लाइव टीवी

Corona Lockdown: जानिए क्या है Delhi और NCR के शहरों का हाल
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: March 27, 2020, 10:42 AM IST
Corona Lockdown: जानिए क्या है Delhi और NCR के शहरों का हाल
File Photo.

कोरोना (Corona) के कितने मरीज अब तक मिल चुके हैं, रोजमर्रा का सामान मिल रहा है या नहीं. जरूरी सामान के लिए लोग शहर (City) से बाहर निकल पा भी रहे हैं या नहीं. यह ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब ज़्यादातर लोग जानना चाहते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 27, 2020, 10:42 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) लॉकडाउन (Lockdown) के बाद से कमोबेश देश के ज्यादातर शहरों का हाल एक जैसा है. लेकिन राष्ट्रीय राजधानी से सटा होने और नौकरी-कारोबार के लिहाज से दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) पर खास निगाहें रहती हैं. कितने मरीज अब तक मिल चुके हैं, रोजमर्रा का सामान मिल रहा है या नहीं. जरूरी सामान के लिए लोग शहर से बाहर निकल पा भी रहे हैं या नहीं. यह ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब ज़्यादातर लोग जानना चाहते हैं. न्यूज18 हिन्दी ने दिल्ली समेत ऐसे ही 5 शहरों की खैरियत जानी.


दिल्ली-
देश की राजधानी दिल्ली में अब तक 35 पॉजिटिव केस पाए गए हैं. 6 केस ठीक हो चुके हैं. एक मरीज की मौत हो चुकी है. लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन हो इसके लिए सड़क पर दिल्ली पुलिस सख्त दिखाई दे रही है. हर रोज करीब 5 हज़ार लोगों को दिल्ली पुलिस एक्ट 65 के तहत डिटेन और एक्ट 66 के तहत एक हज़ार से ज्यादा वाहन सीज किए जा रहे हैं. दुकानदार, रेहड़ी वालों सहित दिल्ली सरकार ने बड़े-बड़े स्टोर्स से ऑनलाइन खरीदारी की सुविधा उपलब्ध कराई है.


गुरुग्राम-



मल्टीनेशनल कंपनियों का हब कहा जाने वाला ग्रुरुग्राम लॉकडाउन से पहले ही लॉक कर दिया गया था. हरियाणा सरकार ने वर्क फ्रॉम होम के आदेश जारी कर दिए थे. यहां अभी तक 10 पॉजिटिव केस पाए गए हैं. दूसरे शहरों की तरह से यहां भी कुछ लोग लॉकडाउन का पालन नहीं कर रहे हैं. जिसके चलते पुलिस आईपीसी 188 के तहत एफआईआर दर्ज कर जुर्माना वसूल रही है और थाने से ही जमानत दे रही है. 400 से 500 लोगों को रोज डिटेन भी किया जा रहा है.


गौतमबुद्ध नगर-
गौतमबुद्ध नगर के नोएडा और ग्रेटर नोएडा में अभी तक 20 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं. 03 मरीजों के ठीक होने की भी सूचना है. दिल्ली को देखते हुए यहां भी पुलिस सख्ती के साथ लॉकडाउन का पालन करा रही है. यही वजह है कि हर रोज पुलिस 350 से 400 लोगों को डिटेन कर रही है. सैकड़ों वाहनों के चालान काटकर जुर्माना वसूला जा रहा है. नौकरी पेशा लोगों का शहर होने के चलते पीजी और किराए पर रहने वालों को खाने की दिक्कत आ रही है. लेकिन सूचना मिलने पर पुलिस खाने से लेकर दवाईयां दिलाने तक में मदद कर रही है.


फरीदाबाद-
सरकारी रिकॉर्ड के मुताबिक इंडस्ट्रियल सिटी फरीदाबाद अभी तक कोरोना के पॉजिटिव केस से बचा हुआ है. लेकिन चर्चा यह है कि एक पॉजिटिव केस मिल चुका है. लेकिन इस चर्चा की अभी तक किसी ने भी कोई पुष्टि नहीं की है. इस शहर में बड़ी संख्या में लेबर क्लास परिवार हैं. पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद होने से वो कहीं जा भी नहीं सकते. पुलिस लगातार सख्ती बरत रही है. लॉकडाउन तोड़ने पर 200 से 250 लोगों पर हर रोज कार्रवाई भी की जा रही है.


गाज़ियाबाद-
दिल्ली बॉर्डर से सटे यूपी के इस शहर में अभी तक 03 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं. लेकिन उससे भी बड़ी परेशानी यहां वो लोग बन रहे हैं जो किसी भी हाल में गाज़ियाबाद से निकलकर अपने घरों को जाना चाहते हैं. गाज़ीपुर बॉर्डर पर यह भीड़ देखी जा सकती है. इसी को देखते हुए पुलिस ने अपनी कार्रवाई तेज कर दी है. हर रोज 700 से 800 लोगों को पुलिस डिटेन कर रही है. लेकिन नियमानुसार दुकानें खुलवाकर और रेहड़ी वालों को मौका देकर पुलिस जरूरी सामान की आवाजाही भी सुचारू बना रही है.

ये भी पढ़ें :-

COVID-19: अब ट्रेन के डब्बे बनेंगे कोरोना आइसोलेशन सेंटर, 20 हजार कोच किए जा रहे सैनेटाइज

Corona Lockdown: यहां रात-दिन बनाए जा रहे हैं सैनिटाइज़र, मास्क, बॉडी सूट और वैंटीलेटर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 27, 2020, 10:34 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर