अपना शहर चुनें

States

बड़ी खबर: दिल्ली में COVID-19 के मामले घटे, 115 निजी अस्पतालों के ICU बेड होंगे कम

दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. (सांकेतिक चित्र)
दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. (सांकेतिक चित्र)

COVID-19: दिल्ली सरकार ने 115 निजी अस्पतालों को COVID और ICU बिस्तरों को बंद करने का आदेश कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2021, 10:52 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. प्रदूषण और शीतलहर की मार झेल रहे दिल्ली (Delhi) के लिए एक राहत भरी खबर सामने आई है. केजरीवाल सरकार के मुताबिक राजधानी में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी देखी गई है. कोविड 19 (COVID-19) के मामलों में गिरावट के मद्देनजर एक बड़ा फैसला लिया गया है. दिल्ली सरकार ने 115 निजी अस्पतालों को COVID और ICU बिस्तरों को कम करने का आदेश जारी किया है. वहीं
दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, दिल्ली में पिछले 24 घंटों में COVID19 के 340 नए मामले मिले हैं. इसके साथ ही गुरुवार को 390 मरीजों ने संक्रमण से रिकवरी कर ली. जबकि कोरोना संक्रमित 4 लोगों की मौतें हुई हैं.

दिल्ली में कोरोना संक्रमण के अभी तक कुल 6,31,589 मामले सामने आए हैं. इनमें से 6,17,930 की रिकवरी हो चुकी है. दिल्ली में कोरोना से हुई मौतों का आंकड़ा 10,722 तक पहुंच गया है. इसके बाद सक्रिय मामले 2,937 रह गए हैं.





ये भी पढ़ें: काला हिरण शिकार मामला: जोधपुर कोर्ट में शनिवार को सलमान खान की पेशी, 16 बार ले चुके हैं हाजरी माफी



सरकार का बड़ा फैसला

दिल्ली सरकार ने यूनाइटेड किंगडम  से दिल्ली आने वाले मुसाफिरों के लिए जारी अपने निर्देशों में संशोधन किया है. अब 31 जनवरी तक जो भी यात्री यूके से दिल्ली आएंगे, उन्हें 14 दिनों तक क्वॉरंटाइन रहना होगा. दिल्ली सरकार ने यह फैसला कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लिया है. आपको याद दिला दें कि केंद्र सरकार ने यूके आने-जाने वाली फ्लाइटों पर एक हफ्ते की रोक लगा दी थी और उसके बाद फिर वहां से हवाई यात्रा की इजाजत दी गई. पहली ही फ्लाइट में आए मुसाफिरों में तीन यात्री नए स्ट्रेन (New Strain) से संक्रमित मिले थे. अब केजरीवाल सरकार ने संक्रमण को रोकने के लिहाज से यूके से आने वाले हर यात्रियों को अनिवार्य रूप से 14 दिनों के क्वॉरंटाइन में भेजने की तारीख 31 जनवरी तक बढ़ा दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज