COVID-19: दिल्ली में फंसे विदेशी पर्यटकों के पास कैश की कमी, होटल कारोबारियों ने बढ़ाए मदद के हाथ
Delhi-Ncr News in Hindi

COVID-19: दिल्ली में फंसे विदेशी पर्यटकों के पास कैश की कमी, होटल कारोबारियों ने बढ़ाए मदद के हाथ
दिल्ली के पहाड़गंज के होटलों में फंसे विदेशी पर्यटक कैश क्रंच से जूझ रहे हैं

यूरोपीय देशों के पर्यटक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में फंस गए हैं और उनके पास नकदी की कमी हो गई है. इन हालात में दिल्ली होटल व्यवसायी उनके लिए बगैर किसी पैसे के उन्हें भोजन उपलब्ध करा रहे हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बचाव के लिए पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) चल रहा है. इन हालात में कुछ यूरोपीय देशों (European Tourist) के पर्यटक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में फंस (Stranded in Delhi) गए हैं और उनके पास नकदी की कमी (Cash Crunch) हो गई है. इन हालात में दिल्ली होटल व्यवसायी उनके लिए बगैर किसी पैसे के उन्हें भोजन उपलब्ध करा रहे हैं. ये विदेशी पर्यटक दिल्ली के पहाड़गंज स्थित होटलों में ठहरे हुए हैं. होटल व्यवसायियों ने अपनी उदारता दिखाई है और वे इन पर्यटकों को होटल भी खाली करने को नहीं कह रहे हैं.

ग्रीस के अन्स्तेजिया जेरानी ने कहा कि मुझे घूमने के दौरान बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. हमें अनिवार्य बुनियादी जरूरी सामान भी बहुत मुश्किल से मिल पा रहा है. उन्होंने कहा कि यहां बहुत थोड़ी मेडिसिन की दुकानें खुली हुई हैं. हमें भोजन के लिए जहां हम ठहरे हुए हैं, उन्हीं पर निर्भर होना पड़ रहा है. हम इस मुश्किल घड़ी में मदद के लिए आगे आए होटल कारोबारी के लिए बहुत आभारी हैं.

हम अपने वतन लौट जाना चाहते हैं



उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के एक सप्ताह से ज्यादा समय बीत गए हैं और हम अपने देशों में लौटने की कोशिश कर रहे हैं. सभी उड़ानें रद्द कर दी गई हैं. अब हमारे पास नकदी नहीं है. हम किसी तरह से बस अपने वतन, अपने घर वापस लौट जाना चाहते हैं.



"ग्रीक सरकार हमारे लिए एक विमान भेजे"

ग्रीस के एक अन्य टूरिस्ट डेमेत्रियो ने कहा कि उनके पास नकदी नहीं है और वह बस किसी तरह से अपने घर वापिस लौट जाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि मैं भारत की यात्रा पर यहां आया था. होटल हमें सभी सुविधाएं दे रहा है. मैं चाहता हूं कि ग्रीक सरकार हमें यहां से अपने वतन वापस ले जाने के लिए एक विमान भेजे.

मैं अंडमान व निकोबार में घूम रही थी: मारिद रोन

फ्रांस के मारिद रोन ने बताया कि उनके पास नकदी नहीं बची है. उन्हें कहा कि वह अपने
घर वापस लौट जाना चाहती हैं. उन्होंने कहा कि वह अंडमान और निकोबार में घूम रही थीं और अचानक भारत सरकार ने हमें जगह छोड़ने के लिए कहा. मैं दिल्ली आ गई क्योंकि मेरे साथ भारत आए दोस्त यहां थे.

''हमें ग्रीक सरकार से नहीं मिली कोई मदद"

ग्रीस के निवासी मारिया जाफेरेयो ने नम आंखों से बताया कि वह आभारी हैं कि होटल कारोबारी उन्हें भोजन करा रहे हैं. हम यहां फंस गए हैं और हमारा वीजा भी जल्द ही समाप्त हो जाएगा. हमारे दोस्त भी भारत के अलग-अलग जगहों में फंस गए हैं. हम होटल कारोबारी के आभारी हैं. हमें अपने देश, अपने सरकार से कोई मदद नहीं मिल पाई है. हम यहां एक कमरे में कई दिनों से बंद हैं और यह हालात कब तक बने रहेंगे.

गृह मंत्रालय ने जारी किया पत्र

वर्तमान में COVID-19 के कारण यात्रा प्रतिबंधों से प्रभावित भारत में रहने वाले विदेशी नागरिकों की मदद करने के लिए गृह मंत्रालय ने एक पत्र जारी किया है. इस पत्र में कहा गया है कि
भारत में कई विदेशी नागरिक यात्रा प्रतिबंधों के लागू होने के बाद से यहां रूके हुए हैं और अपने वीजा की वैधता के दौरान देश से बाहर निकलने में असमर्थ हैं, इसलिए कार्यालय द्वारा आवश्यक कांसुलर सेवाएं प्रदान करने का निर्णय लिया गया है. गृह मंत्रालय ने कहा ​है कि क्षेत्रीय पंजीकरण अधिकारी/ विदेशी पंजीकरण अधिकारी वर्तमान में भारत में विदेशी नागरिकों के लिए पंजीकरण की प्रक्रिया में मदद कर रहे हैं.

ग्रीस और फांस की सरकार ने ये कहा

ग्रीस के विदेश मंत्रालय ने आपातकालीन स्थिति में अपने नागरिकों को जो विदेश में फंसे हुए हैं को संकटकालीन आपातकालीन नंबरों पर कॉल करने को कहा है. वहीं फ्रांस की सरकार ने एक बयान में कहा है कि फ्रांस के नागरिक जो विदेशों में फंसे हुए हैं, के मदद करने की बात कही है. विदेशों में फंसे अपने नागरिकों के वापस फ्रांस में वापिस लौटने के लिए सभी आवश्यक उपाय तुरंत करने के लिए कहा है. उनकी सहायता करने के लिए, परिवहन मंत्रालय ने एयरलाइन कंपनियों से कहा है कि वे फ्रांस के लिए अपनी उड़ानों को कम कीमतों पर बनाए रखें.

ये भी पढ़ें: जमशेदपुर के दो छात्रों ने बनाया Corona ऑनलाइन गेम, जानें क्‍या है खास 

लॉकडाउन में सीएम अरविंद केजरीवाल की सलाह- घर पर कीजिए भगवद् गीता का पाठ
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading