकलना है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है. (फाइल फोटो)

शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम केजरीवाल (CM Kejriwal) ने कहा कि हमने तैयारियों का जायज़ा लिया है, चिंता और घबराने की कोई बात नहीं है. स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 5, 2020, 6:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi)  में एक बार फिर से कोरोना वायरस (Corona Virus) के मामले बढ़ने लगे हैं. ऐसे में केंद्र सरकार से लेकर दिल्ली सरकार तक सतर्क हो गई है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) खुद कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर फिर से सक्रिए हो गए हैं. शनिवार को सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के मरीजों के लिए बेडों की कमी नहीं हैं.उनके मुताबिक, दिल्ली में अभी 14 हज़ार बेड्स हैं और 5 हजार बेड्स भरे हैं. इनमें 1600-1700 बाहर के मरीज़ हैं. उन्होंने कहा कि करीब 3300 मरीज़ ही दिल्ली के हैं.

इस दौरान सीएम केजरीवाल ने कहा कि देशभर से दिल्ली के अंदर लोग इलाज करवाने आ रहे हैं. ये खुशी की बात है. हमने व्यवस्था इतनी अच्छी कर दी है और लोग यहां इलाज करवाने आ रहे हैं. ऐसे में यह हमारे लिए गर्व की बात है. सीएम ने कहा कि बेड्स की चिंता करने की कोई बात नहीं है. अगर ज़रूरत पड़ेगी तो उसका भी प्लान बनाया गया है. उन्होंने कहा कि कुछ लोग अभी भी लापरवाही कर रहे हैं. लेकिन उन लोगों को लापरवाही नहीं करनी चाहिए. घर से मास्क पहनकर ही बाहर निकलना है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है. सीएम ने लोगों से टेस्टिंग करवाने की भी अपील की है.





घबराने की कोई बात नहीं है
दरअसल, कोरोना को लेकर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की है. शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम केजरीवाल ने कहा कि हमने तैयारियों का जायज़ा लिया है, चिंता और घबराने की कोई बात नहीं है. स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है, लेकिन लापरवाही का कोई स्कोप नहीं है. उन्होंने कहा कि शुक्रवार को 2914 केस आये हैं और 13 लोगों की मौत भी हुई है. शुक्रवार को डेथ रेट देखें तो 0.4 फीसदी है. इसे जून से तुलना करें तो इतने ही 3000 केस में 66 लोगों की मौत हुई थी. ऐसे में 15 अगस्त से आज तक का  डेटा देखें तो एक फीसदी मृत्यु दर है. सीएम ने कहा कि दिल्ली की स्थिति काफी ठीक है.

हॉस्पिटल में डॉक्टर्स की टीम बनाकर ऑडिट
सीएम केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली के एक-एक हॉस्पिटल में डॉक्टर्स की टीम बनाकर ऑडिट की है और सभी सुविधाओं को ठीक किया गया. सीएम ने माना कि लोग संक्रमित हो रहे हैं, लेकिन जल्दी ठीक हो रहे हैं. दिल्ली में अब तक 87 फीसदी लोग ठीक हो रहे हैं. सीएम ने केस बढ़ने का कारण भी बताया और कहा कि दिल्ली में नंबर क्यों बढ़ रहे हैं, क्योंकि हमने टेस्टिंग बढ़ा दी है. हमने डबल टेस्टिंग करके कोरोना पर हमला किया है. बकौल केजरीवाल, मुझे आंकड़े ठीक नहीं करने हैं, मुझे लोगों की सेहत की चिंता है और इसके लिए ज़्यादा टेस्टिंग करेंगे, ज़्यादा पहचान कर पाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज