• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • दिल्ली दंगाः बिना ठोस कारण बताए कोर्ट में सुनवाई टालने की अर्जी लगाई, जांच अधिकारी के वेतन से कटेगा 5000 रुपए

दिल्ली दंगाः बिना ठोस कारण बताए कोर्ट में सुनवाई टालने की अर्जी लगाई, जांच अधिकारी के वेतन से कटेगा 5000 रुपए

दिल्ली पुलिस के वकील ने इसको लेकर मामले की सुनवाई टालने की अपील की, जिस पर नाराजगी जताते हुए कोर्ट ने यह आदेश दिया. (सांकेतिक फोटो)

दिल्ली पुलिस के वकील ने इसको लेकर मामले की सुनवाई टालने की अपील की, जिस पर नाराजगी जताते हुए कोर्ट ने यह आदेश दिया. (सांकेतिक फोटो)

Delhi Riots case: दयालपुर थाने में दर्ज मामले एक मामले की सुनवाई के दौरान कड़कड़डुमा कोर्ट ने दस्तावेज मांगा, न देने पर अदालत ने सख्त नाराजगी जाहिर करते हुए जांच अधिकारी के खिलाफ लगाया जुर्माना.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट (Karkardooma Court) ने दिल्ली दंगों से जुड़े एक मामले में बिना ठोस कारण बताए मामले की सुनवाई टालने पर नाराजगी जाहिर की. अदालत ने इसको लेकर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के जांच अधिकारी के ऊपर 5000 रुपए का जुर्माना भी लगाया है. यह मामला दयालपुर थाने (Dayalpur Police Station) में दर्ज रिपोर्ट से जुड़ा है. आज सुनवाई के दौरान अदालत ने दिल्ली पुलिस के वकील से मामले से जुड़ा दस्तावेज मांगा, लेकिन यह मुहैया नहीं कराया जा सका. वहीं, दिल्ली पुलिस के वकील ने इसको लेकर मामले की सुनवाई टालने की अपील की, जिस पर नाराजगी जताते हुए कोर्ट ने यह आदेश दिया.

इससे पहले आज दिल्ली हाईकोर्ट ने पिछले साल उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों के एक मामले की सुनवाई में एक आरोपी को जमानत देने से इनकार कर दिया. साथ ही कोर्ट ने इसे सोची-समझी साजिश करार दिया. हाईकोर्ट ने अपनी सख्त टिप्पणी में कहा कि शहर में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति को बिगाड़ने के लिए यह पूर्व नियोजित साजिश रची गई. सुनवाई के दौरान जज ने यह भी कहा कि ये घटनाएं क्षणिक आवेश में नहीं हुईं. हाईकोर्ट में दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल की कथित हत्या से जुड़े मामले की सुनवाई हो रही थी. इस मामले में आरोपी मो. इब्राहिम की तरफ से दाखिल जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए अदालत ने ये कड़ी टिप्पणियां की.

इसके बाद से वह न्यायिक हिरासत में है
हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल की कथित हत्या के आरोपी की जमानत याचिका खारिज करते हुए हाईकोर्ट ने कहा कि एक वीडियो फुटेज में याचिकाकर्ता तलवार के साथ दिख रहा है, जो काफी भयानक था. यह वीडियो फुटेज उसे हिरासत में रखने के लिए पर्याप्त है. गौरतलब है कि आरोपी इब्राहिम को पिछले साल दिसंबर में गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद से वह न्यायिक हिरासत में है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज