COVID-19: दिल्ली पुलिस के लिए हैंड सैंनिटाइइजर बना रहे हैं तिहाड़ जेल के कैदी

(File Photo)

दिल्ली पुलिस के एक बड़े अधिकारी ने कहा कि पुलिस कोरोना वायरस से जंग जीतने में फील्ड में काम कर रहे कर्मियों के लिए बड़े लेवल पर मास्क और सैनिटाइजर की जरूरत है. हमारे लिए तिहाड़ जेल के कैदी हैंड सैनिटाइजर बना रहे हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली के तिहाड़ जैल के कैदी कोविड-19 (Covid-19) से जंग जीतने में अपना पूरा योगदान दे रहे हैं. पुलिस की ड्यूटी दे रहे लोगों के लिए कैदी अब हैंड सैनिटाइजर (Hand Sentizers) भी बना रहे हैं. कैदियों ने अबतक 1000 लीटर से ज्यादा सैनिटाइजर बना भी लिया है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के बड़े अधिकारी ने कहा कि पुलिस कोरोना वायरस से जंग जीतने में फील्ड में काम कर रहे कर्मियों के लिए बड़े लेवल पर मास्क और सैनिटाइजर की जरूरत है. उन्हें इस युद्ध में कंटेनमेंट जोन में लोगों से डील करने, लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करवाने, लोगों की चैकिंग के दौरान से लेकर भूखों को भोजन पानी देने जैसा काम करना पड़ रहा है.

    पुलिस के बीच बढ़ी हैंड सैनिटाइजर की मांग

    पुलिस अधिकारी ने बताया कि ऐसी विकट परिस्थिति में मास्क की जरूरत तो पूरी हो रही है लेकिन हैंड सैनिटाइजर की डिमांड बढ़ रही है. सैनिटाइजर बनाने की बात तो हुई है, पर इसके लिए पुलिस विभाग को लाइसेंस चाहिए.

    पीएफडब्ल्यूएस के पैसों से हो रही कच्चे माल की सप्लाई

    दिल्ली के डीसीपी (लाइसेंसिंग और वेलफेयर) आसिफ मोहम्मद अली ने अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान को बताया कि हमने जेल अथॉरिटी से इस बारे में संपर्क किया है. तिहाड़ जेल के कैदी हैंड सैनिटाइजर पहले से बना रहे हैं. लेकिन वे अभी तक जेल के अंदर की जरूरतों को पूरा करने के लिए बना रहे थे. वे सरकारी ​दिशानिर्देशों पर और अधिकृत कम्पोजिशन के आधार पर सैनिटाइजर बना रहे हैं. हम पुलिस परिवार कल्याण समाज के फंड से कैदियों को कच्चा माल सप्लाई करवा रहे हैं. कैदी हमारे लिए सैनिटाइजर बनाकर हमारी मदद करेंगे. सैनिटाइजर की बोतल पर पीएफडब्ल्यूएस (PFWS) का लोगो लगा होगा और उसपर यह लिखा होगा- ​यह विशेष लाइसेंस के तहत तिहाड़ जेल में निर्मित है. हम अपने स्टाफ को 200 मिलीलीटिर सैनिटाइजर की बोतल वितरित करेंगे. यह इतिहास में पहली बार हो रहा है जब तिहाड़ के कैदी दिल्ली पुलिस की मदद के लिए काम कर रहे हैं.

    500 पुलिसकर्मी क्वारेंटाइन पर भेजे जा चुके हैं.

    दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि करीब 500 पुलिसकर्मी क्वारेंटाइन पर भेजे जा चुके हैं. सेंट्रल दिल्ली पुलिस स्टेशन को सील किया जा चुका है. अभी तक 28 पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. चांदनी महल, नबी करीम और जहांगीरपुरी इलाकों में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी कोरोना से प्रभावित हुए. करीब 30 फीसदी पुलिसकर्मियों को छुट्टी पर भेज दिया गया था, लेकिन उन्हें एक घंटे के अंदर ड्यूटी ज्वाइन करने को कहा गया.

    तीन हजार कैदियों को लॉकडाउन में छोड़ा गया

    ​दिल्ली के तिहाड़ जेल में 18000 कैदी बंद थे. जेल में भीड़ को कम करने के लिए करीब तीन हजार कैदियों को लॉकडाउन के दौरान जेल से विदाई दी गई. तिहाड़ जेल में बंद कैदियों में से 95 फीसदी को दिल्ली पुलिस ने ही गिरफ्तार किया है.

    'इस वक्त हमारा कॉमन शत्रु कोरोना है और हम मिलकर लड़ेंगे'

    दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मंदीप सिंह रंधावा ने कहा कि हमारी पुलिस कोरोना महामारी से लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है. हम उन सभी पुलिसकर्मियों के लिए मास्क और सैनिटाइजर मुहैया कराया है, जो फील्ड में ड्यूटी दे रहे हैं. हम जेल प्राधिकरण और कैदियों का धन्यवाद करते हैं, जिन्होंने हमारे लिए सैनिटाइजर तैयार करके हमारी मदद की. इस समय हमारा एक ही कॉमन शत्रु कोरोना वायरस है और हम मिलकर लड़ेंगे.

    ये भी पढ़ें: IIT दिल्ली ने निकाला कम खर्च में Corona की जांच का तरीका, ICMR से मिली मंजूरी

    सब्जीवाला निकला पॉजिटिव, दक्षिणी दिल्ली के DM ने दिया ये आदेश

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.