COVID-19: दिल्ली के अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव मरीज पर महिला डॉक्टर से दुर्व्यवहार का आरोप
Delhi-Ncr News in Hindi

COVID-19: दिल्ली के अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव मरीज पर महिला डॉक्टर से दुर्व्यवहार का आरोप
कोरोना से निपटने के लिए डॉक्टर्स दिन-रात खुद को जोखिम में डाल कर मेहनत कर रहे हैं (कॉन्सेप्ट इमेज)

ताजा मामला राजधानी दिल्ली (Delhi) के एक अस्पताल का है जहां कोविड-19 (COVID-19) के एक मरीज द्वारा एक महिला डॉक्टर से कथित तौर पर दुव्यर्वहार किए जाने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि इससे महिला डॉक्टर इतना डर गई कि उसने खुद को कमरे में बंद कर लिया.

  • News18India
  • Last Updated: April 16, 2020, 12:23 AM IST
  • Share this:
दिल्ली. महामारी (Pandemic) कोरोना वायरस (Coronavirus) से एक तरफ डॉक्टर्स व स्वास्थ्यकर्मी अपनी जान पर खेल कर जंग लड़ रहे हैं, सीमित संसाधनों के साथ संक्रमित लोगों का इलाज कर रहे हैं. बावजूद इसके आए दिन डॉक्टर्स व स्वास्थ्य कर्मियों के साथ कुछ लोगों के दुर्व्यवहार की घटनाएं सामने आ रही हैं जो बेहद शर्मनाक हैं. दिल्ली के एक प्रतिष्ठित अस्पताल में ड्यूटी पर तैनात महिला डॉक्टर ने मरीज पर दुर्व्यहार व धमकी देने का आरोप लगाया है.

डॉक्टर ने खुद को कमरे में बंद कर लिया
ताजा मामला राजधानी दिल्ली (Delhi) के एक अस्पताल का है जहां कोविड-19 (COVID-19) के एक मरीज द्वारा एक महिला डॉक्टर से कथित तौर पर दुव्यर्वहार किए जाने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि इससे महिला डॉक्टर इतना डर गई कि उसने खुद को कमरे में बंद कर लिया. अस्पताल के अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि घटना मंगलवार शाम  को एलएनजेपी अस्पताल में हुई. अस्पताल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि कोरोना वायरस का एक मरीज आक्रामक हो गया और एक महिला रेजिडेंट डॉक्टर को उसने धमकी दी. इससे वह (डॉक्टर) डर गई और ड्यूटी रूम की तरफ भागी. जहां डॉक्टर ने ड्यूटी रूम में मौजूद अन्य लोगों के साथ खुद को कमरे में बंद कर लिया. उसके बाद इस मरीज ने अस्पताल में भर्ती अन्य मरीजों को भी बुला लिया और अस्पताल के स्टाफ को धमकाया.

इस मामले में जब संबंधित क्षेत्र की पुलिस से जानकारी ली गई तो उनका कहना था कि उन्हें कथित घटना के संबंध में कोई औपचारिक शिकायत नहीं मिली है. जैसे ही शिकायत मिलेगी उचित कार्रवाई की जाएगी. कोरोना वायरस संकट (Coronavirus crisis) से निपटने के लिये देशव्यापी पूर्ण बंदी (Lockdown) की अवधि तीन मई तक बढ़ाये जाने के बाद केन्द्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने नये दिशानिर्देश जारी कर राज्य सरकारों को संक्रमण की तेज वृद्धि दर वाले हॉटस्पॉट जिलों (Hotspot Districts) में लॉकडाउन का सख्ती से पालन सुनिश्चित करने को कहा है. साथ ही स्वास्थ्य कर्मियों व डॉक्टरों से दुर्व्यवहार करने वालों से भी सख्ती से निपटने के निर्देश दिये गए हैं. मध्य प्रदेश व उत्तर प्रदेश में ऐसे मामलों में दोषियों पर NSA लगाने के भी निर्देश दिए जा चुके हैं.
150 से ज्‍यादा डॉक्‍टर्स और स्‍टाफ कोरोना पॉजिटिव


दिल्‍ली में आज एक और डॉक्‍टर कोरोना की चपेट में आ गया है. ये डॉक्‍टर मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में कार्यरत है. जबकि दिल्‍ली में अब तक 150 से ज्‍यादा डॉक्‍टर्स और स्‍टाफ कर्मी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं, जो कि राज्‍य और केंद्र सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती है.
(इनपुट-भाषा)

ये भी पढ़ें- साद कांधलवी की बजाय AIMPLB के प्रवक्ता की तस्वीर दिखाने पर मीडिया संस्थाओं को 10 करोड़ की मानहानि का नोटिस

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज