दिल्ली में बढ़ रहा कोरोना का प्रकोप, सरकार ने तैयार किया निपटने का प्लान, जानिए हर अहम जानकारी...

कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर से तेजी से सामने आ रहे हैं.

कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर से तेजी से सामने आ रहे हैं.

देश की राजधानी दिल्ली में पिछले दो सप्ताह से कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी दर्ज की गई है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की हेल्थ रिपोर्ट की माने तो 2 माह पहले जो मामले हर रोज 100 से नीचे रिकॉर्ड किए जा रहे थे, वह अब तेजी से बढ़ते हुए रिकॉर्ड किए जा रहे हैं. दिल्ली में कोरोना संक्रमण का समग्र पॉजिटिविटी रेट 4.75 फीसदी है. जबकि देश में समग्र पॉजिटिव संक्रमण की दर 5 फ़ीसदी रिकॉर्ड की गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 19, 2021, 3:47 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. देशभर में कोरोना संक्रमण (Corona virus) के मामले एक बार फिर से तेजी से सामने आ रहे हैं. हर रोज बड़ी संख्या में कोरोना (Covid 19) के नए मामले रिकॉर्ड किए जा रहे हैं. देश के 8 राज्यों में सबसे ज्यादा मामले दैनिक आधार पर रिकॉर्ड किए जा रहे हैं. इनमें महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पंजाब, मध्य प्रदेश, दिल्ली, गुजरात, कर्नाटक और हरियाणा प्रमुख रूप से शामिल हैं.

पिछले एक माह के दौरान सिर्फ केरल (Kerala) में कोविड मामलों में लगातार गिरावट रिकॉर्ड की गई है जबकि देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) में पिछले दो सप्ताह से कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी दर्ज की गई है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की हेल्थ रिपोर्ट की माने तो 2 माह पहले जो मामले हर रोज 100 से नीचे रिकॉर्ड किए जा रहे थे, वह अब तेजी से बढ़ते हुए रिकॉर्ड किए जा रहे हैं.

बृहस्पतिवार को दिल्ली सरकार (Delhi Government) के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन की माने तो पिछले 24 घंटे में कोरोना के 607 मामले रिकॉर्ड किए गए थे. वही हर रोज एक से लेकर तीन लोगों की कोरोना की वजह से मौत भी हो रही है. अब तक दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या 10,949 को पार कर गई है. वहीं, पॉजिटिव मामलों की बात की जाए तो इनकी संख्या बृहस्पतिवार तक 2924 रिकॉर्ड की गई थी जिसके आज शुक्रवार देर शाम तक बढ़ने की आशंका है.

दिल्ली में कोरोना संक्रमण की समग्र पॉजिटिविटी दर 4.75 फीसदी 
बात की जाए दिल्ली में कोरोना संक्रमण के समग्र पॉजिटिविटी रेट की तो यहां 4.75 फीसदी संक्रमण दर है. जबकि देश में समग्र पॉजिटिव संक्रमण की दर 5 फ़ीसदी रिकॉर्ड की गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की माने तो देश में समग्र राष्ट्रीय पॉजिटिव दर 5 फ़ीसदी से कम बनी हुई है. वही बृहस्पतिवार को यह पॉजिटिव दर 4.98 फ़ीसदी रिकॉर्ड की गई थी.

मंत्रालय की माने तो राजस्थान, असम, चंडीगढ़, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, ओडिशा, झारखंड, पुडुचेरी, लक्ष्यद्वीप, सिक्किम, लद्दाख, मणिपुर, दमन और दीव, दादरा और नगर हवेली, मेघालय, नगालैंड, त्रिपुरा, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और अरुणाचल प्रदेश आदि राज्य/केंद्र शासित प्रदेश वह हैं जिनमें बृहस्पतिवार को पिछले 24 घंटे में किसी की भी कोरोना से मौत नहीं होने की सूचना मिली थी.

इस बीच देखा जाए तो दिल्ली में लगातार बढ़ रहे मामलों को लेकर दिल्ली सरकार (Delhi Government) पूरे एक्शन मोड में आ गई है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने जहां दिल्ली में कोविड 19 (COVID 19) को लेकर जारी की गई गाइडलाइंस को और सख्ती के साथ पालन कराने के आदेश दिए हैं. वहीं दिल्ली सरकार के अस्पतालों में लगाई जा रही कोरोना वैक्सीन को लेकर वैक्सीनेशन सेंटरों की संख्या में भी इजाफा करने की बात कही है. फिलहाल दिल्ली सरकार अपने सरकारी अस्पतालों में चल रहे कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर में वैक्सीनेशन स्लॉट बढ़ाने का फैसला कर चुकी है.



अस्पतालों के वैक्सीनेशन सेंटर में बढ़ाए जा रहे वैक्सीनेशन स्लॉट

22 मार्च से हर अस्पताल में बने वैक्सीनेशन सेंटर में 6 स्लॉट बनाए जाएंगे जिन पर हर रोज कम से कम 200 लोगों को वैक्सीनेशन किया जा सकेगा. अभी तक दिल्ली भर में 500 वैक्सीनेशन सेंटर संचालित हैं. इनमें सरकारी और प्राइवेट सभी शामिल हैं. सरकार इनकी संख्या आने वाले समय में 1000 करने जा रही है. इसके लिए सरकार ने केंद्र सरकार से अनुमति मांगी है.

सरकारी अस्पतालों में 12 घंटे लगेगा कोरोना का टीका

इसके अलावा वैक्सीनेशन सेंटरों पर मौजूदा समय को भी बढ़ाकर सुबह 9:00 बजे से रात्रि 9:00 बजे तक करने का आदेश दिया गया है. इससे संबंधित आदेश स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की विभाग की ओर से जारी कर दिया गया है.

हर रोज 50 से 80 हजार का किया जा रहा कोराना टेस्ट

दिल्ली में हर रोज कोरोना टेस्ट की बात करें तो यह 50,000 से 80000 तक किया जा रहा है. बृहस्पतिवार काे भी 80253 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया. वहीं अब तक दिल्ली सरकार की ओर से एक करोड़ 33 लाख 89 हजार 523 लोगों का कोरोना टेस्ट किया जा चुका है. कल बृहस्पतिवार को भी 80253 में से 48737 लोगों का rt-pcr और 31516 लोगों का रैपिड टेस्ट किया गया था.

दिल्ली में मृत्यु दर 1.70 फीसदी  

दिल्ली में अब तक 6,45,632 समग्र पॉजिटिव केस रिकॉर्ड किए गए हैं. इनमें से डिस्चार्ज/माइग्रेट/रिकवर्ड होने वालों की संख्या 6,31,759 रिकॉर्ड की गई है. वहीं, 10,949 की कोरोना की वजह से हुई मौतों से दिल्ली में मृत्यु दर 1.70 फ़ीसदी रिकॉर्ड की गई है.

दिल्ली सरकार के अस्पतालों में अधिकांश बेड अभी भी खाली

इसके अलावा कोरोना पेशेंट को अस्पतालों में सुविधा मुहैया कराने के लिए दिल्ली सरकार की ओर से अस्पतालों में 5711 बेड की व्यवस्था की हुई है. इसमें से सिर्फ 7794 बेड पर ही मरीज भर्ती हैं, बाकी 4917 अभी भी खाली पड़े हुए हैं. इसके अलावा डेडीकेटेड कोविड केयर सेंटर में भी 5525 बेड उपलब्ध हैं जिनमें से सिर्फ 4 पर ही मरीज भर्ती हैं. वहीं, सरकार की ओर से डेडीकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर भी बनाए हुए हैं जिनमें कुल 97 बेड की व्यवस्था है. यह भी लंबे समय से खाली पड़े हुए हैं.

होम आइसोलेशन में भी 1519 मरीज

वहीं सरकार की ओर से कोरोना के मरीजों के लिए होम आइसोलेशन (Home Isolation) की व्यवस्था भी की हुई है जिसमें हेल्थ विभाग की टीम मरीजों से संपर्क में रहती है. अब तक होम आइसोलेशन में 1519 मरीज हैं,  जिनको दिल्ली सरकार की ओर से फैसिलिटी भी दी जा रही है.

दिल्ली पुलिस ने सख्ती बरतना शुरू किया

दिल्ली में बढ़ते मरीजों की संख्या को काबू करने के लिए दिल्ली सरकार ने सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क आदि पहनने को लेकर सख्ती बरतने के आदेश दिए हैं. वहीं दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की ओर से भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वाले और मास्क नहीं पहनने वालों के खिलाफ भी चालान काटने की कार्रवाई को तेज कर दिया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज