निगम कर्मियों को नवंबर माह से नहीं मिली सैलरी, अब ये उठाया जा रहा अहम कदम!

कर्मचारियों को अलग-अलग माह की बकाया वेतन राशि के रूप में अदा करने की तैयारी की है.

कर्मचारियों को अलग-अलग माह की बकाया वेतन राशि के रूप में अदा करने की तैयारी की है.

नॉर्थ दिल्ली मेयर जय प्रकाश ने बताया कि कर्मचारियों का कुल लगभग 822 करोड़ रुपये निगम पर बकाया था जो अब 540 करोड़ रुपये जारी करने के बाद लगभग 200 करोड़ रुपये रह गया है. अप्रैल माह के अंत तक कर्मचारियों का सभी बकाया दे दिया जाएगा. वहीं, आगामी 9 अप्रैल को सभी लैफ्ट आउट सफाई कर्मचारियों को नियमितीकरण के पत्र दिए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 1:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वित्तीय संकट से जूझ रही नॉर्थ दिल्ली नगर निगम (North MCD) ने अब अपने कर्मचारियों को बकाया वेतन को अदा करने का फैसला किया है. नार्थ निगम की ओर से 540 करोड रुपए की राशि अपने कर्मचारियों को अलग-अलग माह की बकाया वेतन राशि के रूप में अदा करने की तैयारी की है.

निगम के शिक्षकों, स्वास्थ्य कर्मचारियों और सफाई कर्मचारियों को नवंबर से लेकर जनवरी माह तक अलग-अलग माह की सैलरी देने का फैसला किया गया है. इन सभी को संभवत: अप्रैल माह के अंत तक सैलरी रिलीज कर दी जाएगी.

नॉर्थ दिल्ली (North Delhi) के मेयर जय प्रकाश ने बताया कि नॉर्थ एमसीडी (North MCD) के कर्मचारियों के वेतन व सेवानिवृत्त कर्मचारियों की पेंशन के लिए 540 करोड़ रुपये जारी किए हैं.

निगम कर्मचारियों को इस तरीके से अदा की जाएगी सैलरीउन्होंने बताया कि सफाई कर्मचारियों व अन्य सफाई कर्मचारियों का दिसंबर व जनवरी महीने का वेतन, डोमेस्टिक ब्रिडिंग चेकर्स का दिसंबर व जनवरी महीने का वेतन, नर्सों का जनवरी महीने का वेतन, शिक्षकों को नवम्बर, दिसंबर व जनवरी महीने का वेतन, अन्य कर्मचारियों का जनवरी महीने का वेतन, रेजिडेंट डॉक्टरों व अन्य डॉक्टरों का जनवरी महीने का वेतन व मुख्यालय में कार्यरत कर्मचारियों का दिसंबर व जनवरी महीने का वेतन जारी कर दिया गया है.
निगम कर्मियों की सिर्फ 200 करोड़ रुपए रह जाएगी बकाया राशि

मेयर ने बताया कि कर्मचारियों का कुल लगभग 822 करोड़ रुपये निगम पर बकाया था जो अब 540 करोड़ रुपये जारी करने के बाद लगभग 200 करोड़ रुपये रह गया है. उन्होंने बताया कि अप्रैल माह के अंत तक कर्मचारियों का सभी बकाया दे दिया जाएगा. उन्होंने बाताया कि आगामी 9 अप्रैल को सभी लैफ्ट आउट सफाई कर्मचारियों को नियमितीकरण के पत्र दिए जाएंगेेे.

आम माफी योजना के तहत 104 करोड रुपए प्रॉपर्टी टैक्स से मिले



मेयर जय प्रकाश ने बताया कि नॉर्थ निगम ने नागरिकों को आम माफी योजना का लाभ दिया और इस आम माफी योजना के अंतर्गत निगम ने लगभग 104 करोड़ रुपये संपत्ति कर के रूप में एकत्रित किए हैं. उन्होंने बताया कि निगम के अधिकारियों ने पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष संपत्ति कर के रूप में 50 करोड़ रूपये अधिक संपत्ति कर के रूप में एकत्रित किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज