हरियाणा में बेकाबू कोरोना: 8वीं तक के स्कूल 30 अप्रैल तक रहेंगे बंद, खट्टर सरकार ने दिए आदेश

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कोरोना को देखते हुए आठवीं तक के स्कूलों को 30 अप्रैल तक के लिए बंद करने की घोषणा की है.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कोरोना को देखते हुए आठवीं तक के स्कूलों को 30 अप्रैल तक के लिए बंद करने की घोषणा की है.

कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सख्ती दिखानी शुरु कर दी है. मुख्यमंत्री खट्टर ने आज गुरुग्राम में प्राइमरी और मिडिल स्कूलों को 30 अप्रैल तक बंद रखने का ऐलान कर दिया है.

  • Share this:
गुरुग्राम. हरियाणा (Haryana) के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कोरोना के बढ़ते केसों को लेकर सख्ती दिखानी शुरु कर दी है. मुख्यमंत्री (Manohar lal khattar) ने आज गुरुग्राम (Gurugram) में कहा कि कोरोना (Corona) के बढ़ते केसों को लेकर प्राइमरी और मिडल स्कूलों को 30 अप्रैल तक बंद रखने का ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि इससे आगे जरुरत होगी तो उन विकल्पों पर भी विचार किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर चिंता जाहिर की है. वहीं पहली से लेकर आठवीं तक के स्कूलों को 30 अप्रैल तक बंद रखने का ऐलान किया है.

बता दें कि हरियाणा में कोविड-19 (COVID-19) के संक्रमण की रफ्तार बढ़ती जा रही है. प्रदेश में गुरूवार को 2872 नए मरीज और मिले थे, जबकि 11 मरीजों की मौत हुई है. इसके साथ ही एक्टिव मरीजों की संख्या 17 हजार 129 पर पहुंच गई है. इनमें 241 लोगों की हालत गंभीर हैं जिनमें 199 मरीज आक्सीजन और 42 मरीज वेंटिलेटर पर हैं. कोरोना से जंग के बीच वैक्सीनेशन (Vaccination) का काम भी तेजी से चल रहा है. गुरूवार को हरियाणा में 84 हजार 548 लोगों ने टीकाकरण कराया.

वैक्सीनेशन के काम में भी तेजी 

इसके साथ ही प्रदेश में वैक्सीन लेने वालों की संख्या 22 लाख 11 हजार 666 हो गई है. इसके साथ ही प्रदेश में पॉजिटिव रेट बढ़कर 4.76 फीसद और रिकवरी रेट घटकर 94.38 फीसद पर आ गया है. प्रत्येक दस लाख लोगों पर दो लाख 55 हजार 929 लोगों के टेस्ट किए जा रहे हैं. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र गुरुग्राम-फरीदाबाद के साथ ही जीटी रोड पर पड़ते अंबाला, करनाल, कुरुक्षेत्र, पंचकूला, यमुनानगर और हिसार हॉट स्पॉट बने हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज