COVID 19 Deaths in Delhi: कोविड मौतों का बढ़ रहा आंकड़ा, एमसीडी ने 9 शवदाह गृह पर बढ़ाए प्लेटफार्म

श्मशान घाटों और कब्रिस्तानों पर अंतिम संस्कार के लिए मौजूदा प्लेटफार्म में इजाफा किया जा रहा है.

श्मशान घाटों और कब्रिस्तानों पर अंतिम संस्कार के लिए मौजूदा प्लेटफार्म में इजाफा किया जा रहा है.

COVID 19 Deaths in Delhi: दक्षिणी निगम के सभी श्मशान घाटों में कोरोना मृतकों के शवों के अंतिम संस्कार के लिए प्लेटफार्म की संख्या में लगातार बढ़ोतरी की जा रही है. पहले कोविड शवों के लिए प्लेटफार्म की संख्या 289 थी जिसे बढ़ाकर 357 कर दिया गया है. आवश्यकता के अनुसार प्लेटफार्म की संख्या को बढ़ाया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2021, 12:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में लगातार कोरोना (Corona) संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ मौतों का आंकड़ा भी बहुत तेजी के साथ बढ़ रहा है. सोमवार को पिछले 24 घंटे में 380 लोगों की कोरोना की वजह से जान चली गई. वहीं, कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 14,628 को पार कर गया है.

कोविड मौतों की बढ़ती संख्या के चलते दिल्ली नगर निगमों (MCDs) की ओर से श्मशान घाटों और कब्रिस्तानों पर अंतिम संस्कार के लिए मौजूदा प्लेटफार्म में भी इजाफा किया जा रहा है. साउथ दिल्ली नगर निगम की ओर से कोरोना संक्रमण की वजह से बढ़ रही मौतों के चलते अपने सभी 9 श्मशान घाट और कब्रिस्तान में अतिरिक्त प्लेटफार्म का प्रबंध किया है.

एसडीएमसी की मेयर अनामिका ने कहा कि दक्षिणी निगम के सभी श्मशान घाटों में कोरोना मृतकों के शवों के अंतिम संस्कार के लिए प्लेटफार्म की संख्या में लगातार बढ़ोतरी की जा रही है. पहले कोविड शवों के लिए प्लेटफार्म की संख्या 289 थी जिसे बढ़ाकर 357 कर दिया गया है. आवश्यकता के अनुसार प्लेटफार्म की संख्या को बढ़ाया जाएगा.

मेयर ने बताया कि दक्षिणी निगम के पंजाबी बाग, हस्तसाल, सुभाष नगर, लोधी रोड, सराय काले खान, लाल कुआँ, आई.टी.ओ, द्वारका सेक्टर 24 और ग्रीन पार्क स्थित श्मशान घाटों व कब्रिस्तान में एक दिन में 357 कोरोना मृतकों के शवों का अंतिम संस्कार किया जा सकता है.
उन्होंने कहा कि दक्षिणी निगम के सराय काले खान श्मशान घाट की क्षमता को बढ़ाया गया है. घाट पर अतिरिक्त 20 अस्थाई प्लेटफार्म बनाए गए हैं जिसे आवश्यकतानुसार और अधिक बढ़ाया भी जा सकता है.

मेयर ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं और सभी श्मशान घाटों पर अतिरिक्त प्रबंध किए जा रहे हैं ताकि अधिक शव आने पर अंतिम संस्कार की व्यवस्था की जा सकें. इसके अतिरिक्त सभी श्मशान घाटों और कब्रिस्तानों में नियमित रूप से सेनेटाइज़ेशन और साफ-सफाई भी की जा रही है ताकि संक्रमण के खतरे को रोका जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज