लाइव टीवी

COVID-19: कोरोना से जंग को तैयार हैं सेना के 8.5 हजार मेडिकल स्टाफ और 9000 बेड- रक्षा मंत्री
Delhi-Ncr News in Hindi

Sandeep Bol | News18Hindi
Updated: April 1, 2020, 8:30 PM IST
COVID-19: कोरोना से जंग को तैयार हैं सेना के 8.5 हजार मेडिकल स्टाफ और 9000 बेड- रक्षा मंत्री
Demo Pic.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को रक्षा मंत्रालय की तरफ से कोरोना वायरस (Coronavirus) की रोकथाम और उसके इलाज के लिए किसी भी हालात से निपटने के लिए किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) बचाव के लिए तीनों सेना कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं. हर स्तर पर तैयारी की जा रही है. डॉक्टर्स, पैरामेडिकल स्टाफ और अस्पताल की तैयारी कर ली गई है. एक इशारा मिलते ही इंडियन आर्मी (Indian Army), एयरफोर्स और नेवी के जवान इलाज करने में जुट जाएंगे. वेंटीलेटर (Ventilator), मास्क हों या फिर सैनेटाइजर, हर सामान का उत्पादन डबल करने के निर्देश रक्षा मंत्री (Defence minister) राजनाथ सिंह द्वारा दिए गए हैं. भारतीय नौसेना के जहाज भी हालात से निपटने के लिए तैयार खड़े हैं. एयरफोर्स जरूरत पड़ने पर मेडिकल से जुड़ा सामान पहुंचाने में लगी हुई है.

सेना के रिटायर्ड डॉक्टरों से कहा गया, तैयार रहिए

ऑर्म्ड फोर्स मेडिकल सर्विस के डीजी लेफ्टीनेंट जनरल अनूप बनर्जी ने रक्षा मंत्री को जानकारी देते हुए बताया कि मौजूदा हालात को देखते हुए जरूरी दवाइयां और मशीनरी खरीद ली गई है. साथ ही उन्हें अस्पतालों में भी भेजा जा चुका है. इसके साथ ही सेना से रिटायर्ड हो चुके डॉक्टरों को भी वॉलेंटियर सर्विस के लिए तैयार रहने को बोल दिया गया है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए रक्षा मंत्रालय की तरफ से कोरोना की रोकथाम और उसके इलाज के लिए किसी भी हालात से निपटने के लिए किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की.



नेवी चीफ ने बताया स्टैंडबाय पर हैं हमारे शिप



रक्षा मंत्री को जानकारी देते हुए नेवी चीफ एडमिरल करमबीर सिंह ने बताया कि दोस्ताना संबंध वाले पड़ोसी मुल्क की मदद करनी हो या फिर अपनी आवाम की, हम तैयार हैं. किसी भी हालात से निपटने के लिए हमारे शिप स्टैंडबाय पर हैं. वहीं चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत ने जानकारी देते हुए बताया कि COVID-19 से निपटने के लिए अस्पतालों को चिह्नित किया गया है. अस्पतालों में 9000 बेड इस्तेमाल के लिए तैयार किए जा चुके हैं. सेना की तरफ से जैसलमेर, जोधपुर, चेन्नई, मानेसर, हिंडन और मुंबई में 1000 से भी ज़्यादा लोगों को क्वारंटाइन के लिए रखा गया है. यह लोग 7 अप्रैल को सेंटर से बाहर आ जाएंगे.

ये भी पढ़ें-

Corona Lockdown:एक वेंटीलेटर से 4 मरीजों को मिलेगी मदद, DRDO कर रहा है तैयार

COVID-19 Lockdown: हज यात्रा 2020 को लेकर आई यह बड़ी खबर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 1, 2020, 5:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading