दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 2 मरीजों की मौत, 127 नए मामले

ब्रिटिश साइंटिस्ट ने चेताया- दुनियाभर में फैल सकता है कोरोना का UK स्ट्रेन
(सांकेतिक तस्वीर)

ब्रिटिश साइंटिस्ट ने चेताया- दुनियाभर में फैल सकता है कोरोना का UK स्ट्रेन (सांकेतिक तस्वीर)

COVID-19 Case in Delhi: राष्‍ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस संक्रमण से नौ फरवरी को कोई मौत नहीं हुई, जबकि संक्रमण दर बुधवार को 0.22 प्रतिशत रही. स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के बु‍लेटिन के अनुसार मरने वालों की संख्‍या बढ़कर 10,886 तक जा पहुंची है. 

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2021, 7:08 PM IST
  • Share this:
नयी दिल्ली. दिल्ली में गुरुवार को कोविड-19 (COVID-19) के 142 नए मामले सामने आए और दो नयी मौतें हुईं. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. नौ फरवरी को राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस से कोई मृत्यु नहीं हुई थी. स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार, शहर में संक्रमण के मामले बढ़कर 6,36,529 हो गए और मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,886 हो गई.

बुलेटिन के अनुसार, बुधवार को उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,051 है. अधिकारियों ने कहा कि बुधवार को संकमण दर 0.22 प्रतिशत रही. दिल्ली में 27 जनवरी को कोरोना वायरस के 96 मामले सामने आए थे, जो पिछले नौ महीनों में सबसे कम हैं. दिल्ली स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी नवीनतम बुलेटिन के अनुसार, पिछले दिन 41,943 आरटीपीसीआर और 22,385 जांच की गई, जिसके बाद ये 142 नए मामले सामने आए.

कोरोना वायरस महामारी से निपटने की वैश्विक कोशिशों में भारत अग्रिम पंक्ति में है: राष्ट्रपति कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को कहा कि सामूहिक स्वास्थ्य एवं आर्थिक कल्याण सुनिश्चित करने के लिए कोविड-19 से निपटने को लेकर निर्णायक और समन्वित वैश्विक कोशिशों में भारत अग्रिम पंक्ति में रहा है. उन्होंने यहां एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि भारत सरकार की टीका मैत्री पहल औषधि की दुनिया में फिर से उसे प्रतिष्ठित स्थान दिला रही है. इस पहल के तहत भारत में निर्मित कोविड-19 के टीके कई देशों में भेजे गये हैं. राष्ट्रपति भवन द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, राष्ट्रपति ने अल सल्वाडोर गणराज्य, पनामा, ट्यूनीशिया और ब्रिटेन तथा अर्जेंटीना गणराज्य के राजदूत/उच्चायुक्त के परिचय पत्र एक डिजिटल समारोह में स्वीकार किये. कोविंद ने इन दूतों की नियुक्ति पर उन्हें शुभकामनाएं दी.
Youtube Video


उन्होंने कहा कि भारत के इन सभी पांचों देशों से मधुर संबंध हैं, जिसकी जड़े शांति एवं समृद्धि के साझा दृष्टिकोण में समाहित हैं. बयान में कहा गया है कि राष्ट्रपति ने 2021-22 के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अस्थायी सदस्यता के लिए भारत की उम्मीदवारी का समर्थन करने को लेकर भी उनकी सरकारों का शुक्रिया अदा किया. बयान में कहा गया है, 'राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि भारत हमारे सामूहिक स्वास्थ्य एवं आर्थिक कल्याण सुनिश्चित करने के लिए कोविड-19 से निपटने को लेकर निर्णायक और समन्वित वैश्विक कोशिशों में अग्रिम पंक्ति में रहा है.' बयान में कहा गया है कि अपनी टिप्पणी में दूतों ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय को कोविड-19 के टीके मुहैया करने की कोशिशें करने को लेकर भारत की सराहना की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज