अपना शहर चुनें

States

पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की बढ़ी कीमतों के खिलाफ कांग्रेस का सभी जिलों में विरोध प्रदर्शन

पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दामों में बड़ा इजाफा हुआ है.
पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दामों में बड़ा इजाफा हुआ है.

Petrol Diesel Price Hike Protest: आजादी के बाद 70 वर्षों में पहली हुआ है जब अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों भारी गिरावट के बावजूद पेट्रोल और डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं. दो महीने में गैर सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर के दामों में 175 रुपये की वृद्धि हुई है. आज बढ़ती मंहगाई से झुग्गी झौपड़ी, निम्न वर्ग, मध्यम वर्ग, प्रतिदिन कमा कर खाने वाले सहित प्रत्येक घर रसोई प्रभावित हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2021, 7:08 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पेट्रोलियम पदार्थों की दरों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. इसके कारण पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दामों में बड़ा इजाफा हुआ है. इसके खिलाफ प्रदेश कांग्रेस लगातार दो दिन से जिलों में विरोध प्रदर्शन कर रही हैं. आज भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार और केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) दोनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया.


अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) पार्टी के निर्देशानुसार आज दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के सभी जिला कांग्रेस कमेटियों ने पेट्रोल, डीजल की प्रतिदिन बढ़ती कीमतों, गैस सिलेंडर की बढ़ी दरों के कारण बढ़ती मंहगाई पर प्रदर्शन किया. वहीं, केन्द्र सरकार की जनविरोधी नीतियों, बढ़ती बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हाथों में झंडे, गैस सिलेंडर, सरकार विरोधी नारे लिखी तख्तियां लेकर विरोध प्रदर्शन करते कीमतें वापस लेने की मांग की.


प्रदर्शन में जिला कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्ष, ब्लाक अध्यक्ष, पदाधिकारी, अग्रिम संगठनों, सेल एवं विभागों के कार्यकर्ताओं सहित क्षेत्रीय लोगों ने भी अपना रोष प्रकट किया.


आज लगातार दसवें दिन भी पेट्रोल और डीजल की दरों में वृद्धि जारी रही. दिल्ली में बढ़ती मंहगाई के लिए भाजपा (BJP) की केन्द्र सरकार और दिल्ली की अरविन्द सरकार दोनों बराबर की जिम्मेदारी है, क्योंकि दोनों ही सरकारें पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी और वेट को कम करके जनता को राहत देने की दिशा में कोई कार्यवाही नही कर रही हैं.




आजादी के बाद 70 वर्षों में पहली हुआ है जब अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों भारी गिरावट के बावजूद पेट्रोल और डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं. दो महीने में गैर सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर के दामों में 175 रुपये की वृद्धि हुई है. आज बढ़ती मंहगाई से झुग्गी झौपड़ी, निम्न वर्ग, मध्यम वर्ग, प्रतिदिन कमा कर खाने वाले सहित प्रत्येक घर रसोई प्रभावित हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज