अभी केजरीवाल vs अमित शाह मॉडल की नहीं, बल्कि कोरोना से जंग लड़ने की बात करें- सिसोदिया
Delhi-Ncr News in Hindi

अभी केजरीवाल vs अमित शाह मॉडल की नहीं, बल्कि कोरोना से जंग लड़ने की बात करें- सिसोदिया
डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने दिल्ली में कोरोना की रोकथाम के लिए गृह मंत्री अमित शाह को लिखा पत्र. (फोटोः एएनआई)

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने दिल्ली में कोरोना वायरस (Delhi corona cases) के संक्रमण की रोकथाम के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को लिखा पत्र.

  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस (COVID-19) के बढ़ते संक्रमण के बीच डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने बड़ा बयान दिया है. डिप्टी सीएम ने मीडिया के साथ बातचीत के दौरान कहा है कि यह समय केजरीवाल मॉडल बनाम अमित शाह मॉडल में कौन ज्यादा सही या गलत है, इस पर सोचने का नहीं है. बल्कि दिल्ली में कोरोना वायरस (Delhi corona cases) के संक्रमण की रोकथाम कैसे की जाए, इस पर सोच विचार का है.

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने दिल्ली के उपराज्यपाल से किए गए अपने आग्रह के बारे में कहा कि कोरोना के मरीजों को क्वारंटाइन सेंटर में भेजने की बाध्यता को लेकर मैंने कल भी LG से अनुरोध किया था. लेकिन अभी तक इस संबंध में कोई जवाब नहीं आया है. सिसोदिया ने कहा कि मेरा LG से आग्रह है कि जल्द से जल्द इस संबंध में निर्णय लें, ताकि दिल्ली में कोरोना पीड़ित मरीजों को क्वारंटाइन सेंटर जाने का बोझिल काम न करना पड़े. उन्होंने बताया कि इस संबंध में उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को भी पत्र लिखा है.

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से मैंने मंगलवार को आग्रह किया था कि कोरोना मरीजों को क्वारंटाइन सेंटर भेजने की बाध्यता वाले आदेश पर फिर विचार करें. लेकिन इस पर अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया जा सका है. सिसोदिया ने कहा कि क्वारंटाइन सेंटर जाने की बाध्यता खत्म करने को लेकर आज गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को भी उन्होंने पत्र लिखा है. सिसोदिया ने बताया कि गृह मंत्री को लिखे पत्र में उन्होंने उनसे कोविड-19 मरीजों के चेकअप के लिए सरकारी केंद्र आने की अनिवार्यता खत्म करने की अपील की है. सिसोदिया ने ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'यह अमित शाह मॉडल और केजरीवाल मॉडल की लड़ाई नहीं है. हमें वह व्यवस्था लागू करनी चाहिए जिसमें लोगों को परेशानी ना हो.' डिप्टी सीएम ने कहा कि लोगों को नई व्यवस्था की वजह से काफी परेशानी हो रही है और उसे तुरंत खत्म किया जाना चाहिए.



ये भी पढ़ें- दिल्‍ली: Corona संक्रमण रोकने को नया प्‍लान, 6 जुलाई तक हर घर की स्‍क्रीनिंग
उन्होंने कहा कि केन्द्रीय गृह मंत्री कोविड-19 से निपटने के लिए किए जा रहे उपायों पर खुद नजर रख रहे हैं. सिसोदिया ने कहा कि शहर में पुरानी व्यवस्था लागू की जानी चाहिए, जिसके तहत मरीज के चिकित्सकीय मूल्यांकन के लिए जिला प्रशासन का एक दल उसके घर जाता था. आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच मरीजों को क्वारंटाइन सेंटर में चेकअप कराने का आदेश जारी किया गया था. इसके विरोध में मंगलवार को भी डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में LG अनिल बैजल से आग्रह किया था कि तत्काल इस व्यवस्था को खत्म कर पुरानी प्रणाली को लागू किया जाए. (इनपुट- भाषा से भी)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading