लाइव टीवी

तीसरे माले से लटकती रस्सी पर टिकी है दिल्ली के 'कोरोना वॉरियर' के परिवार की जिंदगी, जानिए वजह
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 22, 2020, 8:23 PM IST
तीसरे माले से लटकती रस्सी पर टिकी है दिल्ली के 'कोरोना वॉरियर' के परिवार की जिंदगी, जानिए वजह
कोरोना वॉरियर के परिवार को दिल्‍ली सरकार से नहीं मिल रही कोई मदद (सांकेतिक फोटो)

दिल्‍ली में एक कोरोना वॉरियर (Corona Warrior) के परिवार की जिंदगी की डोर आजकल तीसरी मंजिल से लटकती एक रस्सी पर टिकी हुई है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस संक्रमण ( Coronavirus infection) के दौरान जाने-अनजाने तमाम लोगों की जान बचाने वाले एक कोरोना वॉरियर (Corona Warrior) के परिवार की जिंदगी की डोर आजकल तीसरी मंजिल से लटकती एक रस्सी पर टिकी हुई है. जी हां, पति के कोरोना वायरस संक्रमित होने के बाद किराये के दो कमरे के मकान में दो बच्चों के साथ रह रहीं 32 वर्षीय रश्मि (बदला हुआ नाम) दूध, सब्जी और अन्य तमाम जरुरी चीजों के लिए पूरी तरह से अपने पड़ोसियों पर निर्भर है.हालांकि अच्छी बात यह है कि लोग बखूबी अपना पड़ोसी धर्म निभाते हुए रश्मि और उनके बच्चों की हरसंभव मदद कर रहे हैं.

13 मई को कोरोना वॉरियर हुआ संक्रमित
इस कोरोना योद्धा के वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद 13 मई से ही रश्मि और उनके दोनों बच्चे (10 साल से कम उम्र के) क्‍वारंटाइटन में रह रहे हैं. जबकि रश्मि की इमारत में ही तीसरी मंजिल पर रहने वाले ओम प्रकाश अपनी बालकनी से रस्सी में थैला बांध कर उसकी मदद से भोजन और बाकी जरुरी चीजें दूसरी मंजिल में इस परिवार को पहुंचा रहे हैं.

पड़ोसियों ने किया ये दावा



गुलाबी बाग के दिल्ली सरकार के सरकारी आवास में रहने वाले रश्मि के तीन अन्य पड़ोसियों का दावा है कि प्रशासन से इस परिवार को कोई मदद नहीं मिली है. पड़ोस के लोग जरुरी चीजें और बच्चों के लिए चॉकलेट लाकर ओम प्रकाश को देते हैं ,और वह बालकनी से थैला लटका कर उसे रश्मि तक पहुंचाते हैं. यही नहीं, पड़ोसियों का ये भी कहना है कि वे सभी इस कोरोना योद्धा के परिवार की मदद करना चाहते हैं और रस्सी की मदद से सुरक्षित दूरी बनाए रखते हुए वे ऐसा कर पा रहे हैं। ओम प्रकाश ने बताया कि रस्सी से सामान लटकाते वक्त वह दस्ताने पहनते हैं और अपने हाथों को सैनेटाइजर से अच्छे से संक्रमण मुक्त भी करते हैं.



गढ़वाली जन कल्याण समिति के अध्यक्ष ने कही ये बात
गुलाबी बाग की गढ़वाली जन कल्याण समिति के अध्यक्ष नरेद्र रावत ने दिल्ली सरकार से अनुरोध किया है कि वह क्‍वारंटाइन में रह रहे इस परिवार के लिए समुचित व्यवस्था करे. रावत ने कहा कि गुलाबी बाग के सरकारी आवासों में रहले वाले करीब 250 लोग कोविड-19 ड्यूटी में लगे हुए हैं. जबकि यहां रहने वाले सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को भी सरकारी रसोइयों आदि में जरुरतमंदों को भोजन बांटने के काम पर लगाया गया है. उन्होंने बताया, ‘हम सरकार से विनती करते हैं कि वह गुलाबी बाग सरकारी आवासों को संक्रमण मुक्त कराए क्योंकि यहां रहने वाले सैकड़ों लोग कोविड-19 ड्यूटी में लगे हुए हैं.’ (भाषा इनपुट)

ये भी पढ़ें

5 महीने का भ्रूण हाथ में ले रात भर रोते रहे पति-पत्नी, लेकिन नहीं पसीजे डॉक्टर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 22, 2020, 8:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading