'पाक से युद्ध हो जाए तो क्या राज्य अपने-अपने टैंक खरीदेंगे' केंद्र पर केजरीवाल का तंज

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र पर साधा निशाना.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र पर साधा निशाना.

Vaccine Shortage in Delhi: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भारत ने टीकाकरण करने में देरी कर दी. दिल्ली में कोरोना वैक्सीन की काफी कमी है

  • Share this:

दिल्ली. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने एक बार फिर दिल्ली (Delhi) में कोरोना वैक्सीन की कमी का मुद्दा उठाया. केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि देशभर में कई टीका (Corona Vaccine) केंद्र बंद हो गए हैं. इस महामारी के दौरान कई नए केंद्र खोलने चाहिए थे, लेकिन मौजूदा केंद्र भी खोलने पड़ रहे है. कोरोना टीका का भारी किल्लत है. देश के लोगों को सही समय पर टीका लगा दिए जाते तो कोरोना के दूसरे लहर में कई जिंदगियां बचाई जा सकती थी. उन्होंने कहा कि भारत ने टीकाकरण में 6 महीनों की देरी कर दी. अपने लोगोंं को वैक्सीन देने के बजाय दुनिया के दूसरे देशों को भेज रहे थे.

केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, "देश वैक्सीन क्यों नहीं खरीद रहा. कोरोना से युद्ध कर रहा है. कल पाकिस्तान भारत पर युद्ध करता है तो ये तो थोड़ी कहेंगे राज्य अपने अपने टैंक खरीद लें. यूपी वाले अपना टैंक खरीद लें, दिल्ली अपने हथियार. ऐसा थोड़ी होता है. भारत किसी भी कीमत पर ये युध्द नहीं हार सकता. केंद्र अगर हारती है तो भाजपा नहीं देश हारेगा. दिल्ली सरकार हारती है आम आदमी पार्टी नहीं देश हारेगा. महाराष्ट्र सरकार हारती है तो शिवसेना नहीं, देश हारेगा."

सीएम केजरीवाल ने कहा, 'दुनिया की पहली वैक्सीन भारतीय वैज्ञानिकों ने बनाई. इसका उत्पादन बढ़ाकर देश के लोगों को टीका लगाया जा सकता था. दुख इस बात की है कि आज भी हम सचेत नहीं हुए है. केंद्र ने राज्यों से कहा कि वे टीका खरीदे. करीब सभी राज्य टीका खरीदने के लिए यहां वहां संंपर्क करने में जुट गई. लेकिन जानकारी के मुताबिक केंद्र सरकार द्वारा मुहैया कराये गए टीका के अलावा कोई भी राज्य एक भी टीका की व्यवस्था नहीं कर पाया.'

केंद्र सरकार से अपील
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ये वक्त देश के 36 राज्य और संघ शासित प्रदेशों को टीम इंडिया बन कर केंद्र के साथ काम करना है. कोरोना के खिलाफ लड़े जा रहे इस युद्ध में देश के हर व्यक्ति को वैक्सीन लगाने के लिए हमें राज्यों को बंटकर नहीं बल्कि एकजुट भारत के तौर पर आगे बढ़ना होगा. उन्हें कहा  कि राज्य के मुख्यमंत्री केंद्र के साथ काम करने के लिए तैयार है. आप टीका लाकर दीजिए. हमारा काम है टीकाकरण का वो हम करेंगे.

कोरोना की रफ्तार धीमा

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना का ग्राफ अब धीरे-धीरे कम होता दिख रहा है. बुधवार को पिछले 2 महीने के मुकाबले सबसे कम नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में दिल्ली में 1419 नए कोरोना केस सामने आए हैं. अब दिल्ली में  पॉजिटिविटी रेट 1.93 फीसदी हो गई है. संक्रमण की वजह से 130 लोगों की मौत आज दर्ज की गई है.



30 मार्च के बाद एक दिन में सबसे कम केस बुधवार को मिले है. अब दिल्ली में एक्टिव मरीजों की संख्या 19,148 हो गई है. अब 10,079 मरीज होम आइसोलेशन में है. सक्रिय कोरोना मरीजों की दर भी घटकर 1.34 फीसदी हो गई है. रिकवरी दर बढ़कर 96.98 फीसदी तक पहुंच गई है. 24 घण्टे में 3952 मरीज डिस्चार्ज किए गए है. अब तक कुल 13,78,634 मरीजों ने कोरोना को मात देने में सफलता हासिल की है.  24 घण्टे में 77,103 टेस्ट हुए है. कंटेन्मेंट जोन्स की संख्या 36,873 है. कोरोना डेथ रेट 1.67 फीसदी तक पहुंच गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज