GNCTD बिल के विरोध में उतरी कांग्रेस, पूछा-क्या अब धरना देंगे केजरीवाल?

कांग्रेस ने GNCTD बिल पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी घेरा.

दिल्ली के अधिकारों की जंग में एक बार केंद्र और दिल्ली सरकार आमने सामने हैं. कांग्रेस नेता अनिल भारद्वाज ने अरविंद केजरीवाल पर GNCTD बिल पर नरम रखने का आरोप लगाया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस ने लोकसभा में सोमवार में पेश किए गए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली क्षेत्र (संशोधन) बिल 2021 का विरोध किया. कांग्रेस ने इसे लोकतंत्र के लिए काला दिन बताया. साथ ही इस बिल को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल पर नरम रुख रखने का आरोप लगाया. दिल्ली के अधिकारों की जंग में एक बार केंद्र और दिल्ली सरकार आमने सामने हैं. लोकसभा में आज पेश किए गए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली क्षेत्र (संशोधन) बिल 2021 के विरोध में अब कांग्रेस भी उतर गई है. कांग्रेस के पूर्व विधायक और पूर्व सीएम शीला दीक्षित के संसदीय सचिव रहे अनिल भारद्वाज ने कहा, "1993 में पहली बार भाजपा की सरकार बनी. मदनलाल खुराना ने कहा था अधिकार रहित दिल्ली का प्रावधान कानून में किया गया है. उस समय की तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने संशोधन करके दिल्ली को अधिकार दिए. आज हम इसे काली तारीख कह सकते हैं."

उन्होंने आगे कहा, "केंद्र ने चुनी हुई सरकार के अधिकारों को समेटने का प्रयास किया है. बीजेपी चुनाव में पूर्ण राज्य का वादा करती थी. आज उनकी सरकार केंद्र में है और आज दिल्ली के एक्ट में जो संशोधन किया है, वो लोकतंत्र की हत्या है. भारत के सर्वोच्च न्यायालय ने दिल्ली के सीएम और LG के अधिकार क्षेत्र तय किये थे. दिल्ली NCT एक्ट में संशोधन लाकर इसे कमज़ोर क्यों किया जा रहा है. कांग्रेस ने पूछा क्या अब धरना देंगे सीएम केजरीवाल?"



कांग्रेस ने इस मामले पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी घेरा. कांग्रेस नेता अनिल भारद्वाज ने अरविंद केजरीवाल पर नरम रखने का आरोप लगाया है. अनिल भारद्वाज ने पूछा कि 'जब फरवरी में कैबिनेट ने इस बिल को मंजूरी दी तो उन्होंने क्यों इस मुद्दे पर गृहमंत्री से बात की? क्या हर छोटी छोटी बातों पर धरना देने वाले अरविंद केजरीवाल इस मुद्दे पर भी धरना देंगे?

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.