लाइव टीवी

‘ऑपरेशन शील्ड’ से दिल्‍ली में रुकेगा कोरोना का कहर, CM केजरीवाल ने बताया प्‍लान
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: April 9, 2020, 10:20 PM IST
‘ऑपरेशन शील्ड’ से दिल्‍ली में रुकेगा कोरोना का कहर, CM केजरीवाल ने बताया प्‍लान
सीएम केजरीवाल ने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों के साथ दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई (फाइल फोटो)

केजरीवाल ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन के दौरान इस अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि किसी क्षेत्र से पॉजिटिव मामला आने पर उस इलाके का भौगोलिक सीमांकन करने के बाद अंग्रेजी (English) के शब्द शील्ड के पहले अक्षर ‘एस’ के तहत उस क्षेत्र को सरकार फौरन ही सील कर देगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण को फैलने से रोकने के लिये राष्ट्रीय राजधानी के 21 इलाकों में ‘ऑपरेशन शील्ड’ चलाने की गुरुवार को घोषणा की. साथ ही, उन्होंने शहर में स्वास्थ्य कर्मियों से दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई करने की भी चेतावनी दी. मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामले वाले इन इलाकों के लोगों से ‘ऑपरेशन शील्ड’ को क्रियान्वित करने में सहयोग करने की अपील की और कहा कि ये सख्त उपाय हैं लेकिन अन्य लोगों को कोविड-19 से बचाने के लिये जरूरी हैं.

सीएम ने दी ये खास जानकारी
केजरीवाल ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन के दौरान इस अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि किसी क्षेत्र से पॉजिटिव मामला आने पर उस इलाके का भौगोलिक सीमांकन करने के बाद अंग्रेजी के शब्द शील्ड के पहले अक्षर ‘एस’ के तहत उस क्षेत्र को सरकार फौरन ही सील कर देगी. उन्होंने कहा, ‘अगले चरण में हम सील किये गये इलाकों में लोगों को उनके घर में ही क्‍वारंटाइन में रखेंगे और तीसरे चरण में कोविड-19 के लक्षणों वालों को अलग करेंगे तथा उनके संपर्क में आये लोगों का पता लगाएंगे.’

केजरीवाल ने कहा कि ‘ई’ अक्षर के तहत सरकार आवश्यक वस्तुओं की घरों तक आपूर्ति सुनिश्चित करेगी. इसके बाद सरकार ऐसे इलाकों को संक्रमण मुक्त करेगी जहां एक या दो पॉजिटिव मामले पाये गये हों.



मुख्यमंत्री ने कहा, ‘डी' अक्षर के तहत, घर-घर जाकर यह जांच की जाएगी कि क्या किसी को खांसी या कोविड-19 के अन्य लक्षण हैं.



उन्होंने शहर के गौतम नगर इलाके में सफदरजंग अस्पताल की दो महिला रेजीडेंट डाक्टरों पर कथित हमले की घटना के संदर्भ में कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों से दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी और सरकार इस तरह की घटनाओं को बर्दाश्त नहीं करेगी.

केजरीवाल ने दिया ये बयान
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘इन दिनों चिकित्सक, नर्स कोविड-19 के रोगियों के इलाज के लिये अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘हम स्वास्थ्य कर्मियों के साथ बदसलूकी करने वालों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई करेंगे.’

सफदरजंग अस्पताल की दो महिला रेजीडेंट डॉक्टरों पर 42 वर्षीय एक व्यक्ति द्वारा कथित तौर पर हमला किये जाने की घटना के एक दिन बाद दिल्ली सरकार ने यह चेतावनी दी है. इन रेजीडेंट डॉक्टरों के बारे में यह अफवाह फैलाई गई थी कि वे गौतम नगर इलाके में कोरोना वायरस का संक्रमण फैला रहे हैं.

दिल्‍ली सरकार कर रही है ये काम
मुख्यमंत्री के मुताबिक, दिल्ली सरकार शहर में 71 लाख लोगों को मुफ्त राशन दे रही है. उन्होंने कहा, ‘हम समझ रहे हैं कि लोग समस्याओं का सामना कर रहे हैं लेकिन अधिकारियों द्वारा उठाये गये कदम वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिये जरूरी हैं.’

 

ये भी पढ़ें: स्वास्थ्य विभाग से बोले डीएमसी- COVID-19 पर निजामुद्दीन मरकज का बुलेटिन में ना करें जिक्र

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 9, 2020, 10:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading