• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • COVID-19: लॉकडाउन के बीच कश्मीर और लद्दाख में राशन-दवाएं पहुंचाकर देवदूत बना Air Force

COVID-19: लॉकडाउन के बीच कश्मीर और लद्दाख में राशन-दवाएं पहुंचाकर देवदूत बना Air Force

File Photo.

File Photo.

लॉकडाउन (Lockdown) के दिन से अब तक एयरफोर्स (Indian Air Force) हेलिकॉप्टर-एयरक्राफ्ट की 70 से ज़्यादा उड़ानें भर चुकी है. दवाई और सूखा राशन सहित तमाम जरूरी सामान लद्दाख और श्रीनगर के इलाकों में पहुंचा चुकी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) की रोकथाम के लिए लॉकडाउन (Lockdown) के ऐलान के बाद सभी तरह की ट्रांसपोर्ट सेवाएं पूरी तरह से बंद हैं. इन सेवाओं की बंदी से सबसे ज़्यादा दिक्कत जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में है. बीते दिसंबर से श्रीनगर से लेह और मनाली-लेह के रास्ते बर्फबारी के चलते बंद हैं. ऐसे में अगर इन इलाकों के लिए फिर से कोई फरिश्ता बनकर पहुंचा है तो वो है इंडियन एयरफोर्स (Indian Air Force). लॉकडाउन के दिन से अब तक एयरफोर्स हेलिकॉप्टर-एयरक्राफ्ट की 70 से ज़्यादा उड़ानें भर चुकी है. दवाई और सूखा राशन सहित तमाम जरूरी सामान लद्दाख और श्रीनगर के इलाकों में पहुंचा चुकी है.

एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर-एयरक्राफ्ट भर रहे उड़ान

लॉकडाउन के चलते काम राशन पहुंचाने का हो या फिर कोरोना से बचाव के लिए चल रहे अभियान से जुड़कर मेडिकल उपकरण और दवाई पहुंचाने की बात हो. एयरफोर्स दिन-रात इस काम में लगी हुई है. हालांकि इंडियन आर्मी और नेवी भी इस काम में पूरा साथ दे रहे हैं. एयरफोर्स के IL 76 , C-17 ग्लोब मास्टर, AN -32, डार्नियर और MI-17 हेलिकॉप्टर जरूरत पड़ते ही उड़ान भर रहे हैं. 70 उड़ान भरकर एयरफोर्स करीब 300 टन सामान लद्दाख और श्रीनगर के इलाकों में पहुंचा चुकी है. ईरान से लौटे लोगों का क्वारेंटाइन खत्म होने के बाद उन्हें लद्दाख और जम्मू-कश्मीर भी एयरफोर्स ने ही पहुंचाया है.

बीआरओ की कोशिशों से 3 दिन पहले खोला गया रोड

लेह तक जाने के लिए सड़क से दो रास्ते हैं. एक है लेह-मनाली और दूसरा है श्रीनगर-लेह. लेकिन बर्फवारी के चलते दिसंबर से यह बंद हो जाते हैं. अप्रैल तक यह रोड बंद रहते हैं. अब जबकि घरेलू उड़ानें भी बंद थीं तो और ज़्यादा दिक्कत आ रही थी. लेकिन एयरफोर्स के चलते राहत मिल रही थी. अब बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन की मदद से तीन दिन पहले रोड को खोला गया है. सबसे पहले बीआरओ ने श्रीनगर से जोजिला पास होते हुए  लेह तक जाने वाले 425 किलोमीटर के रास्ते को खोल दिया है. जोजिला पास की हाइट 11500 फिट है. इसलिए हर साल सबसे पहले इसी रोड को खोला जाता है.

ये भी पढ़ें-

Lockdown: चोटिल जूनियर छात्र को खुद रिक्शा चलाकर अस्पताल ले गया सीनियर
Covid 19: महाराष्ट्र-पटना के गुरुद्वारों में Lockdown के चलते फंसे हैं 5 हज़ार तीर्थयात्री

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज