वर्ल्ड सिटीज कल्चर फोरम में दिल्ली-भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे सीएम केजरीवाल, लंदन के मेयर से मि‍ला न्योता!

लंदन मेयर ने दिल्ली CM अरविंद केजरीवाल को वर्ल्ड सिटीज कल्चर फोरम में प्रतिनिधित्व करने के लिए न्योता दिया है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को वर्ल्ड सिटीज कल्चर फोरम में दिल्ली का प्रतिनिधित्व करने के लिए न्योता मिया है. सीएम ने कहा कि उनका लक्ष्य संस्कृति के क्षेत्र में दिल्ली को विश्व नेता और कलाकार के अनुकूल शहर में बदलना है. फोरम में दिल्ली और भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे.इस वर्ष की थीम ‘द फ्यूचर ऑफ कल्चर’ है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. लंदन (London) के मेयर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को वर्ल्ड सिटीज कल्चर फोरम (World Cities Culture Forum) में दिल्ली का प्रतिनिधित्व करने के लिए न्योता दिया है. मुख्यमंत्री ने इस निमंत्रण को स्वीकार किया है.

    उन्होंने कहा है कि उनका लक्ष्य संस्कृति के क्षेत्र में दिल्ली को विश्व नेता और कलाकार के अनुकूल शहर में बदलना है. लंदन के मेयर (Mayor) की ओर से मिले निमंत्रण के बाद अब मुख्यमंत्री केजरीवाल वर्ल्ड सिटीज कल्चर फोरम में दिल्ली (Delhi) और भारत (India) का प्रतिनिधित्व करेंगे.

    इस वर्ष की थीम ‘द फ्यूचर ऑफ कल्चर’ है, जो विशेष रूप से पिछले एक वर्ष में लोगों के सामने आई कई विनाशकारी चुनौतियों और कोरोना संकट के मद्देनजर दिल्ली की संस्कृति को एक बार स्थापित करने में अहम भूमिका निभाएगी.

    बताते चलें कि फोरम में लंदन, टोकियो और न्यूयॉर्क समेत दुनिया भर के 40 शहर शामिल हैं जिनमें से सभी संस्कृति और रचनात्मकता के प्रभाव और महत्व को पहचानते हैं. साथ ही, सार्वजनिक नीति व शहरी नियोजन में इन मूल्यों को शामिल करना चाहते हैं.

    संस्कृति के डिप्टी मेयर्स और सदस्य शहरों से संस्कृति के प्रमुखों द्वारा भाग लिया जाने वाला वार्षिक शिखर सम्मेलन, फोरम की गतिविधि के केंद्र में है. दिल्ली विश्व के शहरी संस्कृति रिपोर्ट का भी हिस्सा होगी, जो शहरों में संस्कृति पर सबसे व्यापक वैश्विक डेटासेट है.

    लंदन के मेयर सादिक खान से मिले निमंत्रण पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने कहा कि ‘फ्यूचर आँफ कल्चर’ निश्चित रूप से इस चुनौतीपूर्ण दौर में प्रासंगिक विषय है. जैसा कि अभी दुनिया भर के लोगों ने अलगाव में संघर्ष किया है.

    यह कला और संगीत ही रहा है, जिसने हमें जुड़े रहने और संकट से निपटने में मदद की है. रचनात्मकता और साझाकरण ने लचीलापन के साथ कोविड-19 (COVID-19) से निपटने के लिए उम्मीद और शक्ति प्रदान की है.

    महामारी की दुर्भाग्यपूर्ण परिस्थितियों ने सांस्कृतिक अभ्यास के तरीकों को फिर से स्थापित करने के लिए नई चुनौतियां और संभावनाएं पेश की हैं. जब हम वापसी की ओर बढ़ रहे हैं, कला और संस्कृति जीवन और समाज के पुनर्निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे.

    उन्होंने आगे कहा कि एक ऐतिहासिक राजधानी के रूप में विविध कलाओं और विरासत को अपने आप में समेटे दिल्ली हमारी समृद्ध संस्कृति को बढ़ावा देने और उसे संरक्षित करने में सबसे आगे रही है.

    हमारी सरकार शहर को बेहतर आकार देने और संस्कृति को सकारात्मक रूप से प्रभावित करने के लिए संस्कृति भूमिका निभाने में दृढ़ता से विश्वास करती है. संस्कृति, शहर के लिए दीर्घकालिक स्थायी समाधान खोजने के लिए अहम चाबी होगी.

    दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) कला, संस्कृति और भाषा मंत्री भी हैं और वह कुछ असाधारण पहलों पर काम भी कर रहे हैं. डिप्टी सीएम के नेतृत्व में दिल्ली की कला और संस्कृति टीम राजधानी के सांस्कृतिक परिदृश्य को बदलने, ज्ञान का लोकतंत्रीकरण करने, सांस्कृतिक क्षेत्र का आधुनिकीकरण करने और सरकारी खर्च का विकेंद्रीकरण करने के लिए कार्यक्रम शुरू करने पर काम कर रही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.