Home /News /delhi-ncr /

Covid 19: हेल्थ मिनिस्ट्री ने Delhi में कम्युनिटी ट्रांसमिशन को लेकर किया यह बड़ा खुलासा-सूत्र

Covid 19: हेल्थ मिनिस्ट्री ने Delhi में कम्युनिटी ट्रांसमिशन को लेकर किया यह बड़ा खुलासा-सूत्र

सपा सरकार में राज्यमंत्री रह चुके हैं ललई यादव. (प्रतीकात्मक फोटो)

सपा सरकार में राज्यमंत्री रह चुके हैं ललई यादव. (प्रतीकात्मक फोटो)

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने यह माना है कि कम्युनिटी ट्रांसमिशन उस स्थिति को कहा जाता है, जब संक्रमण के सोर्स के बारे में निश्चित तौर पर कुछ न कहा जा सके. दिल्‍ली (Delhi) में कोरोना (Corona) संक्रमण के तकरीबन आधे मामले) ऐसे ही हैं.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) को लेकर केन्द्र और राज्य सरकार में जंग छिड़ी हुई है. दिल्‍ली सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने यह माना है कि देश की राजधानी में कम्‍यूनिटी स्‍प्रेड जैसी उत्‍पन्‍न हो गई है. हालांकि, उन्‍होंने यह भी कहा है कि इस पर फैसला केंद्र सरकार ही लेगी. वहीं हेल्थ मिनिस्ट्री दिल्ली में कम्युनिटी ट्रांसमिशन (Community transmission ) की बात को नकार रही है.

    उसका आरोप है कि दिल्ली में कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग ठीक से नहीं हो रही है. दिल्ली के 11 ज़िलों में से कई की हालत बहुत खराब है. लेकिन हम हर मदद को तैयार है. मुम्बई (Mumbai) का धारावी इसका बड़ा उदाहरण हैं. कम्युनिटी ट्रांसमिशन उस स्थिति को कहा जाता है, जब संक्रमण के सोर्स के बारे में निश्चित तौर पर कुछ न कहा जा सके. दिल्‍ली (Delhi) में कोरोना (Corona) संक्रमण के तकरीबन आधे मामले) ऐसे ही हैं.

    हेल्थ मिनिस्ट्री ने दिल्ली सरकार पर उठाय यह सवाल

    दिल्ली में कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं है. दिल्ली के कंट्रेमेंट ज़ोन में एक्टिव केस को और बेहतर ढंग से तलाश करने की जरूरत है. जब सोर्स की तलाश ठीक से नहीं होगी तो फिर कम्युनिटी ट्रांसमिशन कैसा. और जब तक ठीक तरह से सोर्स की तलाश नहीं की जाएगी तो कंटेंमेंट ज़ोन से केस निकलते ही रहेंगे. इसलिए जरूरी है कि घर-घर चलने वाले अभियान को और ठीक किया जाए.

    दिल्ली के 11 ज़िलों में से कुछ बेहतर हालत में हैं. 11 में से 5 ज़िलों में पॉजिटिव केस रेट 20 फीसद से भी ज़्यादा है. नई दिल्ली और साउथ दिल्ली ज़िले बेहतर हालत में हैं. हम टेक्निकल के साथ-साथ हर तरह की मदद को तैयार हैं. धारावी को उदाहरण के तौर पर देखा जा सकता है. धारावी में पहले 60 से 80 नए केस रोज़ाना आ रहे थे और 10 से 12 मौत हो रहीं थी. लेकिन पिछले 5 दिनों से सिर्फ 10 से 17 आ रहे हैं और अब एक भी मौत नहीं है.

    इस तरह तय होता है कि कम्युनिटी ट्रांसमिशन हो रहा है

    अगर कहीं पर बीमारी के स्त्रोत का पता नहीं लग सके तो माना जा सकता है कि कम्युनिटी ट्रांसमिशन शुरू हो चुका है. हालांकि इसके बाद भी अधिकारी इसकी जांच के बाद तय करेंगे कि ये संचार का कौन सा चरण है. हर स्टेट में स्वास्थ्य विभाग ने हेल्थ वर्कर्स को जिम्मा दिया है कि वे संदिग्ध लोगों तक पहुंचे. अगर कॉस्टैक्ट ट्रेसिंग के बाद भी बीमारी के स्त्रोत का पता न लगे सके, तो इसे कम्युनिटी ट्रांसमिशन की ओर जाता मान सकते हैं.

    ये भी पढ़ें:-

    फिर बंद हो सकती है शाहीन बाग-कालिंदी कुंज सड़क, Delhi Police कमिश्नर और गृह सचिव को लिखा लैटर!

    Lockdown में डेढ़ करोड़ फूड पैकेट और 605 टन राशन बांटने के बाद आज बंद हो जाएगा यह हेल्‍पलाइन नंबर

    Tags: Corona positive, Delhi Government, Lockdown. Covid 19, Ministry of Health

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर