Home /News /delhi-ncr /

बहाने बनाने में मास्टर हैं दिल्ली वाले, पढ़िए बिना मास्क के मिलने पर इनके अनोखे बहाने...

बहाने बनाने में मास्टर हैं दिल्ली वाले, पढ़िए बिना मास्क के मिलने पर इनके अनोखे बहाने...

दिल्ली में चालान से बचने के लिए बिना मास्क के पकड़े गए लोग हजारों बहाने बनाते हैं.

दिल्ली में चालान से बचने के लिए बिना मास्क के पकड़े गए लोग हजारों बहाने बनाते हैं.

Delhi Corona News: दिल्ली में एनफोर्समेंट टीमें बाजारों में घूम-घूमकर यह सुनिश्चित कर रही हैं कि लोग कोविड नियमों का पालन करें, ताकि संक्रमण फैलने से रोका जा सके. दिल्ली में 1 जनवरी से लेकर अब तक 30 हजार से अधिक चालान काटे जा चुके हैं. इन टीमों के सामने चुनौतियां कम नहीं हैं. कभी लोगों को समझाकर, कभी डांट-डपटकर और कभी सख्ती बरतते हुए उन्हें यह काम करना पड़ता है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. कोरोना से बचने के लिए सरकार ने एक नारा दिया, ‘दो गज दूरी, मास्क है जरूरी’, लेकिन देश की राजधानी दिल्ली में मास्क नहीं लगाने के लाख बहाने हैं… कोई जल्दबाजी में घर भूल आया, तो किसी का गाड़ी में छूट गया, किसी के बच्चे ने खींचकर सड़क पर फेंक दिया, तो कोई खाना खाने के बाद लगाना भूल गया. मास्क न लगाने के ये बहाने आजकल खूब बनाए जा रहे हैं.

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, जैसे ही प्रशासन की एनफोर्समेंट टीमें बिना मास्क पहने किसी व्यक्ति के पास पहुंचती हैं और बिना मास्क के मिलने पर चालान बनाने लगती हैं तो लोग कोई क्यूट-सा बहाना बताने लगते हैं. टीम सख्ती करती है तो कोई हाथ जोड़ने लगता है तो कोई पैर पकड़ने लग जाता है. कुछ लोग रौब गांठने के लिए अफसरों को फोन घुमाने लगते हैं तो कई बार बदतमीजी पर उतर आते हैं और अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने लगते हैं.

टीमें 20 हजार से अधिक चालान बना चुकीं 

इन सब बहानों के बावजूद दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में एनफोर्समेंट टीमें बाजारों में घूम-घूमकर यह सुनिश्चित कर रही हैं कि लोग कोविड नियमों का पालन करें, ताकि संक्रमण फैलने से रोका जा सके. दिल्ली में 1 जनवरी से लेकर अब तक 20 हजार से अधिक चालान काटे जा चुके हैं. इन टीमों के सामने चुनौतियां कम नहीं हैं. कभी लोगों को समझाकर, कभी डांट-डपटकर और कभी सख्ती बरतते हुए उन्हें यह काम करना पड़ता है.

दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में पहुंच रही हैं टीमें 

एनफोर्समेंट ऑफिसर्स की अगुवाई में दिल्ली के कई इलाकों में टीम पहुंच रही है. इसमें सिविल डिफेंस की कुछ महिला कर्मचारी अन्य वॉलंटियर्स शामिल होते हैं. टीम के सदस्य दो-दो के ग्रुप में बंट जाते हैं और दुकानों में जा-जाकर चेक करते हैं कि लोग नियमों का पालन कर रहे हैं कि नहीं. जो कोई बिना मास्क पहने नजर आता है, सबसे पहले उसका फोटो लेते हैं और फिर एनफोर्समेंट ऑफिसर को बताते हैं. लोग अपनी जब से मास्क निकालने लगते हें तो कहीं लोग कपड़े या रूमाल से अपना मुंह ढंक लेते हैं.

दुकानदार बोला मास्क नहीं है, जल्दबाजी में घर भूल आया

एक दुकानदार ने कहा कि वह थोड़ी देर पहले पूजा कर रहे थे, इसीलिए उन्होंने मास्क उतार दिया था. एक अन्य दुकानदार का कहना था कि मैं बस खाना खाने बैठ रहा था, इसलिए मास्क उतारा था. परचून की दुकान पर बिना मास्क पहने सामान खरीदने आए एक लड़के ने कहा कि मैं जल्दबाजी में मास्क घर पर ही भूल आया, तो वहीं एक टेलर के पास खड़ी महिला ने कहा कि वह जल्दबाजी में अपना मास्क ऑफिस में भूल आई. एक दुकानदार का कहना था कि हम तो लोगों से कह-कह कर थक गए, लेकिन लोग मानते ही नहीं हैं और मास्क लगाए बिना ही दुकान में आ जाते हैं. ऐसे में हम क्या कर सकते हैं.

ऐसे-ऐसे बहाने 

कपड़े की शॉप चलाने वाला एक दुकानदार बिना मास्क पहने ग्राहकों को कपड़े दिखा रहे थे. जब टीम एक्शन लेने पहुंची, तो अपनी गलती मानने के बजाय वे इस बात पर बहस करने लगे कि मार्केट में इतने सारे और लोग भी तो बिना मास्क के घूम रहे हैं, फिर उनके खिलाफ कोई एक्शन क्यों नहीं हो रहा. बाइक पर जा रहे दो लड़के तो इशारा करने के बावजूद नहीं रुके और टीम के एक सदस्य को चकमा देकर सरपट निकल लिए.

Tags: Delhi corona update, Delhi Coronavirus

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर