लाइव टीवी

Covid 19: लैब के सामने कार रुकते ही ऐसे ले लिया जाएगा सैंपल, अंदर आने की नहीं होगी जरूरत
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: April 6, 2020, 3:22 PM IST
Covid 19: लैब के सामने कार रुकते ही ऐसे ले लिया जाएगा सैंपल, अंदर आने की नहीं होगी जरूरत
Demo Pic.

अभी तक के तरीके में सस्पेक्ट को लैब (Lab) के अंदर आन होता है, जिससे दूसरे लोगों में इंफेक्शन (Infection) का खतरा बना रहता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) की एक प्राइवेट लैब ने कोरोना वायरस (Corona Virus) की जांच को लेकर एक बड़ा दावा किया है. लैब का दावा है कि वायरस के सस्पेक्ट को लैब (Lab) के अंदर लिए बिना ही उसका सैंपल ले लिया जाएगा. सैंपल देने के लिए सस्पेक्ट को अपनी कार या एंबूलेंस (Ambulance) के अंदर से बाहर आने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी. इसके लिए सस्पेक्ट को ऑनलाइन (Online) रजिस्ट्रेशन कराना होगा. कार या एंबूलेंस की डिटेल्स भी भेजनी होगी. और इसके लिए सरकार द्वारा पहले से ही तय फीस चुकानी होगी. अभी तक के तरीके में सस्पेक्ट को लैब के अंदर आन होता है, जिससे दूसरे लोगों में इंफेक्शन का खतरा बना रहता है.

लैब में सैंपल देने ऐसे जाएगा कोरोना का सस्पेक्ट

लैब के जानकारों की मानें तो सस्पेक्ट अपनी सारी डिटेल्स ऑनलाइन भेजेगा. इसके बाद सस्पेक्ट को एक टाइम स्लॉट दिया जाएगा. वहीं सस्पेक्ट के पहुंचने से पहले उसकी कार या एंबूलेंस की जानकारी भी ले ली जाएगी. जैसे ही कार लैब के 25 मीटर के दायरे में आएगी तो उसे एक कर्मचारी सैनिटाइज़ करना शुरु कर देगा. इसके बाद कार लैब के ठीक सामने आकर खड़ी हो जाएगी. एक कर्मचारी आगे बढ़कर आधुनिक तरीके से सस्पेक्ट के गले और नाक का स्वेब लेगा. उसके बाद उसे टेस्टिंग के लिए भेज दिया जाएगा. इस तरीके को ड्राइव थ्रू कोरोना टेस्ट नाम दिया गया है. इस पूरी कार्रवाई में 10 से 15 मिनट लगेंगे. वहीं दिनभर में लैब 40 टेस्ट कर सकेगी. फीस सरकार की ओर से तय 4500 रुपये ही ली जाएगी.



मरकज़ आने-जाने वालों की भी ऐसे हो रही मैपिंग



देश की राजधानी दिल्ली समेत दूसरे शहरों की पुलिस लगातार तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों की तलाश कर रही है. ये वो लोग हैं जो 15 मार्च से 28 मार्च तक मरकज़ में रुके या गए थे. ऐसे लोगों की पहचान करने के लिए दिल्ली पुलिस ने नया तरीका निकाला है. मरकज़ के एरिया में इस दौरान एक्टिव रहे मोबाइल फोन नंबर का डाटा तैयार किया जा रहा है.

इस लिस्ट में ऐसे नंबर शामिल किए जा रहे हैं, जो तीन से चार दिन तक मरकज़ में रुके हैं या वहां का एक चक्कर लगाया है. अगर शक के दायरे में आया नंबर दूसरे शहर और राज्य का है तो वहां की पुलिस को इसकी सूचना दी जा रही है. यह कवायद कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की तलाश के लिए की जा रही है.

ये भी पढ़ें :-

Covid-19: होम क्वारंटाइन हुए लोगों पर दिल्ली पुलिस ऐसे रख रही नज़र, दर्ज की 176 FIR
Lockdown: हरियाणा से शराब की तस्करी कर रहा था दिल्‍ली पुलिस का ASI, हुआ सस्‍पेंड

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 6, 2020, 3:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading