Assembly Banner 2021

दिल्ली रेलवे डिवीजन अस्पताल में रेल कर्मियों के लिए शुरू हुआ कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर

दिल्ली मंडल के अस्पताल में कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर की शुरुआत की गई है.

दिल्ली मंडल के अस्पताल में कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर की शुरुआत की गई है.

उत्तर रेलवे महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने बताया कि कोरोना के खिलाफ छेडी गयी जंग को जीतने के मददेनज़र, दिल्ली मंडल के अंतर्गत दिल्ली मंडल अस्पताल (Delhi Division Hospital) में आज सुबह 9 बजे से कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम की शुरूआत की गयी.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना महामारी (Corona Pandemic) से रेल कर्मियों को बचाने के लिए अब दिल्ली मंडल के अस्पताल में कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर की शुरुआत की गई है. अस्पताल में रेलकर्मी सुबह 9 बजे से कोरोना टीका लगवा सकेंगे


रेलवे अधिकारियों के मुताबिक कोरोना महामारी के दौरान मास्क पहनने और सामाजिक दूरी रखने से वायरस के प्रभाव में आने और इसके संक्रमण के वहन का खतरा कम हो जाता है. लेकिन ये उपाय पर्याप्त नहीं है. टीका हमारी प्रतिरोधक क्षमता के साथ कार्य करता है.


यदि हम इस वायरस के सम्पर्क में आते हैं तो यह हमें सुरक्षा प्रदान करता है. कोरोना टीकाकरण (Corona Vaccination) समुदायों में रोग के प्रसार को रोकने में मदद करता है. यह हमें दूसरे रोगाणुओं से भी सुरक्षा प्रदान करता है.

Youtube Video




उत्तर रेलवे महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने बताया कि  कोरोना के खिलाफ छेडी गयी जंग को जीतने के मददेनज़र, दिल्ली मंडल के अंतर्गत दिल्ली मंडल अस्पताल (Delhi Division Hospital) में आज सुबह 9 बजे से कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम की शुरूआत की गयी.


इस अवसर पर उत्तर रेलवे (Northern Railway) के प्रमुख मुख्य चिकित्सा निदेशक डा. एन.के.यादव, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक/दिल्ली डा. मान सिंह, कोरोना टीकाकरण की नोडल अधिकारी सहायक मुख्य चिकित्सा अधीक्षक/प्रशासन-2/दिल्ली, डा. आशा लता के साथ ही साथ दिल्ली मंडल के अन्य चिकित्सक भी उपस्थित थे.


इस केन्द्र में एम्बुलेंस सेवाएं, वैक्सीन भंडारण के लिए आईएलआर, टीकाकरण के दौरान किसी भी प्रतिकूल प्रभाव से निपटने के लिए आपातकालीन कक्ष तथा सीडीएमओ और डी.एम./सेंट्रल ऑफिस से प्रशिक्षित कर्मचारी भी तैनात हैं.


भारत सरकार (Government of India) के स्वास्थ्य एवं कल्याण मंत्रालय (Ministry of Health & Family) द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप तैयार इस टीकाकरण केन्द्र में विभिन्न विभागों के लगभग 10 हज़ार से अधिक फील्ड वर्करों, कुम्भ मेला कर्मचारियों, 45 वर्ष से अधिक की आयु के प्रभावितों तथा 50 वर्ष से अधिक आयु वाले और वरिष्ठ नागरिकों को लाभ होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज