द्वारका के प्राइवेट स्कूल में बना कोविड केयर सेंटर, ऑक्सीजन से लैस होगा ये, सिसोदिया ने लिया जायजा

माउंट कार्मेल स्कूल सोसायटी की ओर से 40 बेड का कोरोना केयर सेंटर  तैयार किया गया है.

माउंट कार्मेल स्कूल सोसायटी की ओर से 40 बेड का कोरोना केयर सेंटर तैयार किया गया है.

द्वारका स्थित माउंट कार्मेल स्कूल सोसायटी की ओर से 40 बेड का कोरोना केयर सेंटर तैयार किया गया है. इस सेंटर में ऑक्सीजन बेड, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और सभी जरूरी दवाइयां उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है. स्कूल ने अपने ऑडिटोरियम को कोरोना सेंटर में तब्दील किया है.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना (Corona) संक्रमित मरीजों को बेड उपलब्ध कराने के लिए अब दिल्ली के प्राइवेट स्कूल भी आगे आने लगे हैं. द्वारका स्थित माउंट कार्मेल स्कूल सोसायटी की ओर से 40 बेड का कोरोना केयर सेंटर (Corona Care Centre) तैयार किया गया है.

इस सेंटर में ऑक्सीजन बेड, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और सभी जरूरी दवाइयां उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है. स्कूल ने अपने ऑडिटोरियम को कोरोना केयर सेंटर में तब्दील किया है. इस सेंटर का जायजा लेने के लिए आज दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) भी पहुंचे.

सिसोदिया ने बताया कि इस विजय विलियम कोरोना केयर सेंटर को जरूरत पड़ने पर किसी बड़े अस्पताल से भी लिंक किया जा सकता है. उन्होंने बताया कि स्कूल के संस्थापक डॉ. वी.के.विलियम की एक सप्ताह पहले मृत्यु होने के बाद भी मुश्किल समय में माउंट कार्मेल स्कूल द्वारा उठाया गया ये कदम बहुत ही मानवता भरा है.

Youtube Video

उन्होंने कहा कि इस सेंटर में मौजूद बेड्स, और बाकी सुविधाएं हमें आत्मविश्वास देती है कि हमारे पास इस संकट से लड़ने के लिए संसाधन है.

22 अप्रैल से 5 मई तक का समय दिल्ली के लिए काफी मुश्किल भरा 

डिप्टी सीएम ने कहा कि आज पूरा विश्व एक कठिन समय से गुज़र रहा है. और 22 अप्रैल से 5 मई तक का समय दिल्ली के लिए काफी मुश्किल भरा था. इस समय कोरोना के सबसे ज़्यादा मामले आ रहे थे. संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही थी.



अस्पतालों में बेड्स की संख्या 6 हजार से 20 हजार की 

इस दौरान हमनें अस्पतालों में बेड्स की संख्या 6 हजार से बढ़ाकर 20 हजार कर दी. लेकिन हम ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे थे. कोरोना ऐप पर जानकारी मिलती थी कि अब अस्पतालों में केवल 300-400 बेड्स बचे हुए है. लेकिन अब दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर कम होती जा रही है. अस्पतालों में भी बेड्स खाली हो रहे है. ये दिखाता है कि हम संकट के दौर से धीरे-धीरे बाहर निकल रहे हैं जिसका श्रेय डॉक्टरों और कोरोना योद्धाओं को जाता है..

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज