दिल्ली में बदल रहे कोरोना के हालात, नये मरीज कम मिलने से खाली हुए केयर सेंटर
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली में बदल रहे कोरोना के हालात, नये मरीज कम मिलने से खाली हुए केयर सेंटर
दिल्ली में कोरोना के नये मामले कम सामने आने के कारण केयर सेंटर खाली-खाली नजर आ रहे हैं.

दिल्ली में कोरोना (Corona) के नए मामलों में भारी गिरावट दर्ज की जा रही है. इसका असर ये है कि जो कोविड केयर सेंटर (Covid Care Center) की व्यवस्था दिल्ली सरकार (Delhi Government) की तरफ से की गयी थी, अब वे सेंटर खाली नज़र आ रहे हैं.

  • Share this:
दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) में पिछले महीने तक जहां कोरोना मरीज़ों (Corona Patients) के लिए बेड्स की किल्लत सामने आ रही थी, सरकार (Kejriwal Government) नए-नए अस्थाई इंतजाम करती हुई नजर आ रही थी, वहीं अब तस्वीर बिल्कुल बदली- बदली सी नज़र आ रही है. दिल्ली के कोविड केयर सेन्टर (Covid Care Center) अब खाली-खाली नज़र आ रहे हैं.

दिल्ली में सोमवार को 613 नए पॉजिटिव मामले सामने आये. नए मामलों में भारी गिरावट दर्ज की जा रही है. इसका असर ये है कि जो कोविड केयर सेंटर की व्यवस्था दिल्ली सरकार की तरफ से की गयी थी.अब वो सेंटर खाली नज़र आ रहे हैं.

लोकनायक अस्पताल के पास का केयर सेंटर खाली 



दिल्ली के सबसे बड़े कोरोना अस्पताल लोकनायक अस्पताल के सामने शहनाई बैंक्वेट हॉल में 100 बेड का अस्थाई कोविड केयर सेंटर बनाया गया था. करीब दो हफ्ते से अब यहां कोई मरीज़ नहीं आया है औऱ बेड्स खाली पड़े हैं. इसे लोकनायक अस्पताल का बोझ कम करने के लिए उसके एक्सटेंशन के तौर पर तब तैयार किया गया था, जब रोज़ाना 2-4 हज़ार के बीच कोरोना मरीज़ आ रहे थे, अब रोजाना करीब एक हजार आ रहे हैं तो दो हफ़्ते से बेड खाली पड़े हैं.
डॉक्टर फ़ॉर यू के डॉ रजत जैन ने कहा कि आज लोकनायक अस्पताल में हमारे पास काफी बेड खाली हैं. जब अस्पताल के अंदर ही काफी बेड खाली हैं तो यहां पर मरीज को ट्रांसफर कराने का कोई पॉइंट नहीं है. मगर फिर भी अभी आगे का नहीं पता इसलिए हमने इसको बनाया हुआ है. लेकिन सारी सुविधाएं अभी भी जारी हैं. एक डॉक्टर अभी भी यहां होते हैं. एक नर्स भी यहां पर हमेशा होती है कि मान लो कभी भगवान ना करें अगर हमें जरूरत पड़े तो यहां पर शिफ्ट कर सकें.

इस सेंटर में अब आधे बचे मरीज 

यही हाल दूसरे कोविड केयर सेंटर का भी है. पिछले महीने शुरू हुए दिल्ली के छत्तरपुर में बने देश के सबसे बड़े सरदार पटेल कोविड केयर सेन्टर में अबतक 670 मरीज़ भर्ती हुए हैं. आज सिर्फ़ 356 मरीज़ हैं. तो वहीं दिल्ली के नरेला में 1800 बेड का दिल्ली सरकार का सबसे बड़ा स्थाई कोविड केयर सेन्टर है.

डॉ इशरत कफ़ील, मुख्यमंत्री प्रतिनिधि, नरेला कोविड केयर सेन्टर ने बताया कि अब केवल विदेश से वंदे भारत मिशन के तहत आए हुए भारतीय क्वारन्टीन हैं. एक समय था जब यहां कोरोना के 1200 पॉजिटिव मरीज़ थे. लेकिन पिछले 10 जुलाई से यहां कोई कोरोना मरीज़ एडमिट नहीं हुआ है.

हालात बदल रहे, पर तैयारी रहेगी पूरी 

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मामले घटे ज़रूर हैं. ये वेट एंड वाच का मामला है. लेकिन अभी हम अपनी तैयारी पूरी रखेंगे. किसी चीज को कम नहीं करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading