भारत-चीन विवादः चीनी दूतावास के सामने पहुंचे पूर्व सैनिक, चेतावनी दी- गलती नहीं सुधारी तो...
Delhi-Ncr News in Hindi

भारत-चीन विवादः चीनी दूतावास के सामने पहुंचे पूर्व सैनिक, चेतावनी दी- गलती नहीं सुधारी तो...
दिल्ली पुलिस के अधिकारी और जवान लगातार कोरोना पॉजिटिव होते जा रहे हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

चीनी दूतावास के सामने पूर्व सैनिकों के प्रदर्शन की खबर पाकर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) भी मौके पर पहुंच गई. प्रदर्शन कर रहे सभी पूर्व सैनिकों को डिटेन कर लिया गया.

  • Share this:
नई दिल्ली. लद्दाख में चीनी सैनिकों (Chinese Army) के साथ हुई झड़प में भारतीय सेना (Indian Army) के 20 जवान शहीद हो गए हैं. इससे पूरा देश गुस्से में है. पूर्व सैनिकों (ex-soldiers) के खेमे में भी चीन की इस हरकत को लेकर गुस्सा है. 20 जवानों की शाहदत की खबर से ये पूर्व सैनिक इतने गुस्से में आ गए कि बुधवार की सुबह नई दिल्ली में चीनी दूतावास (Chinese Embassy) के सामने पहुंच गए. पूर्व सैनिकों ने दूतावास में बैठे अधिकारियों के लिए चेतावनी जारी कर दी. नारेबाजी करने लगे. चीनी दूतावास के सामने प्रदर्शन की खबर पाकर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) भी मौके पर पहुंच गई. प्रदर्शन कर रहे सभी पूर्व सैनिकों को डिटेन कर लिया गया. हालात को देखते हुए दूतावास के सामने सुरक्षा बढ़ा दी गई है. पुलिस का कहना कि वैसे भी कोरोना महामारी के बीच किसी को इस तरह से प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी जा सकती है.

दूतावास के सामने जाकर यह बोले पूर्व सैनिक  

पूर्व सैनिक दूतावास के बाहर कल बॉर्डर पर हुई घटना के विरोध में ज्ञापन देने पहुंचे थे. इसी दौरान उन्होंने कहा कि जो कुछ भी एलएसी पर हो रहा है वो ठीक नहीं है. इस मामले को जल्द दोनों देशों को सुलझाना होगा. ख़ासतौर पर चीन की हरकत से चीजें काफ़ी बिगड़ गई है. अगर चीन ने गलती को नहीं सुधारा तो इसका करारा जवाब दिया जाएगा. पूर्व सैनिक आज भी दो-दो हाथ करने के लिए तैयार हैं. हम नौकरी से रिटायर हुए हैं, लेकिन हथियार चलाना नहीं भूले हैं. सरकार मौका दे तो आज ही उसी जगह जाकर चीन को उसकी भाषा में जवाब दे सकते हैं.



चीन के साथ​ हिंसक झड़प में शहीद हुए जवानों के नाम
बिहार रेजिमेंट -

- कर्नल बी संतोष बाबू

- नायब सूबेदार सतनाम सिंह

- नायब सूबेदार मनदीप सिंह

-नायब सूबेदार नंदू राम सोरेन

- नायब सूबेदार दीपक सिंह

- सिपाही कुंदन कुमार

- सिपाही अमन कुमार

- सिपाही चंदन कुमार

- सिपाही गणेश हजदा

- सिपाही गणेश राम

- सिपाही केके ओझा

- सिपाही राजेश ओराव

- सिपाही सीके प्रधान

- सिपाही सुनील कुमार

- ​सिपाही जय किशोर सिंह

81 एमपीएससी रेजिमेंट

- हवलदार सिपाही बिपुल रॉय

पंजाब रेजिमेंट

- सिपाही गुरुतेज सिंह

- सिपाही अंकुश

- सिपाही गुरुविंदर सिंह

81 फील्ड रेजिमेंट

- हवलदार के पलानी



ये भी पढ़ें:-

बिजनेसमैन ने बदमाशों को दी कत्ल की सुपारी, और कत्ल वाले दिन भेज दी अपनी ही तस्वीर, जानें क्यों

जब 1967 में गोलियां खत्म होने पर भारतीय सेना ने खुखरी से मौत के घाट उतारे चीनी सैनिक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading