उत्तर प्रदेश : सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिया कोरोना जांच और टीकाकरण दोगुना करने का आदेश

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना जांच और वैक्सीनेशन को लेकर जारी किया आदेश. (फाइल फोटो)

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि यह लहर पिछले बार के मुकाबले 30 गुणा संक्रमणकारी है. यूपी में अब तक लगभग 4 करोड़ कोरोना जांच किए जा चुके हैं. अब हमने 10 मई तक दैनिक परीक्षण की वर्तमान क्षमता को दोगुना कर 4.5 लाख करने का निर्देश दिया है.

  • Share this:
    अमन शर्मा

    नई दिल्ली. केंद्र सरकार (Centre government) का अनुमान है कि कोरोना महामारी (corona epidemic) की इस दूसरी लहर से उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में संक्रमितों की संख्या में बड़ा उछाल दिख सकता है. इसके मद्देनजर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने निर्देश दिया कि राज्य में फिलहाल हो रहे 2.25 लाख के परीक्षणों को 10 मई तक दोगुना स्तर पर पहुंचा दें और 1 मई से रोजाना लगभग 6.5 लाख लोगों का टीकाकरण करें.

    पिछली बार के मुकाबले यह लहर 30 गुणा अधिक संक्रमणकारी : सीएम

    सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा 'पिछले की तुलना में कोरोना की यह लहर लगभग 30 गुना अधिक संक्रमणकारी है. इसे साधारण बुखार मानना ​बड़ी भूल होगी. मैं खुद इससे 13 अप्रैल से लड़ रहा हूं. हमें इसे हराने की तैयारियों में इस वायरस से 10 कदम आगे रहना होगा. ' आपको बता दें कि शुक्रवार को प्रधानमंत्री की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री योगी उपस्थित थे, जहां नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने अपने प्रजेंटेशन में यह अनुमान लगाया था कि कुछ दिनों में यूपी में कोरोना संक्रमण के 1 लाख से अधिक मामले रोज हो सकते हैं. यूपी में शनिवार को कोरोना संक्रमण के 38,055 और लखनऊ और वाराणसी ने क्रमश: 5461 और 2786 मामले दर्ज किए गए.



    योगी को उम्मीद कि स्थितियां बेहतरी की ओर बढ़ रहीं

    हालांकि योगी ने इस बात का संकेत भी दिया कि कोरोना मामले में रोज हो रही 23,000 से ज्यादा रिकवरी बताती है कि स्थितियां बेहतरी की ओर बढ़ रही हैं. उन्होंने कहा कि यूपी में रेमडेसिविर जैसी दवाओं की कोई कमी नहीं है. हम अपने राज्य के प्लेन रोज अहमदाबाद भेजते हैं ताकि आपूर्ति बाधित न हो. उन्होंने कहा कि यूपी में ऑक्सीजन की भी कोई कमी नहीं है, बशर्ते जिन लोगों को इसकी जरूरत है, उन्हें ही हम इसे मुहैया कराएं. सीएम ने कहा कि हर संक्रमित को ऑक्सीजन की जरूरत नहीं होती. किसी भी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी नहीं है. असल समस्या जमाखोरी और कालाबाजारी है. जिन लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर की जरूरत नहीं है, वे भी परेशान हो रहे हैं.

    संक्रमितों से ज्यादा संख्या स्वस्थ होने वालों की

    सीएम ने कहा कि पिछले तीन दिनों में लखनऊ में जितनी संख्या में कोरोना के मरीज स्वस्थ हुए हैं उनके मुकाबले संक्रमितों की संख्या कम रही है. उन्होंने बताया कि यही स्थिति वाराणसी और प्रयागराज जैसे अन्य शहरों में भी हैं. उन्होंने बताया कि लखनऊ में शनिवार यानी आज 5 हजार 461 संक्रमण के केस सामने आए, जबकि रिकवर करने वाले मरीजों की संख्या 5799 रही.

    1 मई से रोजाना 6.5 लाख टीकाकरण का लक्ष्य

    योगी ने बताया कि यूपी में अब तक लगभग 4 करोड़ कोरोना जांच किए जा चुके हैं. अब हमने 10 मई तक दैनिक परीक्षण की वर्तमान क्षमता को दोगुना कर 4.5 लाख करने का निर्देश दिया है. उन्होंने कहा कि 18 साल से ऊपर के सभी लोगों के लिए टीकाकरण का निर्णय लेने वाला यूपी पहला राज्य था. 1 मई से हम रोजाना 6.5 लाख लोगों का टीकाकरण करेंगे, फिलहाल यहां प्रतिदिन लगभग 2 लाख लोगों को कोरोनारोधी टीका लगाया जा रहा है.

    वीकेंड लॉकडाउन के दौरान भी लगवा सकते हैं टीका

    उन्होंने बताया कि वीकेंड लॉकडाउन के दौरान भी लोग टीकाकरण करवा सकते हैं. लोगों को लॉकडाउन के दौरान टीकाकरण के लिए आने-जाने में परेशानी न हो इसके लिए निर्देश जारी किया जा चुका है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.