Corona Vaccination पर जावड़ेकर का दिल्ली के CM केजरीवाल को जवाब, कहा- बंद करें बहानेबाजी

केजरीवाल के आरोपों पर जावड़ेकर ने दिया जवाब.

केजरीवाल के आरोपों पर जावड़ेकर ने दिया जवाब.

कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर देश में हर राज्य जुटा हुआ है. इस बीच दिल्ली और केंद्र सरकार के बीच जिस तरह के आरोप-प्रत्यारोप दिख रहे हैं, वैसी स्थिति कहीं और नहीं है. दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने वैक्सीन की कमी का हवाला देते हुए राजधानी में वैक्सीनेशन बंद करने की बात कही है. उनके इस कदम पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने उन्हें हिदायत दी है कि वे बहानेबाजी करना बंद करें और इस मुद्दे से सियासी फायदा उठाने की कोशिश न करें.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल लगातार केंद्र सरकार को कठघरे में खड़े करते आए हैं. अब सरकार ने केजरीवाल पर पलटवार किया है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री वैक्सीनेशन पर राजनीति कर रहे हैं. वे बार-बार वैक्सीन की मांग कर रहे हैं. उन्होंने जानकारी दी कि कल ही दिल्ली में वैक्सीन की 50 लाख खुराक की आपूर्ति की गई है. खुद केजरीवाल ने इन आंकड़ों के साथ बयान दिया है. जबकि आने वाले दिनों में और भी खुराक दिल्ली को दी जाने वाली हैं.

जावड़ेकर ने कहा कि- मैं केजरीवाल से पूछना चाह रहा हूं कि आखिर ये 50 लाख वैक्सीन की खुराक आई कहां से? उन्होंने कहा कि केजरीवाल को बहाने बनाना बंद करना चाहिए. देश में 20 करोड़ वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं, जो केंद्र की ओर से ही दी गई हैं. स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने साल के अंत तक सभी वयस्कों के टीकाकरण की योजना भी बना ली है.

केजरीवाल ने केंद्र सरकार को घेरा था

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि वैक्सीन की कमी के कारण दिल्ली में रविवार से 18+ आयु वर्ग का वैक्सीनेशन बंद किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि टीके का भंडार खत्म होने के कारण 18-44 आयु वर्ग के लिए टीकाकरण को रोकना पड़ेगा. अब दिल्ली में युवाओं को वैक्सीन नहीं लग पाएगी.
'इस रफ्तार से चले तो 30 महीने लगेंगे'

केजरीवाल ने पीएम मोदी को एक चिट्ठी भी लिखी है. जिसे पढ़कर सुनाते हुए उन्होंने बताया कि वैक्सीन का स्टॉक अब खत्म हो रहा है, ऐसे में दिल्ली में वैक्सीनेशन बंद हो रहा है. इसके अलावा उन्होंने हर महीने दिल्ली के लिए 80 लाख वैक्सीन की जरूरत का भी जिक्र किया. उन्होंने बताया कि ऐसा करने से 3 महीने में पूरी दिल्ली वैक्सीनेटेड हो जाएगी. केजरीवाल ने ये भी कहा कि मई में दिल्ली को 16 लाख वैक्सीन की खुराक मिली थी और जून में उन्हें सिर्फ 8 लाख खुराक ही मिलनी है. अगर इस तरह से काम चला तो 30 महीने में भी दिल्ली के सिर्फ वयस्क ही टीकाकरण के दायरे में आ सकेंगे.

केजरीवाल ने 4 सलाह भी दी



दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना से लोगों की जान बचाने के लिए हमें वैक्सीन की उपलब्धता देश में तुरंत बढ़ानी होगी. उन्होंने केंद्र से दिल्ली में वैक्सीन का कोटा बढ़ाने की भी अपील की. उन्होंने केंद्र को वैक्सीनेशन की शॉर्टेज से निपटने के लिए 4 सुझाव भी दिए-

भारत सरकार देश में वैक्सीन बनाने वाली सभी कंपनियों को बुलाकर भारत बायोटेक की वैक्सीन बनाने के लिए कहे.

सभी विदेशी वैक्सीन कंपनियों की वैक्सीन को भारत में इस्तेमाल करने की तुरंत इजाजत दी जाए, इसके लिए भारत सरकार उनसे बात करे और खरीद कर राज्य सरकारों को मुहैया कराए.

कुछ देश ऐसे हैं जिन्होंने जरूरत से ज्यादा वैक्सीन का स्टॉक जमा कर लिया है, सरकार उनसे वैक्सीन वापस लेने की गुजारिश करे.

वैक्सीन निर्माता कंपनियों को भारत में उत्पादन की अनुमति दी जाए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज