COVID-19: 2 पॉजिटिव के संपर्क में आए थाना इंचार्ज समेत 26 दिल्ली पुलिसकर्मी क्वारंटाइन

सफलता की यह कहानी वाकई प्रेरणा देने वाली होती है. (प्रतीकात्मक चित्र)
सफलता की यह कहानी वाकई प्रेरणा देने वाली होती है. (प्रतीकात्मक चित्र)

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के एक स्टेशन हाउस अधिकारी सहित 26 पुलिस कर्मी शुक्रवार को क्वारंटाइन कर दिए गए. ये सभी कर्मी उन 2 पुलिस कांस्टेबल्स के संपर्क में आए थे, जिनका कोविड-19 (COVID-19) का टेस्ट पॉजिटिव पाया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2020, 3:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश और दुनिया में कोविड-19 (COVID-19) का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है. इस जानलेवा वायरस से शुक्रवार सुबह तक दुनियाभर में एक लाख 45 हजार से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. भारत में भी कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है. शुक्रवार सुबह तक 13,387 संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं. इसमें से केवल 1,749 ठीक हुए हैं. इस वायरस से भारत में 437 लोगों की जान जा चुकी है.  दिल्ली में भी यह वायरस तेजी से बढ़ता जा रहा है.

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के एक स्टेशन हाउस अधिकारी सहित 26 पुलिस कर्मी शुक्रवार को क्वारंटाइन कर दिए गए. ये सभी कर्मी उन 2 पुलिस कांस्टेबल्स के संपर्क में आए थे, जिनका कोविड-19 (COVID-19) का टेस्ट पॉजिटिव पाया गया था. 24 घंटे के अंदर गुरुवार तक दिल्ली में 62 नए पॉजिटिव केस की पुष्टि हुई है. इस दौरान 6 लोगों की मौत हो गई. इसी के साथ दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1640 पर पहुंच गया है.


गुरुवार तक देश में कोरोना से 420 मौत, संक्रमितों की संख्या 12,759 पहुंची
उल्लेखनीय है कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार देश में कोरोना वायरस के कारण मरने वाले लोगों की संख्या गुरुवार को 420 हो गई और मामलों की संख्या बढ़कर 12,759 तक पहुंच गई. मंत्रालय ने हालांकि, बताया कि कोविड-19 के 10,824 मरीजों का अभी भी इलाज चल रहा है, जबकि 1,514 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है और एक मरीज विदेश चला गया है. संक्रमण के कुल मामलों में 76 विदेशी नागरिक शामिल हैं.



बेहतर काम करने वाले शहरों को लॉकडाउन से आंशिक छूट मिलेगी
लव अग्रवाल ने बताया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन मई तक लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने की घोषणा की है. इस दौरान लॉकडाउन के मानकों के पालन को सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक शहर के प्रयासों का 20 अप्रैल तक मूल्यांकन किया जाएगा. इसके आधार पर बेहतर काम करने वाले शहरों को लॉकडाउन से आंशिक छूट दी जाएगी. अग्रवाल ने स्पष्ट किया कि सशर्त छूट मिलने के बाद अगर उस शहर में शर्तों के पालन में कोई लापरवाही पायी गई तो छूट वापस भी ली जा सकेगी. अग्रवाल ने कहा कि शहरों के मूल्यांकन की क्या पद्धति होगी, इसे मंत्रालय द्वारा जल्द सार्वजनिक किया जाएगा.

ये भी पढ़ें - 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज