Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    CBSE Board Exam: कोरोना का डर, अब सेंटर पर फेस मास्क और सेनिटाइजर ले जा सकेंगे छात्र

    सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) से मान्यता प्राप्त स्कूलों में कॉम्पीटेंसी बेस्ड असेसमेंट लागू होने वाला है.
    सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) से मान्यता प्राप्त स्कूलों में कॉम्पीटेंसी बेस्ड असेसमेंट लागू होने वाला है.

    कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीबीएसई ने जारी की नई गाइडलाइन, छात्रों को अब बोर्ड एग्जाम के दौरान फेस मास्क पहनने और हैंड सेनिटाइजर का इस्तेमाल करने की दी गई छूट.

    • Share this:
    नई दिल्ली. देश भर में कोरोना वायरस को लेकर केंद्र सरकार लगातार नजर बनाए हुए है. इस बीच सीबीएसई की 10वीं और 12वीं के बच्चों की बोर्ड एग्जाम चल रही है. सीबीएसई ने छात्रों को कहा है कि अगर वो चाहे तो एग्जाम सेंटर पर फेस मास्क और सैनिटाइजर ले कर जा सकते हैं. कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर सीबीएसई दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षाओं में बैठने वाले छात्रों को परीक्षा केंद्र में मास्क और हैंड सेनेटाइजर ले जाने की इजाजत देगी. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने बुधवार को यह घोषणा की.

    सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने कहा कि छात्र परीक्षा केंद्रों में फेस मास्क और सेनेटाइजर ले जा सकेंगे. बता दें, दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं 15 फरवरी से शुरू हो चुकी हैं.


    छात्रों के बीच जागरूकता फैलाने का निर्देश
    इससे पहले मानव संसाधन विकास (HRD) मंत्रालय ने बुधवार को सभी राज्यों के मुख्य सचिवों और केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) को निर्देश दिया कि वे कोरोना वायरस के खिलाफ जरूरी एहतियाती कदमों को लेकर छात्रों में जागरूकता फैलाएं.



    केंद्र सरकार ने उठाए कई कदम
    एचआरडी सचिव अमित खरे ने एक पत्र में कहा कि ‘‘जागरूक छात्र अपने परिवार, समुदाय के लिए तथा इससे भी आगे परिवर्तन के वाहक हो सकते हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने विषाणु के प्रसार को रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं, लेकिन आम जनता में जागरूकता फैलाना नए कोरोना वायरस को रोकने और इसके प्रसार को नियंत्रित करने के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है.’’

    इस तरह करें बचाव
    खरे ने कहा, ‘‘छात्रों में जागरूकता फैलाने के क्रम में, बार-बार हाथ धोने, छींकते या खांसते समय मुंह पर रुमाल रखने, टिश्यू पेपर, कमीज की बाजू के ऊपरी हिस्से का इस्तेमाल करने, बीमारी के समय स्कूल से दूर रहना, भीड़भाड़ से बचने जैसे सावधानी भरे कदम न सिर्फ इस बीमारी, बल्कि बड़ी संख्या में अन्य संक्रामक रोगों को रोकने या इनके प्रसार को नियंत्रित करने में मदद करेंगे.’’

    ये भी पढ़ें: 

    Corona Alert: गुरुग्राम में पॉजिटिव केस, Paytm का कर्मचारी चपेट में

     

    कोरोना वायरस अलर्टः दिल्ली मेट्रो यात्रियों को बताएगा- क्या करें, क्या ना करें

     

     

     
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज