COVID-19: Home Isolation में रह रहे लोगों को ऑक्सीमीटर प्रोवाइड कर रही दिल्ली सरकार, कंडीशन बिगड़ने पर तुरंत चलेगा पता
Delhi-Ncr News in Hindi

COVID-19: Home Isolation में रह रहे लोगों को ऑक्सीमीटर प्रोवाइड कर रही दिल्ली सरकार, कंडीशन बिगड़ने पर तुरंत चलेगा पता
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल.

ऑक्सीमीटर वो डिवाइस है जिसके ज़रिये आप घर बैठे ये जान सकते हैं कि आपका ऑक्सीजन लेवल (Oxygen Level) क्या है. गौरतलब है कि कोरोना के गंभीर मरीजों (Critical Coronavirus Patient) को सांस लेने में ज़्यादा समस्या होती है. ऐसे में ये ऑक्सीमीटर बता सकता है कि आपकी मौजूदा स्थिति की गंभीरता क्या है.

  • Share this:
नई दिल्ली. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) के संक्रमण की रफ्तार लगातार बढ़ती जा रही है. राजधानी दिल्ली (Delhi-NCR) में कोरोना संक्रमितों की तादाद बड़ी संख्या में बढ़ रही है. बढ़ती संख्या के मद्देनजर दिल्ली के हॉस्पिटल्स में पर्याप्त संख्या में बेड की उपलब्धता नहीं है. ऐसे में होम आइसोलेशन (Home isolation) में रह रहे लोगों को दिल्ली सरकार अब ऑक्सीमीटर (Oximeter) प्रोवाइड करवा रही है. दरअसल ये ऑक्सीमीटर मरीज के शरीर में ऑक्सीजन (Oxygen) का लेवल बतायेगा जिससे उसकी स्थिति की गंभीरता का पता लग सकेगा.

अच्छी पहल
दिल्ली सरकार ने एक अच्छी पहल करते हुए होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों को ऑक्सीमीटर देने का फैसला किया है. ऑक्सीमीटर वो डिवाइस है जिसके ज़रिये आप घर बैठे ये जान सकते हैं कि आपका ऑक्सीजन लेवल (Oxygen Level) क्या है. गौरतलब है कि कोरोना के गंभीर मरीजों (Critical Coronavirus Patient) को सांस लेने में ज़्यादा समस्या होती है. ऐसे में ये ऑक्सीमीटर बता सकता है कि आपकी मौजूदा स्थिति की गंभीरता क्या है और कब आपको अस्पताल में भर्ती होने की ज़रूरत है. सरकार का कहना है कि होम आइसोलेशन में रह रहे लोग खुद की स्थिति सही से मॉनीटर कर सकें इसके लिये ये ऑक्सीमीटर दिया जा रहा है.

ये भी पढ़ें-भुखमरी की कगार पर चार मासूम, Lockdown में पिता की मौत, मां पहले ही छोड़कर जा चुकी थी






कैसे काम करता है ऑक्सीमीटर
ऑक्सीमीटर एक छोटी सी डिवाइस है जिसे एक उंगली पर लगाया जाता है. जिसके बाद ये आपकी puls को रीड करना शुरू कर देती है. ये मशीन 10-15 सेकेंड में आपको बता देती है कि आपका ऑक्सीजन लेवल क्या है. अगर पल्स रेट 95-100 के बीच आता है तो इसका मतलब आप ठीक स्थिति में हैं लेकिन 95 से नीचे ये आंकड़ा दिखाता है तो इसका मतलब आपकी स्थिति बिगड़ रही है और आपको तुरंत डाक्टर से कंसल्ट करना होगा या अस्पताल जाना पड़ सकता है. बता दें की आज कोरोना मरीजों का हाल जानने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल LNJP अस्पताल भी पंहुचे इस दौरान उनके साथ उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी थे. सीएम केजरीवाल ने पहले अस्पताल की व्यवस्थओं के बारे में जाना और उसके बाद मरीज़ों और उनके परिजनों के बीच बातचीत के लिये वीडियो कॉल की सुविधा का भी उद्घाटन किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज