लाइव टीवी

Corona Lockdown: यहां रात-दिन बनाए जा रहे हैं सैनिटाइज़र, मास्क, बॉडी सूट और वैंटीलेटर
Delhi-Ncr News in Hindi

Sandeep Bol | News18Hindi
Updated: March 26, 2020, 3:51 PM IST
Corona Lockdown: यहां रात-दिन बनाए जा रहे हैं सैनिटाइज़र, मास्क, बॉडी सूट और वैंटीलेटर
Demon Pic.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कोरोना से बचाव के लिए बनाए गए एक्शन प्लॉन पर अफसरों संग मीटिंग के दौरान यह जानकारी दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2020, 3:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) से बचाव के लिए रक्षा मंत्रालय के तीन संस्थान रात-दिन सैनिटाइज़र (sanitizers), मास्क, बॉडी सूट (Bodysuits) और वैंटीलेर (Ventilators) बनाने में लगे हुए हैं. जो सामान जितना बनता जा रहा है उसकी सप्लाई भी की जा रही है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) को सेनिटाइज़र और मॉस्क सप्लाई किए जा चुके हैं. एक जगह सिर्फ वैंटीलेटर ही बनाए जा रहे हैं. यह जानकारी रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दी. गुरुवार की सुबह वो रक्षा मंत्रालय द्वारा कोरोना से बचाव के लिए बनाए गए एक्शन प्लॉन पर अफसरों संग मीटिंग कर रहे थे.

यह तीन लोग मिलकर बना रहे हैं बचाव का सामान

राजनाथ सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि डीआरडीओ की लैब में सैनिटाइज़र बनाया जा रहा है. अब तक 20 हज़ार लीटर सैनिटाइज़र बनाया जा चुका है. इसमे से अकेले 10 हज़ार लीटर दिल्ली पुलिस को दिया गया है. बाकी को दूसरे अलग-अलग सरकारी संस्थानों को दिया गया है. इतना ही नहीं डीआरडीओ ने दिल्ली पुलिस को 10 हज़ार मास्क की सप्लाई भी की है.

साथ ही डीआरडीओ के दूसरे संस्थान पर्सनल प्रोटेक्शन उपकरण जैसे बॉडी सूट बनाने का काम भी कर रहे हैं. उत्पादन ज़्यादा से ज़्यादा हो इस पर भी ध्यान दिया जा रहा है. वैसे हमारे अधिकारी और कर्मचारी रात-दिन इस काम में लगे हुए हैं. ऑर्डिनेनस फ़ैक्ट्री बोर्ड भी सैनिटाइज़र, मास्क और बॉडी सूट बना रहा है. वहीं भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड एक कदम आगे बढ़ाते हुए वेंटिलेटर बनाने के काम में लगा हुआ है.



आर्मी और एयर फोर्स के इस काम की हुई जमकर तारीrajnath singh

मीटिंग के दौरान राजनाथ सिंह ने आर्मी और एयर फोर्स की पीठ थपथपाते हुए कहा कि भारतीय सेना की तरफ से अब तक अलग.अलग क्वरिंटाईन फ़ैसिलिटी सेंटर में 1462 लोगो को रखा गया, जिमसे से 389 लोगों को क्वारिंटाईन समय के पूरा होने के बाद घर भेज दिया. मौजूदा समय में सेना की तरफ से मानेसर, हिंडन, जैसलमेर, जोधपुर और मुम्बई में 1073 लोगों की देखरेख की जा रही है.

साथ ही 960 बेड के साथ अन्य क्वारिंटाईन फ़ैसिलिटी सेंटर को स्टैंड बाए पर रखा गया है. विदेशों से भारतीयों को एयर लिफ्ट करने के लिए एयर फोर्स की भी सराहना की गई. मीटिंग के दौरान सीडीएस जनरल बिपिन रावत, आर्मी चीफ जनरल एम. एम. नरवणे, एयर फोर्स चीफ एयर चीफ मार्शल आर. के. एस. भदौरिया, नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह और रक्षा सचिव अजय कुमार मौजूद थे.

ये भी पढ़ें-

Corona Lockdown: बाज़ार में इस रेट पर बिकेगा आटा, दाल-चावल और सब्जियां, ज़्यादा लिए पैसे तो होगी FIR

Lockdown: सामान की है जरूरत तो इन ऑनलाइन स्टोर्स पर करें ऑर्डर, सीधे पहुंचेगा घर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 3:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर