कांग्रेस ने भारत-चीन तनाव पर केंद्र सरकार को घेरा, PM मोदी से पूछे ये 6 सवाल
Delhi-Ncr News in Hindi

कांग्रेस ने भारत-चीन तनाव पर केंद्र सरकार को घेरा, PM मोदी से पूछे ये 6 सवाल
चीन अब फिंगर 4 पर अपना दावा कर रहा है, जबकि भारत का कहना है कि LAC फिंगर 8 पर है.

कांग्रेस पार्टी भारत और चीन (India-China) के बीच जारी तनाव को लेकर मोदी सरकार (Modi Government) पर हमलावर हो गयी है. कांग्रेस नेता अजय माकन (Ajay Maken) ने केंद्र सरकार पर मामले में लीपापोती करने का आरोप लगाते हुए छह सवाल पूछे हैं.

  • Share this:
जयपुर. भारत और चीन (India-China) के बीच जारी तनाव और विवाद लगातार बना हुआ है. जबकि इस मामले को लेकर कांग्रेस भी हमलावर हो गयी है. जयपुर में गुरुवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस प्रवक्‍ता अजय माकन ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के सहारे मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है. उन्‍होंने कहा कि चीन भारतीय इलाकों में अब भी अपनी सेना के साथ डटा हुआ है और वहां से वापस जाने का नाम नहीं ले रहा है. इस बात को ढाई महीने से ज़्यादा हो गया है और अब तक मेजर जनरल स्तर (Major General Level Meetings) की दर्जनों बैठकों के अलावा कोर कमांडर स्तर की भी चार बैठकें हो चुकी हैं लेकिन जमीन पर अब भी ठोस बदलाव नहीं आया है. जानकारी मिली है कि लद्दाख मोर्चे पर अब भी 40,000 चीनी सैनिकों की तैनाती जारी है. इसके साथ ही अजय माकन ने कांग्रेस और देश की जनता की तरफ से पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से छह सवाल पूछे हैं.



कांग्रेस ने पूछे ये छह सवाल
>> लद्दाख में सर्दियों शुरू होने वाली हैं, लेकिन हमारी सीमा में मौजूद चीन के 40000 सैनिक वापस नहीं जा रहे हैं. कांग्रेस और देश की जनता जानना चाहती है कि मोदी सरकार का अब क्‍या प्‍लान है.
>> पीएम मोदी ने ऑल पार्टी मीटिंग में 19 जून को कहा था कि चीन हमारी जमीन पर नहीं है, लेकिन अब सब अधिकारी कह रहे है वह हमारी जमीन पर जमा हुआ है. देश इस मामले में भी पीएम से जानना चाहता है कि क्‍या उन्‍होंने पहले झूठ बोला था.


>> देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत की जमीन से चीन के अभी जाने की कोई संभावना नहीं है. क्‍या सरकार ने मान लिया है कि इस समस्‍या को कोई समाधान नहीं होने वाला. इतने विरोधाभाषी बयानों की वजह क्‍या है.
>>कांग्रेस ने कहा कि चीन भारत के कई कई सेक्‍टर में निर्माण कर रहा है. सरकार की इस पर क्‍या प्‍लानिंग है. यह पूरा देश जानना चाहता है.
>> चीनी सेना फ़िंगर 4 (Finger 4) से फ़िंगर 8 (Finger 8) तक भारत की जमीन कब्‍जा किया हुआ है. क्‍या चीनी सैनिक हमारी सीमा में आठ किलोमीटर अंदर हैं. यह बात भी सरकार को स्‍पष्‍ट करनी चाहिए.
>> कांग्रेस चाहती है कि भारत और चीन सीमा पर 1 मई 2020 की यथा स्थिति को बहाल किया जाए. जहां भी चीनी सैनिक घुसे हुए हैं, उनको बाहर निकाला जाए. सरकार को इस मामले पर भी अपनी बात स्‍पष्‍ट करनी चाहिए.

बहरहाल, 14 जुलाई को भारत चीन के बीच कोर कमांडर स्तर की चौथी बातचीत में अगले फ़ेज को शुरू करने पर सहमति बनी थी लेकिन सूत्रों की मानें तो चीन की सेना पहले फ़ेज के बाद एक कदम भी पीछे नहीं हटी है. पहले फ़ेज में गलवान (Galwan), हॉट स्प्रिंग गोगरा (Hot Spring Gogra) से 1 से 2 किलोमीटर तक चीन और भारतीय सेना (Indian Army) पीछे हटी थीं. हालांकि कांग्रेस नेता अजय माकन का कहना है कि पीएम मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और एनएसए अजित डोभाल के बयान विरोधाभाषी हैं, जो कि भारत और चीन के बीच मौजूदा हालातों को छिपा रहे हैं.

कोरोना को लेकर कही ये बात
कांग्रेस नेता ने कहा कि इस समय देश में हर रोज 40000 हजार के करीब कोरोना वायरस संक्रमण के मामले आ रहे हैं, लेकिन केंद्र सरकार इस महामारी से लड़ने के बजाए राजस्‍थान में सरकार गिराने में लगी हुई है. सच कहा तो मोदी सरकार न कोरोना और न ही चीन मुद्दे को लेकर कोई ठोस कदम उठाते दिख रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज